Create
Notifications

ये है मजबूत भारतीय एकादश, जब हर खिलाड़ी फिट हो

जितेंद्र तिवारी
visit

हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम एक मंदिर गयी थी, जहां शायद उन्होंने अपने चोटिल खिलाड़ियों के फिट होने की कामना की हो। क्योंकि बीते दो टेस्ट मैचों में टीम इंडिया बेहतर कॉम्बिनेशन के साथ मैदान में नहीं उतर पा रही है। विराट कोहली की कप्तानी के आंकड़ें काफी दिलचस्प हैं, लेकिन लगातार दो टेस्ट में उनकी टीम में अंतिम 11 खिलाड़ियों में बदलाव देखने को नजर आया है। ये बदलाव चोटिल खिलाड़ियों की वजह से देखने को मिले हैं। पिछले दिनों रोहित शर्मा, केएल राहुल, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार, रिद्धिमान साहा और इशांत शर्मा चोटिल हुए हैं। इन खिलाड़ियों के चोटिल होने से टीम इंडिया को मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। इनकी जगह पर टीम में गौतम गंभीर, पार्थिव पटेल और करुण नायर टीम में शामिल किये जा चुके हैं। लेकिन अगर ये सभी खिलाड़ी फिट हों तो कप्तान विराट कोहली के मजबूत भारतीय एकादश कुछ इस तरह से चुन सकते हैं: ये रही लिस्ट: मुरली विजय मुरली विजय का प्रदर्शन बीते कुछ सालों से काफी बेहतरीन रहा है, जिसकी वजह से टीम में उनकी जगह पक्की मानी जाएगी। उन्होंने खुद को सभी परिस्थितिओं में साबित किया है। इसके अलावा वह सभी सलामी बल्लेबाजों के साथ खुद को ढाल लेते हैं। उनकी आलोचना सिर्फ इसलिए होती है क्योंकि वह ज्यादा शतक नहीं बना पाते हैं। केएल राहुल कर्नाटक के उदीयमान बल्लेबाज़ केएल राहुल ने अपने डेब्यू मैच से खुद को साबित किया है कि वह अंतर्राष्ट्रीय स्तर के बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं। सभी प्रारूपों में राहुल ने अच्छा खेल दिखाया है। उन्होंने टेस्ट में अपनी तकनीकी क्षमता को भी साबित किया है। इसके अलावा वह आक्रामक बल्लेबाज़ी भी करते हैं। हालांकि उनकी चोट उन्हें परेशान करती रही है। शिखर धवन, गौतम गंभीर सलामी बल्लेबाज़ी से बाहर रहेंगे। चेतेश्वर पुजारा साल 2014-15 में पुजारा की खराब फॉर्म ने उन्हें टेस्ट टीम से बाहर करवा दिया था। लेकिन पुजारा लम्बे फॉर्मेट के बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं। इस सीजन के दिलीप ट्राफी में उन्होंने खुद को साबित किया। जहां से उन्होंने लगातार भारतीय टीम के लिए रन बनाये हैं। हालांकि उन्हें अपनी रनिंग बिटवीन द विकेट को सही करना होगा। विराट कोहली साल 2016 के आईसीसी क्रिकेटर ऑफ़ द इयर अवार्ड अगर विराट कोहली को नहीं मिलता है , तो ये एक जुर्म होगा। भारतीय कप्तान ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में शानदार खेल दिखाया है। बीते कुछ महीनों से वह टेस्ट में भी शानदार खिलाड़ी बन गये हैं। जहां वह शतक पर शतक ठोंके जा रहे हैं। उनकी आलोचना असम्भव है! अजिंक्य रहाणे बीते कुछ दिनों से महारष्ट्र के इस बल्लेबाज़ की फॉर्म खराब है। इंग्लैंड के साथ जारी सीरिज में रहाणे की खराब फॉर्म भारतीय टीम के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। हालांकि उनका टेस्ट में रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है। हालांकि हमें उनकी खराब फॉर्म की ज्यादा चिंता नहीं करनी चाहिए। रोहित शर्मा और करुण नायर को बाहर बैठना पड़ सकता है। आर अश्विन टेस्ट क्रिकेट में आर अश्विन भारत के सबसे अनमोल खिलाड़ी हैं। बीते कुछ महीनों से अश्विन गेंदबाज़ी के साथ बल्लेबाज़ी में भी जबरदस्त फॉर्म में हैं। वह लगातार ट्राफी जीतते जा रहे हैं और टीम को भी जिताते जा रहे हैं। वह साहा से पहले बल्लेबाज़ी करने भी आते हैं। रिद्धिमान साहा चोटिल साहा की जगह पार्थिव पटेल को पिछले टेस्ट मैच में जगह दी गयी थी। लेकिन धोनी के जाने के बाद साहा ने विकेट के पीछे और आगे लगातार बेहतरीन प्रदर्शन करते रहे हैं। उन्होंने भारतीय विकेटों की बाउंस और स्पिन को अच्छे से संभाला है। पार्थिव पटेल बाहर रह सकते हैं। रविन्द्र जडेजा जडेजा भारत के लिए लगातार अच्छा खेल रहे हैं। वह लगातार गेंदबाज़ी करते रहते हैं। इसके अलावा वह बल्लेबाजों पर हमेशा दबाव बनाने की कोशिश करते रहते हैं और इसमें कामयाब भी हुए हैं। इसके अलावा हाल ही में उन्होंने बल्ले से भी अपना प्रदर्शन दिखाया है। साथ ही वह दुनिया के बेहतरीन फील्डरों में से एक हैं। जयंत यादव जयंत यादव हाल ही में खोजे गये भारतीय प्रतिभा हैं। उनकी शांत छवि उन्हें बेहतरीन टेस्ट क्रिकेटर बनाती है। इसके अलावा उनकी बल्लेबाज़ी से टीम में गहराई आती है। उनके बेहतरीन प्रदर्शन से आने वाले समय में भारतीय क्रिकेट को एक अच्छा खिलाड़ी मिल सकता है। हार्दिक पांड्या टीम से बाहर बिठाये जा सकते हैं। भुवनेश्वर कुमार भारतीय स्विंग गेंदबाज़ी के अगुहा भुवनेश्वर कुमार दुनिया में किसी भी कोने में गेंद को स्विंग कराने की क्षमता रखते हैं। जो बल्लेबाजों के लिए घातक साबित हो सकता है। इसके अलावा वह टीम आखिरी 10वें नम्बर पर भी बल्लेबाज़ी का सहारा देने में कामयाब रहे हैं। मोहम्मद शमी मोहम्मद शमी चोट की वजह से 18 महीने तक क्रिकेट से दूर रहे हैं। लेकिन जबसे उन्होंने टीम में वापसी की है उनका प्रदर्शन लगातार अच्छा रहा है। गेंद पुरानी हो या नई शमी दोनों से प्रभावित करते हैं। हाल ही में उन्होंने इंग्लैंड के कप्तान का स्टंप भी तोड़ दिया था। इशांत शर्मा, उमेश यादव और अमित मिश्रा अंतिम एकादश से बाहर रह सकते हैं।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now