Create
Notifications

IPL 2017: मुंबई इंडियंस के खिलाफ कोलकाता नाइटराइडर्स की संभावित एकादश

Naveen Sharma
visit

आईपीएल में लीग मेच अंतिम चरण में चल रहे हैं और प्लेऑफ़ का समय नजदीक आता जा रहा है। प्लेऑफ़ में पहुँचने के लिए विभिन्न टीमों में काफी कड़ा मुकाबला भी देखने को मिल रहा है। कोलकाता नाइटराइडर्स और मुंबई इंडियंस के बीच शनिवार को ईडन गार्डंस में मुकाबला होना है। मुंबई की टीम 18 अंकों के साथ पहले ही प्लेऑफ़ में पहुंच चुकी है, वहीँ केकेआर ने भी सफ़र लगभग तय कर लिया है। केकेआर को इस मैच में घरेलू दर्शकों के सामने उतरना है। उनके 13 मैचों में 8 जीत के साथ 16 अंक है और तालिका में मुंबई के बाद दूसरा स्थान है। रन रेट के लिहाज से भी देखा जाए तो कोलकाता की टीम इसमें भी मजबूती के साथ खड़ी दिखाई दे रही है। यह देखना दिलचस्प होगा कि मुंबई के खिलाफ उनके कप्तान गौतम गम्भीर किन ग्यारह खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उतरते हैं। क्रिस लिन: टॉप क्रम में इस बल्लेबाज की धुआंधार बल्लेबाजी ने कई बार टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने का काम किया है, केकेआर के लिए लिन फायदेमंद साबित हो रहे हैं। बीच में कंधे की चोट के कारण कुछ मैचों से बाहर रहे लिन ने वापस आते ही आरसीबी के खिलाफ धमाकेदार पारी खेल वही फॉर्म दर्शाई थी। सुनील नारेन: आईपीएल में विपक्षी टीमों के लिए नारेन की गेंदबाजी सिरदर्द रही है। इस वर्ष उन्होंने बल्ले से विस्फोट करते हुए दोतरफा खौफ पैदा किया है। शुरुआत में आकर ताबड़तोड़ हिटिंग कर केकेआर को एक शानदार मोमेंटम प्रदान करने का काम इस वेस्टइंडीज के खिलाड़ी ने बखूबी किया है। गौतम गंभीर (कप्तान): नाइटराइडर्स के कप्तान के लिए बल्ले से यह सीजन अच्छा रहा है। अब तक उन्होंने 13 मैचों में 433 रन बनाए हैं। उनकी बल्लेबाजी में कुछ पारियां ऐसी भी निकली है जिससे फैन्स ने उन्हें चैंपियंस ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया में शामिल करने की मांग तक कर डाली। उनकी नजरें टीम को तीसरी बार खिताब दिलाने पर होगी। रॉबिन उथप्पा: उथप्पा को अपने इच्छित क्रम पर बल्लेबाजी नहीं मिले लेकिन वे किसी भी स्थान पर खेलते हुए गेंदबाजों पर आक्रमण करने की क्षमता रखते हैं। प्लेऑफ़ के मैचों में भी उनसे इसी प्रकार के प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी। उनका फॉर्म इस संस्करण में बेहद उम्दा रहा है। मनीष पांडे: मध्यक्रम में कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए श्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक माने जाते हैं। पांडे प्लेऑफ़ से पहले घरेलू दर्शकों के सामने एक बड़ी पारी खेलते हुए लीग मैच प्रतियोगिता का अंत करना चाहेंगे। कॉलिन डी ग्रैंडहोम: न्यूजीलैंड का यह खिलाड़ी बल्ले की बजाय गेंद से बेहतर रहा है। आरसीबी के खिलाफ उन्हें बल्लेबाजी के लिया ऊपर भेजा गया था लेकिन वे इस मौके को भुना नहीं सके थे। अगर शनिवार को एक बार फिर उन्हें मैका मिलता है, तो वे कुछ बड़ा जरुर करना चाहेंगे। युसूफ पठान: इस ऑलराउंडर ने अब तक अपने बल्ले से थोड़ा योगदान जरुर दिया है लेकिन अपने नाम के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। 2014 में उन्होंने जिस प्रकार का खेल दिखाया था, वैसा अभी तक देखने को नहीं मिला है। शनिवार को मुंबई के खिलाफ इस बल्लेबाज की नजरें भी अच्छे प्रदर्शन पर रहेगी। क्रिस वोक्स: इस इंग्लिश खिलाड़ी का बल्ले की बजाय गेंद से प्रदर्शन अच्छा रहा है। शनिवार को मुंबई इंडियंस जैसी मजबूत टीम के खिलाफ गंभीर उन्हें एक बार फिर मौका देना चाहेंगे। पियूष चावला: इस खिलाड़ी को रोहित शर्मा जैसे बल्लेबाज को जल्दी मैदान से बाहर भेजने की रणनीति के तहत टीम में लाया जा सकता है। मुंबई के कप्तान को कई मौकों पर लेग स्पिन के विरुद्ध लड़खड़ाते हुए देखा गया है। चावला को उनके सामने खिलाना केकेआर के लिए सही साबित हो सकता है। उमेश यादव: तेज गेंदबाजी विभाग में उमेश यादव नई गेंद के साथ शानदार स्विंग के साथ गति भी प्राप्त करने में कामयाब रहे हैं। उनके कन्धों पर बड़ी जिम्मेदारी होगी और मुंबई के शुरुआती विकेट चटकाने के लिए उन्हें हथियार के रूप में उपयोग किया जा सकता है। अंकित राजपूत: इस युवा खिलाड़ी को बीच में गेंदबाजी की कमान सौंपी गई है और वे इसमें खरे भी उतरे हैं। रन गति पर अंकुश लगाने के लिए गंभीर उन्हें एक बार फिर गेंदबाजी के लिए अंतिम ग्यारह में मौका दे सकते हैं।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now