Create
Notifications

अंडर-19 वर्ल्डकप-2006 की भारतीय टीम अब कहां है?

जितेंद्र तिवारी
visit

साल 2006 में भारतीय अंडर-19 टीम ने फाइनल में पाकिस्तान से खेलने से पहले सभी टीमों को टूर्नामेंट में धूल चटा दिया था। रविकांत शुक्ला की अगुवाई में भारतीय टीम का मुकाबला पाकिस्तान की सरफराज अहमद की टीम से कोलंबो में हुआ था। लेकिन पाकिस्तान ने भारतीय टीम को 37 रन से हराकर ट्राफी पर कब्जा किया था। हालाँकि पीयूष चावला और रविन्द्र जडेजा ने पाक को 109 रन पर रोक दिया था। लेकिन टीम इंडिया 71 रन पर ऑलआउट हो गयी थी। पूर्व भारतीय गेंदबाज़ वेंकटेश प्रसाद बतौर इस टीम के साथ जुड़े हुए थे। इस टीम के कई खिलाड़ियों ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया है। हालाँकि ज्यादतर बढ़े स्तर पर खुद को साबित नहीं कर पाए हैं। आइये जानें कहाँ हैं वह खिलाड़ी आजकल:

रोहित शर्मा

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/6 205 41 78 3
अंडर-19 वर्ल्डकप में रोहित शर्मा के बल्लेबाज़ी के आंकड़े

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
6/3 4 8.75 2/15 2.5
रोहित शर्मा के गेंदबाज़ी आंकड़े

साल 2006 की अंडर-19 भारतीय टीम के सबसे सफल खिलाड़ी रहे हैं। जो बड़े स्तर पर भी भारत के सफल क्रिकेटरों में से एक हैं। उन्होंने टूर्नामेंट में 41 के औसत से 6 पारियों में 205 रन बनाये थे। उसके बाद वह भारतीय टीम में आये। जहाँ वह 2007 टी-20 वर्ल्डकप में खेले और टीम विश्वविजेता बनी। आईपीएल में वह मुंबई इंडियंस के कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में टीम मुंबई दो बार चैंपियन भी बनी थी। साथ ही वह डेक्कन चार्जेज में थे तब एक बार वह भी चैंपियन बनी थी।

चेतेश्वर पुजारा

अंडर-19 के दिनों में पुजारा भारतीय टीम के रन मशीन हुआ करते थे। सौराष्ट्र के इस बल्लेबाज़ ने 117 के औसत से 6 पारियों में 349 रन बनाये थे। वह एक मात्र भारतीय थे जिन्होंने शतक बनाया था।उसके बाद वह घरेलू स्तर पर भी खूब रन बनाते रहे। मौजूदा समय में वह भारतीय टेस्ट टीम के अहम किरदार हैं। जहाँ वह तीन हजार से ज्यादा रन बना चुके हैं। उनका औसत 50 से ज्यादा का रहा है। आईपीएल में वह इस बार नहीं बिके हैं, लेकिन वह केकेआर, आरसीबी और किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल चुके हैं।

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/6 349 116.33 129* 3
पुजारा की बल्लेबाज़ी के आंकड़े

रविन्द्र जडेजा

रविन्द्र जडेजा एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 2006 और 2008 दोनों बार अंडर-19 टीम के लिए खेले हैं। भारत के लिए जडेजा ने 2009 में डेब्यू किया था। उसके साल भर बाद वह टेस्ट टीम भी आ गये। साल 2013 आईसीसी चैंपियंस ट्राफी जीतने वाली टीम के वह अभिन्न अंग थे। आईपीएल में जडेजा आरआर, कोच्ची टस्कर्स और सीएसके के लिए खेले हैं। मौजूदा समय में गुजरात लायंस में वह हैं।

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
4/4 34 17 14* 0
जडेजा की बल्लेबाज़ी के आंकड़े

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
4/3 4 14.50 3/16 3.05
जडेजा की गेंदबाज़ी के आंकड़े

पीयूष चावला

पीयूष चावला ने अंडर-19 विश्वकप में सबसे ज्यादा विकेट लिए थे। उसके एक महीने के बाद वह भारतीय टेस्ट टीम में इंग्लैंड खिलाफ अपना डेब्यू भी किये थे। साल 2007 टी-20 विजेता टीम में भी वह थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था। उसके बाद वह 2011 वर्ल्डकप विजेता टीम में भी शामिल थे। आईपीएल में वह पंजाब और कोलकाता के लिए खेले हैं। साथ ही वह इंग्लिश काउंटी ससेक्स और समरसेट के लिए भी खेल चुके हैं।

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/3 40 20 25* 0
चावला की बल्लेबाज़ी के आंकड़े

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
6/6 13 12।15 4/8 3।21
चावला की गेंदबाज़ी का आंकड़ा

शाहबाज़ नदीम

शाहबाज़ नदीम इस टूर्नामेंट में सिर्फ एक ही मैच खेल पाए थे। लेकिन 15 वर्ष की उम्र से वह झारखण्ड क्रिकेट से जुड़े रहे हैं। उन्होंने रणजी में लगातार दो सीजन में 50-50 विकेट लेकर अपने नाम रिकॉर्ड भी दर्ज कराया है। आईपीएल में वह दिल्ली के लिए खेलते हैं।

वी यो महेश

वी यो महेश ने अंडर-19 वर्ल्डकप में भारत की तरफ से दूसरे सबसे गेंदबाज़ रहे थे। उसके बाद वह भारत ए टीम में चयनित होकर केन्या खेलने भी गये थे। उनका घरेलू करियर तमिलनाडु की तरफ से बेहद अच्छा था। इसके अलावा वह आईपीएल में दिल्ली और चेन्नई टीमों में शामिल रहे। उन्होंने अपना अंतिम घरेलू मैच 2014 में खेला था।

देबब्रत दास

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/4 30 15 15* 0
दास की बल्लेबाज़ी का आंकड़ा

दास का प्रदर्शन बेहद निरशाजनक रहा था। लेकिन उन्होंने घरेलू स्तर पर बंगाल के लिए डेब्यू 2008 में किया था। टी-20 में उन्होंने आईपीएल की टीम केकेआर की तरफ से डेब्यू किया था। उनका प्रदर्शन भी शानदार रहा था। वह मौजूदा समय में बंगाल की टी-20 टीम की तरफ से खेलते हैं।

अबू निचेम अहमद

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
6/6 10 16.40 4/14 3.45
अबू निचेम का गेंदबाज़ी आंकड़ा

अंडर-19 विश्वकप में अबू ने इंग्लैंड के खिलाफ 14 रन देकर 4 विकेट लिए थे। माना जाता था कि भारतीय तेज गेंदबाज़ी के अगुआ बनेंगे। लेकिन वह आईसीएल में खेलने लगे थे। उसके बाद उन्होंने घरेलू स्तर पर असम की तरफ से क्रिकेट खेला और आईपीएल में वह मुंबई और आरसीबी के अहम खिलाड़ी भी रहे।

मोहनीश परमार

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
4/4 5 10 2/0 2.27
परमार की गेंदबाज़ी का आंकड़ा

मोहनीश परमार ने सौराष्ट्र के लिए अंडर-14 और अंडर-15 में खेला है। उसके बाद वह भारतीय अंडर-19 टीम में चयनित हो गये। जहां वह विश्वकप में भी खेले थे। गुजरात की टीम में भी वह जल्द ही शामिल हो गये थे। उन्होंने अपने दूसरे रणजी सीजन में 52 विकेट लिए थे। परमार का गेंदबाज़ी एक्शन श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन की तरह था। वह भारत ए के लिए भी खेल चुके हैं। जहाँ वह ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेले थे। आईपीएल में सौरव गांगुली के नेतृत्व में तीसरे सीजन में कई मैचों में खेले थे। हालाँकि उनके ऊपर संदिग्ध गेंदबाज़ी एक्शन की वजह से प्रतिबंध भी लगा था। उन्होंने अपना आखिरी मैच 2012 में खेला था।

पीनल शाह

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/2 16 8 16 0
शाह का बल्लेबाज़ी आंकड़ा

पीनल शाह साल 2006 के वर्ल्डकप में भारतीय टीम के विकेटकीपर थे। लेकिन टूर्नामेंट में उनकी बल्लेबाज़ी कोई खास नहीं थी। उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में 16 रन बनाये थे। पीनल शाह ने बाद में बड़ौदा के लिए डेब्यू किया था। वह अबतक 87 प्रथम श्रेणी, 40 लिस्ट ए और 54 टी-20 मैच खेल चुके हैं। आईपीएल में वह मुंबई और राजस्थान के लिए खेल चुके हैं।

गौरव धीमान

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/5 222 44.4 90 2
गौरव धीमान की बल्लेबाज़ी का आंकड़ा

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
6/4 4 13 3/27 4.72
धीमान की गेंदबाज़ी का आंकड़ा

गौरव धीमान भारत की तरफ से दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ थे। दिल्ली के इस क्रिकेटर ने घरेलू स्तर प्रभावी प्रदर्शन नहीं किया। इसलिए वह भारतीय टीम में नहीं शामिल हो पाए। कर्नाटक की तरफ वह रणजी खेलते रहे हैं। आईपीएल वह आरसीबी और केपीएल में बीजापुर की टीम से भी वह खेल चुके हैं। मौजूदा समय में वह क्लब क्रिकेट खेल रहे हैं।

मयंक तेहलान

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
4/4 97 32।33 64 1
मयंक तेहलान का बल्लेबाज़ी आकंडा

मयंक तेहलान के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम ने वर्ल्डकप 2006 में फाइनल तक का सफर तय किया था। तेहलान घरेलू स्तर पर दिल्ली के लिए खेले। जहाँ उन्होंने महाराष्ट्र के खिलाफ 403 गेंदों में 176 रन की बेहतरीन पारी खेली थी। लेकिन वह अपनी सफलता को आगे नहीं बढ़ा पाए। आईपीएल में वह 2008 में दिल्ली के लिए खेले थे। जहाँ उन्हें सिर्फ एक मैच खेलने को मिला था। उनका करियर ज्यादा नहीं बढ़ पाया। मौजूदा समय में वह अमेरिकी टीम शिकागो यूनाइटेड की तरफ से खेलते हैं।

सौरभ बेनदेकर

मैच/पारी विकेट औसत बेस्ट इकॉनमी
3/3 4 23 2/22 4.02
सौरभ बेनदेकर का गेंदबाज़ी आंकड़ा

मुंबई के ऑलराउंडर सौरभ ने अंडर-19 वर्ल्डकप में मात्र 3 मैच खेले थे। उसके बाद वह गोवा की तरफ से लगातार खेलते रहे हैं। आईपीएल में वह आरसीबी की टीम के सदस्य रह चुके हैं।

रविकांत शुक्ला

मैच/पारी रन औसत उच्च 50+ स्कोर
6/5 53 10.6 45 0
रविकांत का बल्लेबाज़ी आंकड़ा

भारतीय अंडर-19 टीम के कप्तान रहे रविकांत का प्रदर्शन टूर्नामेंट में प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। उन्होंने 5 मैचों में 53 रन बनाये थे। रविकांत घरेलू स्तर पर यूपी की तरफ से 2012 तक खेले थे। उसके बाद वह गोवा की टीम से खेलने लगे थे। वह इंडियन आयल की तरफ अभी खेलते हैं। जबकि घरेलू स्तर पर वह 2014 में आखिरी बार खेले हैं।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now