Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

1998 चैंपियंस ट्रॉफी की भारतीय टीम: वे खिलाड़ी अब कहां हैं ?

Rahul Sharma
SENIOR ANALYST
Modified 28 May 2017, 17:15 IST
Advertisement
क्रिकेट के खेल को नए मुकाम पर लाने के लिए वर्ल्ड कप के बाद आईसीसी ने एक और बड़े टूर्नामेंट की तरफ रुख किया और 1998 में पहली बार विल्स इंटरनेशनल कप की शुरुआत की थी, जिसको अगले साल आईसीसी नॉकआउट कप से जाना जाने लगा और बाद में इस टूर्नामेंट का नाम आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी रख दिया गया। पहले टूर्नामेंट की शुरुआत बांग्लादेश में हुई जहाँ 9 टीमों ने हिस्सा लिया था। 1998 की चैंपियंस ट्रॉफी को दक्षिण अफ्रीका ने अपने नाम किया था। 1998 में भारतीय टीम का प्रदर्शन औसतन रहा था और सेमीफाइनल तक की राह भारतीय टीम ने देखी, जहाँ उसे वेस्ट इंडीज के हाथों हार का सामना करना पड़ा। आईये आपको दिखाते है, 1998 में चैंपियंस ट्रॉफी वाली भारतीय टीम के ख़िलाड़ी इस समय कहा है और अब उनके जीवन में क्या चल रहा है। सचिन तेंदुलकर विश्व क्रिकेट का सबसे बड़ा नाम सचिन तेंदुलकर, वह भारत के लिए 1998 चैंपियंस ट्रॉफी में सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलते थे। सचिन ने क्वार्टरफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक बनाया था और टीम को सेमीफाइनल तक पहुँचाया था। वेस्टइंडीज से भारत सेमीफाइनल मुकाबला हार गई थी। मास्टर ब्लास्टर ने अभी तक 5 चैंपियंस ट्रॉफी में भाग लिया और 2002 में उन्होंने इस ख़िताब को अपने नाम किया था। महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अभी इंडियन प्रीमियर लीग में टीम मुंबई इंडियंस के मेंटर के रूप में काम कर रहे है साथ ही इस महीने उनके जीवन पर बनी फिल्म भी प्रदर्शित हुई है। सौरव गांगुली पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने 1998 में भारत के लिए पहला बड़ा आईसीसी इवेंट खेला था। गांगुली ने उस टूर्नामेंट में 2 मैचों में केवल 84 रन ही बनाये थे, जिसमे 83 रनों की पारी उन्होंने सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली थी। जिस मैच को भारत हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गया था। सौरव गांगुली फ़िलहाल क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल के प्रधान हैं साथ ही वह भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के द्वारा बनाई गई सलाहकार समिति के भी सदस्य है। मोहम्मद अजहरुद्दीन भारतीय टीम के कप्तान के रूप में अजहरुद्दीन इस टूर्नामेंट में खेले थे, उन्होंने बल्लेबाज के रूप में बेहद खराब प्रदर्शन किया था। 2 मैचों में केवल एक ही रन बना पाए थे। इस टूर्नामेंट के बाद अजहरुद्दीन के केरियर पर विराम चिन्ह लगने लगा। इस चैंपियंस ट्रॉफी के बाद उन्होंने एक भी चैंपियंस ट्रॉफी में भाग नहीं लिया। वर्तमान में अजहरुद्दीन उत्तर प्रदेश के मोरादाबाद से सांसद के रूप में कार्य कर रहे है।
1 / 4 NEXT
Published 28 May 2017, 17:15 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit