IPL 2018: 3 खिलाड़ी जिन्हें केकेआर की टीम अपने साथ बरकरार रखना चाहेगी

c0a4a-1509978831-800

आईपीएल 2018 के लिए नीलामी अगले साल के शुरुआत में होगी। सभी टीमें टी20 के बेहतरीन खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ने में एड़ी चोटी का जोर लगा देगी। वहीं 21 नवम्बर को बीसीसीआई खिलाड़ियों को बरकरार रखने पर अपना फैसला सुनाएगी। जहाँ तक उम्मीद है कि सभी टीमों को 3 खिलाड़ियों को अपने साथ बरकरार रखने का विकल्प दिया जा सकता है। आज हम कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के उन 3 खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे जिन्हें टीम प्रबंधन अपने साथ बरकरार रखना चाहेगी: #1 गौतम गंभीर केकेआर की टीम में सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं उनके कप्तान गौतम गंभीर। आईपीएल 2011 की नीलामी ने कोलकाता की टीम ने उन्हें 2.4 मिलियन अमेरिकी डॉलर देकर खरीदा था, जो उस नीलामी में किसी भी खिलाड़ी को मिलने वाली सबसे बड़ी रकम थी। कोलकाता की टीम ने गंभीर को अपनी टीम का कप्तान बना दिया। उसके बाद कोलकाता की टीम ने गंभीर की कप्तानी में 2012 और 2014 में आईपीएल ट्रॉफी उठायी और 2011, 2016 और 2017 में प्लेऑफ तक पहुंची थी। गंभीर आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में शामिल हैं। अभी तक खेले 131 आईपीएल पारियों में उन्होंने 30 की औसत और लगभग 125 की स्ट्राइक रेट से 3634 रन बनाये हैं। गौतम गंभीर कप्तान और बल्लेबाज के रूप में कोलकाता की टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण खिलाड़ी रहे हैं और ऐसे में कोलकाता की टीम उन्हें अपने साथ जरुर रखना चाहेगी। #2 आंद्रे रसेल 12ae1-1509978713-800 डोपिंग में फेल होने की वजह से आईपीएल 2017 से बाहर रहने के बाद अब रसेल वापसी को बेताब हैं। यह खिलाड़ी 42 गेंदों में शतक बनाने से लेकर 4 गेंदों पर 4 विकेट झटकने तक सारे कारनामे कर सकता है। उनके अलावा उनकी फ़ील्डिंग भी शानदार है। इस तरह रसेल टी20 के खेल के लिए एक पूर्ण खिलाड़ी हैं। रसेल ने विश्व के हर बड़े टी20 लीग में अपने खेल का लोहा बनवाया है जैसे कि बिग बैश, कैरिबियन प्रीमियर लीग और पाकिस्तान सुपर लीग। केकेआर की टीम ने इस खिलाड़ी को 2016 की नीलामी में मात्र 60 लाख रूपये में अपने साथ जोड़ा था लेकिन इस बार अगर रसेल नीलामी का हिस्सा बनते हैं तो उनकी बोली काफी ऊँची लग सकती है। ऐसे में कोलकाता की टीम चाहेगी कि रसेल को अपने साथ बरकरार रख ले। #3 सुनील नारेन f121e-1509978602-800 स्वभाव से काफी शांत दिखने वाली यह स्पिन गेंदबाज टी20 का सबसे खतरनाक गेंदबाज है। किसी में सुपर ओवर को मेडेन फेंकने वाले एकमात्र गेंदबाज नारेन ही हैं। इसके अलावा पिछले आईपीएल से नारेन में बल्लेबाजी में भी अपने हाथ दिखाने शुरू कर दिए हैं। आईपीएल इतिहास का सबसे तेज अर्धशतक नारेन के ही नाम है जिसे उन्होंने 15 गेंदों में आरसीबी के खिलाफ पिछले आईपीएल में बनाया था। जब 2012 में कोलकाता की टीम ने पहली बार आईपीएल ट्रॉफी पर कब्जा जमाया था उस समय प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट का ख़िताब नारेन को ही मिला था। अपने आईपीएल करियर में उन्होंने 82 मैचों में मात्र 6.32 की इकॉनमी से रन देकर 95 विकेट हासिल किये हैं। नारेन अपनी गेंदबाजी के दम पर कई बार कोलकाता की टीम को जीत तक लेकर गये हैं। ऐसे में कोलकाता की टीम किसी भी कीमत पर उन्हें अपने साथ बरकरार रखना चाहेगी। लेखक- सुखविंदर सिंह अनुवादक- ऋषिकेश सिंह

Edited by Staff Editor