Create
Notifications

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के लिए भारत का आदर्श बल्लेबाजी क्रम ऐसा होना चाहिए

CONTRIBUTOR
Modified 19 Jan 2017

भारतीय टीम फ़िलहाल शानदार लय में नजर आ रही है और वह क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है, मगर 2017 चैंपियंस ट्रॉफी से पहले टीम प्रबंधन को कई फैसले लेना है ताकि टीम संतुलित हो और अपने ख़िताब की रक्षा कर सके। इनमे से प्रमुख मसले हैं क्या एमएस धोनी को अभी भी भारत के नंबर-1 विकेटकीपर के रूप में बरक़रार रखना है जबकि ऋषभ पंत जैसा युवा खिलाड़ी उसके पास है? क्या युवराज सिंह को टीम में बनाए रखना है? अजिंक्य रहाणे का टीम कैसे इस्तेमाल करेगी? तेज गेंदबाजों और स्पिनरों का संयोजन कैसा होगा आदि। टीम के सामने कई प्रश्न खड़े है, लेकिन सबसे प्रमुख है बल्लेबाजी क्रम का स्थायी होना। वन-डे क्रिकेट में होने वाली मेहनत को देखते हुए भी भारतीय टीम के पास बल्लेबाजी क्रम के लिए बहुत ही कड़ी स्पर्धी विकल्प मौजूद हैं। पिछले 18 महीनो में भारत ने कम सीमित ओवर के मैच खेले हैं और इसके चलते यह संकेत नहीं मिल सके है कि कौन टीम में अपनी सुनिश्चित कर पाएगा और कौन नहीं। यहां हमने कुछ ऐसे खिलाड़ियों का चयन किया है जो चैंपियंस ट्रॉफी के लिए आदर्श बल्लेबाजी क्रम बनाने में मददगार साबित हो सकते हैं :


ओपनर्स

champions rohitdhawan

रोहित शर्मा - टीम प्रबंधन मुंबई के बल्लेबाज को आजमा सकती है। जहां खेल के लंबे प्रारूप में दाएं हाथ के बल्लेबाज की काबिलियत पर हमेशा सवाल खड़े होते आए हैं, वहीं 50 ओवर में प्रारूप में वह स्टार खिलाड़ी माने जाते हैं। यह ऐसा प्रारूप है जहां उन्होंने बहुत ही कम समय में अधिक उपलब्धियां हासिल की हैं। उन्होंने दो दोहरे शतक जमाकर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज कराया। फ़िलहाल जांघ में चोट के कारण वह टीम से बाहर है, लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी से पहले टीम में उनकी वापसी की उम्मीद है। एकमात्र चिंता उनकी मैच फिटनेस है, लेकिन टीम को उम्मीद होगी कि आईपीएल में खेलने से वह अपनी नैसर्गिक लय में लौट आएंगे। शिखर धवन
- कई आलोचनाओं का सामना करने के बावजूद धवन कई वर्षों से साबित करते आए हैं कि वह बड़े मैच के खिलाड़ी हैं। वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें प्रदर्शन करने के लिए बड़े मंच की जरुरत है और फ़िलहाल 2017 चैंपियंस ट्रॉफी से बढ़कर उन्हें कोई प्लेटफॉर्म नहीं मिल सकता। आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों के साथ ही एशिया कप में धवन का करियर औसत 60।43 रहा जो उनके पूरे करियर औसत 46।36 की तुलना में काफी बेहतर है। इंग्लैंड एंड वेल्स के आयोजित चैंपियंस ट्रॉफी के पिछले संस्करण में धवन भारतीय टीम के हीरो साबित हुए थे और उन्होंने कई रन बनाए थे, जिसकी वजह से उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया था। धवन कई वर्षों से रोहित के साथ खेलते आए हैं और वह शीर्ष क्रम पर बाएं व दाएं हाथ का अच्छा संयोजन बनाते हैं। जो खिलाड़ी जगह बनाने से चूक सकते हैं - अजिंक्य रहाणे, लोकेश राहुल
1 / 3 NEXT
Published 19 Jan 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now