आईपीएल 2016: रिकॉर्डतोड़ पार्टनरशिप के दौरान कोहली और डीविलियर्स में हुई थी ये बातचीत

रॉयल चैलेेंजर्स बैंगलोर के लिए कल हुए मैच में विराट कोहली और डीविलियर्स के बीच 229 रन की रिकॉर्ड साझेदारी हुई। इस मैच को आरसीबी ने 144 रन से अपने नाम किया। दोनों ही खिलाड़ियों ने बताया कि इस साझेदारी के दौरान दोनों में क्या बातचीत हुई। इस पार्टनरशिप के दौरान 20 छक्के और 15 छक्के लगे थे। डीविलियर्स ने 52 बॉल में नाबाद 129 और विराट कोहली ने 55 बॉल में नाबाद 109 रन बनाए। इस साझेदारी की शुरुआत में एबी काफी आक्रामक लगे। उन्होंने मैच के 16वें ओवर में 43 गेंद पर अपना शतक पूरा किया। कोहली का सैंचुरी लगाना काफी मुश्किल लग रहा था क्योंकि उन्होंने 40 बॉल में 51 रन बनाए। विराट कोहली ने 18वें ओवर की शुरुआती 4 गेंदों में 13 रन बटोरे। उसके बाद उन्होंने 19वें ओवर में 4 छक्के और 1 बाउंड्री लगाई, जिसकी बदौलत वो 95 पर जा पहुंचे। फैंस के तरह एबी को भी उम्मीद थी कि विराट शतक लगाएंगे। उन्होंने विराट कोहली के पास जाकर कहा कि तुम्हारे पास सैंचुरी लगाने का मौका है। विराट कोहली ने कहा, "मैंने जब शिविल कौशिक की गेंद पर 3 छक्के लगाए तो एबी ने मेरे पास आकर कहा कि क्या तुम वही सोच रहे हो जो मैं सोच रहा हूं। मैंने कहा शांत रहो, मुझे इस बारे में कुछ नहीं सुनना। मैं शांत रहा, शॉट्स मारना जारी रखा और सैंचुरी पूरी की। विराट कोहली एक आईपीएल सीजन में 3 शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। एबी डीविलियर्स एक लेजेंड हैं: कोहली विराट कोहली अपने शतक से कहीं ज्यादा एबी डीविलियर्स के शतक से ज्यादा इम्प्रेस हुए। उन्होंने एबी की खूब तारीफ की। "एक टीम के तौर पर हम क्या हासिल करना चाहते हैं, ऐसे में मेरा शतक कोई मायने नहीं रखता। एबी के साथ बल्लेबाजी करना हमेशा शानदार होता है। यह एक अच्छी साझेदारी रही। मुझे एबी की वजह से काफी कॉन्फिडेंस मिला। मैंने धीमी शुरुआत की, लेकिन उन्होंने शुरु से ही ताबड़तोड़ खेल दिखाया"। अपनी पारी को लेकर एबी ने कहा, "मेरी इस पारी का एक ही राज है, मेरी बीवी आज मैच देखने आई हुई थी"। एबी डीविलियर्स ने आरसीबी के कप्तान विराट कोहली की तारीफ की। एबी ने कहा कि उन्हें डॉट बॉल खेलना पसंद नहीं है। जडेजा ने उन्होंने 9 डॉट बॉल फेंकी थी। "विराट कोहली के साथ बल्लेबाजी करना काफी सुखद अनुभव है। मेरी उम्र 32 साल हो गई है, विराट मुझसे ज्यादा फिट हैं। शुरुआत में बल्लेबाजी करना इतना आसान नहीं था"।

Edited by Staff Editor