Create
Notifications

IPL 2017: राइजिंग पुणे सुपरजायंट-दिल्ली डेयरडेविल्स के मैच में बना अनोखा रिकॉर्ड

Rahul
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018
राइजिंग पुणे सुपरजायंट और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच खेले गए मुकाबले में दिल्ली ने मैच जीतने के साथ एक अद्भुत कारनामा भी कर दिखाया जो आईपीएल के 10 साल के सफ़र में आज तक नहीं हुआ था। पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने पुणे के सामने 206 रनों का लक्ष्य रखा लेकिन पुणे की टीम केवल 108 रन बनाकर ऑल आउट हो गयी। सभी बल्लेबाजों ने अपना विकेट कैच के रूप में दिया और ये रिकॉर्ड आईपीएल में पहली बार और टी20 मैचों में 10वीं बार बना। इस मैच को संजू सैमसन के शानदार शतक के लिए याद किया जायेगा, साथ में इमरान ताहिर के द्वारा की गयी उनकी पुरानी टीम के खिलाफ लाजवाब गेंदबाजी के लिए भी, लेकिन आईपीएल के इतिहास में अनेकों रिकॉर्ड्स हर दिन बनते हैं और टूटते हैं और इस प्रकार के रिकॉर्ड्स सालों में बनते हैं। ये रिकॉर्ड भी पहली बार ही आईपीएल के इतिहास में बना है जहां पर किसी भी टीम के सभी ख़िलाड़ी ने कैच आउट होकर पवेलियन का रास्ता तय किया हो। कैसे और किसने लिए सभी कैच शानदार शतक के साथ पुणे की पारी का पहला कैच अजिंक्य रहाणे का संजू सैमसन ने ही पकड़ा। उसके बाद मयंक को मॉरिस ने फ़ाईन लेग पर पकड़ा और राहुल त्रिपाठी को नदीम ने कैच किया। 54-5 का स्कोर होने से पहले अपना पहला मैच खेल रहे डू प्लेसी और बेन स्टोक्स को विकेट के पीछे ऋषभ पन्त ने कैच किया। अमित मिश्रा ने धोनी के द्वारा लगाया गया हेलीकाप्टर शॉट को मिड विकेट पर कैच करा दिया। उसके बाद रजत भाटिया ने मॉरिस को दूसरा कैच थमा दिया। आखिर में ऋषभ पन्त, सैमसन और मिश्रा ने दीपक, ज़म्पा और डिंडा का कैच पकड़ा। दिल्ली ने पुणे को 97 रनों से हराकर आईपीएल में पहला मैच जीता। दिल्ली डेयरडेविल्स का अगला मुकाबला 15 अप्रैल को दिल्ली में पंजाब के साथ होगा और पुणे का मुकाबला गुजरात लायंस के साथ 14 अप्रैल को राजकोट में खेला जायेगा|
Published 12 Apr 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now