Create
Notifications

12 साल के लड़के की सलाह से हैट्रिक लेने में कामयाब हुए जयदेव उनाडकट

Abhishek Tiwary
visit

क्रिकेट की शुरुआत के 140 वर्षों बाद भी हैट्रिक की विशेषता अपने आप में खास है। टी20 प्रारूप में भले ही बल्ले चौड़े हो गए और बाउंड्री छोटी हो गई हो, लेकिन तीन गेंदों में लगातार तीन विकेट लेना दुर्लभ उपलब्धि ही है। आईपीएल ने 10 सीजन में अब तक 17 हैट्रिक देखी हैं, जिसमें से हाल ही में राइजिंग पुणे सुपरजायंट के जयदेव उनाडकट का नाम इस सूची में शामिल हुआ। हालांकि, जयदेव उनाडकट की हैट्रिक लेने का श्रेय 12 साल के लड़के के उन शब्दों को जाता है, जिन्होंने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज को यह उपलब्धि हासिल करने के लिए प्रेरित किया। युवा ओमकार पुणे में अपंग कल्याणकारी शिक्षण संस्था के स्टूडेंट हैं और वह उन बच्चों में से एक हैं, जिन्हें जयदेव उनाडकट और उनके टीम के साथियों स्टीव स्मिथ और फाफ डू प्लेसी से 28 अप्रैल को मिलने का मौका मिला। इसके एक सप्ताह के बाद ही उनाडकट ने हैट्रिक लेने का कारनामा किया। पुणे में मुकुल माधव फाउंडेशन, फिनोलेक्स पाइप्स और गल्फ द्वारा आयोजित इवेन्ट से पहले स्टूडेंट्स को राइजिंग पुणे सुपरजायंट के टीम सदस्यों के लिए मेसेज रिकॉर्ड करने के लिए कहा गया। ओमकार ने बेझिझक अपने विचार साझा करते हुए उनाडकट को सलाह दी। बता दें कि एपीएसएस एक संस्था है जो शहर में विशेष दिव्यांग बच्चों की पढ़ाई के लिए काम करती है। उन्हें फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज लिमिटेड और मुकुल माधव फाउंडेशन से समर्थन प्राप्त है। उनाडकट के अपने इन्स्टाग्राम हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें बच्चे ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज से क्रॉस-सीम गेंदे डालकर ज्यादा विकेट लेने की बात कही और हैट्रिक लेने के लिए भी कहा। उन्हें शायद ही इस बात का आईडिया हो कि पुणे की तिकड़ी खिलाड़ियों ने सभी सलाह को ध्यान से सुना। इसके बाद क्रिकेटरों ने बच्चों के स्कूल जाकर उन्हें आश्चर्यचकित कर दिया। फिर क्रिकेटरों ने बच्चों के सामने उनके मेसेज वीडियो रीप्ले किये। ओमकार का वीडियो पूरा होने के बाद उनाडकट ने उन्हें स्टेज पर बुलाया और पूछा कि क्या वो सच में चाहते हैं कि क्रॉस सीम गेंदे डालूं तो 12 वर्षीय ओमकार ने कहा कि बिलकुल। एक सप्ताह के बाद उनाडकट ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ हैट्रिक ली, उन्होंने क्रॉस-सीम गेंदे कई बार फेंकी जिसकी सलाह उन्हें युवा फैन से मिली थी। उनाडकट आईपीएल इतिहास के तीसरे गेंदबाज हैं, जिन्होंने हैट्रिक लेने के साथ ही पूरा ओवर मेडन किया हो। उनसे पहले लसिथ मलिंगा और सैमुअल बद्री भी ऐसा कर चुके हैं। हैदराबाद को अंतिम ओवर में 13 रन की दरकार थी, तब आखिरी ओवर उनाडकट करने आये। उन्होंने बिपुल शर्मा, भुवनेश्वर कुमार और राशिद खान को अपना हैट्रिक का शिकार बनाया। उस शाम, आईपीएल में उनाडकट ने शानदार हैट्रिक ली और एक युवा लड़के की ख्वाहिश पूरी हुई। आप वो पूरा वीडियो यहां देख सकते हैं :

youtube-cover

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now