Create
Notifications

IPL 2017: 5 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें आरसीबी जरुर खरीदना चाहेगी

सावन गुप्ता
visit

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को आईपीएल में साउथ अफ्रीका जैसी टीम माना जाता है। हर साल आईपीएल में सबकी निगाहें आरसीबी पर लगी होती हैं। विराट कोहली, क्रिस गेल, एबी डिविलियर्स और शेन वॉटसन जैसे दिग्गज बल्लेबाज टीम में हैं। लेकिन अब तक टीम कोई भी आईपीएल नहीं जीत सकी है। जिस तरह वर्ल्ड क्रिकेट में साउथ अफ्रीका के ऊपर 'चोकर्स' का ठप्पा लगा हुआ है, ठीक उसी तरह आरसीबी भी आईपीएल में फाइनल में आकर ढेर हो जाती है। अब तक 3 बार टीम आईपीएल के फाइनल में पहुंची है लेकिन हर बार उसे हार का सामना करना पड़ा है। आरसीबी ने आईपीएल में कई रिकॉर्ड तोड़े और बनाए हैं लेकिन ट्रॉफी अब भी उनसे दूर है। विराट कोहली इस सीजन में इस सूखे को जरुर दूर करना चाहेंगे, इसलिए उनकी निगाह इस बार की नीलामी में मैच जिताऊ प्लेयरों के खरीदने पर होगी। आरसीबी के पास जहां एक तरफ विस्फोटक बल्लेबाज हैं वहीं दूसरी तरफ मिचेल स्टार्क के रुप में बेहतरीन गेंदबाज भी है। हालांकि स्टार्क के अलावा टीम के पास अच्छे गेंदबाजों की कमी है। यही वजह है कि टीम गेंदबाजी में आकर मात खा जाती है। आरसीबी इस बार की नीलामी में कुछ अच्छे तेज गेंदबाजों को जरुर खरीदना चाहेगी। आइए जानते हैं कौन से वो खिलाड़ी हो सकते हैं, जिन पर आरसीबी की नजर होगी। 5.इशांत शर्मा 2 करोड़ बेस प्राइज होने के बावजूद आरसीबी की नजर इशांत शर्मा पर होगी। बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच में शानदार गेंदबाजी कर इशांत ने अपने फॉर्म में आने का संकेत दे दिया है। हालांकि क्रिकेट के जानकार उन्हें सीमित ओवरों का अच्छा गेंदबाज नहीं मानते हैं फिर भी वो टीम के लिए तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं। इशांत के पास तेजी है और वैरिएशन है। इसलिए वो आरसीबी के लिए अच्छे विकल्प साबित हो सकते हैं। इशांत ने अब तक 70 आईपीएल मैचों में 59 विकेट चटकाए हैं। उनका बेस्ट बॉलिंग प्रदर्शन 12 रन देकर 5 विकेट है जो कि उन्होंने 2011 में किया था। हालांकि उनकी इकॉनामी और औसत उतना ज्यादा अच्छा नहीं है, लेकिन कोहली उनको अच्छे तरीके से यूज कर सकते हैं। कोहली टेस्ट टीम के कप्तान हैं और इशांत की गेंदबाजी को अच्छी तरह से जानते हैं। जहां तक भारतीय तेज गेंदबाजों की बात है आरसीबी के पास इस वक्त हर्षल पटेल, श्रीनाथ अरविंद और एक अनकैप्ड खिलाड़ी अवेश खान हैं। वरुण एरोन और अबू नचीम को रिलीज करने के बाद इशांत आरसीबी की टीम में फिट बैठते हैं। 4. मोहम्मद नबी nabi आरसीबी ने परवेज रसूल को रिलीज कर दिया है इसलिए टीम के पास ऐसे ऑलराउंडर की कमी है जो बल्लेबाजी के साथ स्पिन गेंदबाजी भी कर सके। स्पिन डिपार्टमेंट में टीम काफी हद तक युजवेंद्र चहल पर ही निर्भर है। इसलिए टीम कुछ और स्पिनरों को टीम में शामिल करना चाहेगी। अफगानिस्तान के खिलाड़ी मोहम्मद नबी आरसीबी की इस जरुरत को पूरा कर सकते हैं। नबी अनुभवी खिलाड़ी हैं, वो अच्छी बल्लेबाजी के साथ अच्छी ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी कर सकते हैं। नबी ने 52 टी-20 मैचों में 704 रन बनाए हैं और 23.30 की औसत से 56 विकेट भी चटकाए हैं। टी-20 के हिसाब से अगर देखें तो उनकी 6.96 की इकॉनामी काफी बेहतर है। आरसीबी को ऐसे गेंदबाजों की जरुरत है जो कि कम रन खर्चे, ऐसे में नबी अच्छे विकल्प हो सकते हैं। हालांकि प्लेइंग इलेवन में उनको खिलाना आरसीबी के लिए चुनौती भरा काम होगा, क्योंकि टीम के पास 4 अच्छे विदेशी खिलाड़ी पहले से ही मौजूद हैं। 3. पवन नेगी pawan-negi-1487148517-800 स्पिन ऑलराउंडर के तौर पर पवन नेगी भी एक अच्छा विकल्प हैं। नेगी इससे पहले चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेल चुके हैं। पिछले साल की नीलामी में दिल्ली डेयरडेविल्स ने 8.5 करोड़ की भारी भरकम रकम के साथ उनको खरीदा था। इससे पता चलता है कि फटाफट क्रिकेट में उनकी क्या अहमियत है। हालांकि पिछले सीजन में वो फ्लॉप रहे थे। इसलिए शायद इस सीजन दिल्ली ने उन्हे रिलीज कर दिया। हालांकि चेन्नई की तरफ से खेलते हुए नेगी ने आईपीएल में कई यादगार पारियां खेली हैं। वहीं गेंदबाजी में भी वो उपयोगी साबित हुए हैं। नेगी धोनी की कप्तानी में खेल चुके हैं ऐसे में कोहली की नजर उन पर जरुर होगी। आरसीबी अपने 4 दमदार विदेशी खिलाड़ियों से कोई छेड़छाड़ नहीं करना चाहेगी। इसलिए स्पिन ऑलराउंड के तौर पर पवन नेगी टीम में फिट बैठते हैं। वो स्टुअर्ट बिन्नी या फिर किसी दूसरे सीमर्स की जगह ले सकते हैं। चहल के साथ नेगी की जोड़ी अच्छी बन सकती है। इससे टीम के स्पिन डिपार्टमेंट को मजबूती मिलेगी। 2. जेसन रॉय jason इंग्लैंड के जेसन रॉय काफी विस्फोटक बल्लेबाज हैं। हाल ही में भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज में उन्होंने काफी धुंआधार बैटिंग की थी। इससे पता चलता है कि वो भारतीय पिचों पर भी कितने खतरनाक बल्लेबाज हैं। सीमित ओवरों के खेल में उनके बिना इंग्लैंड की टीम अधूरी लगती है। 4 विदेशी खिलाड़ियों के नियम के कारण अगर डिविलियर्स और वाटसन अंतिम 11 में रहते हैं तो जेसन रॉय की जगह मुश्किल हो सकती है। लेकिन साउथ अफ्रीकन क्रिकेट बोर्ड अगर चैंपियंस ट्रॉफी की तैयारियों के लिए डिविलियर्स को बीच टूर्नामेंट से बुला लेता है तो अंतिम 11 में जेसन रॉय की जगह बन जाएगी। वहीं अगर डिविलियर्स पूरा आईपीएल खेलते भी हैं तो क्रिस गेल जिस तरह से अपनी फिटनेस और फॉर्म को लेकर अंदर-बाहर होते रहते हैं उससे भी रॉय को मौका मिल सकता है। रॉय के टीम में होने से आरसीबी को एक फायदा ये भी होगा कि तब क्रिस गेल पर बेहतर प्रदर्शन करने का दबाव रहेगा। क्योंकि गेल का अच्छा प्रदर्शन ना करने पर जेसन रॉय तुरंत उनकी जगह ले लेंगे। 1.बेन स्टोक्स ben-stokes-1487149212-800 भारत दौरे पर भले ही इंग्लैंड की टीम एक भी सीरीज ना जीत पाई हो, लेकिन हर सीरीज में बेन स्टोक्स का व्यक्तिगत प्रदर्शन काफी अच्छा रहा। बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों ही विभाग में स्टोक्स ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। कई बार सीरीज में उन्होंने इंग्लिश टीम को मुश्किल हालात से बाहर निकाला। पूरे दौर पर उनके और भारतीय कप्तान कोहली के बीच एक गजब का संघर्ष देखने को मिला। शायद यही वजह है कि कोहली ने खुद ये बात कही है कि स्टोक्स आरसीबी के लिए अच्छे खिलाड़ी साबित हो सकते हैं। तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर में आरसीबी की टीम इस वक्त पूरी तरह शेन वॉटसन पर निर्भर है। लेकिन वॉटसन की उम्र ज्यादा होने और हाल के दिनों में टी-20 में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने की वजह से स्टोक्स अच्छे विकल्प हो सकते हैं। स्टोक्स अंतिम 11 में वॉटसन की जगह पर खेल सकते हैं। हालांकि वो वॉटसन की तरह आक्रामक पारी भले ही ना खेल पाएं लेकिन टीम के लिए एक उपयोगी बल्लेबाज जरुर साबित हो सकते हैं। कप्तान कोहली की तरह स्टोक्स भी काफी आक्रामक एट्टीट्यूड रखते हैं ऐसे में कोहली उनको जरुर अपनी टीम में शामिल करने की कोशिश करेंगे। लेखक-रोहित संकर अनुवादक-सावन गुप्ता

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now