Create
Notifications
Advertisement

IPL 2018: 3 बदलाव जो मुंबई इंडियंस की बदल सकते हैं किस्मत

  • मौजूदा चैंपियन मुंबई ने अब तक लगातार तीन मैचों में हार का सामना किया है
ANALYST
Modified 15 Apr 2018, 06:45 IST

पिछले कुछ सालों में इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस का प्रदर्शन काफी शानदार रहा है। रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई इंडियंस की टीम ने काफी बुलंदियों को छुआ है। इसके साथ ही इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में मुंबई इंडियंस की टीम डिफेंडिंग चैंपियन भी है। मुंबई इंडियंस की टीम में कई शानदार खिलाड़ी हैं लेकिन इस बार मुंबई इंडियंस को अपनी टीम को लेकर काफी आलोचनाओं का सामना भी करना पड़ा है। आईपीएल के शुरुआती मैचों में मुंबई इंडियंस का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है, जिसके कारण अभी तक मुंबई इंडियंस को लगातार तीन हार का सामना करना पड़ा है और टीम को इस सीजन में शुरुआत तीन मैचों में एक भी जीत नसीब नहीं हुई है।

मुंबई इंडियंस ने शुरुआती तीन मैच चेन्नई सुपर किंग्स, सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ खेले और तीनों में हार का सामना करना पड़ा। चेन्नई के खिलाफ खेले गए पहले मुकाबले में मुंबई को एक विकेट से हार का सामना करना पड़ा तो वहीं हैदराबाद के खिलाफ खेले गए दूसरे मुकाबले में मुंबई को एक विकेट से ही हार का मुंह देखना पड़ा। इसके बाद दिल्ली के खिलाफ खेले गए तीसरे मुकाबले में मुंबई की टीम को सात विकेट से मैच गंवाना पड़ा। जिसके कारण अब मुंबई इंडियंस अपने प्रशंसको के निशाने पर भी आ गई है।

तीन मैचों में लगातार हार के बाद अब मुंबई इंडियंस को वापस लय हासिल करने के लिए टीम में कुछ रणनीतिक बदलाव लाने की जरूरत है। मुंबई इंडियंस का अगला मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ है और इस मैच में जरूर टीम पटरी पर वापस लौटना चाहेगी।

#3 तीन स्पिनरों के साथ उतरना




 

भटिंडा के 20 वर्षीय स्पिनर मयंक मार्कंडे ने अब तक शानदार खेल दिखाते हुए मुंबई इंडियंस के लिए कई बड़े विकेट हासिल करने में मदद की है। इसके अलावा विकल्प के तौर पर एक अन्य स्पिन गेंदबाज क्रुणाल पांड्या भी हैं जिन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए कुछ ओवर की गेंदबाजी की थी। लेकिन उन्हें ज्यादा मौका नहीं मिल पाया।

शुरुआती मैचों को देखते हुए लग रहा है कि मुंबई इंडियंस के लिए तेज गेंदबाज कारगर साबित नहीं हो रहे हैं और अब मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा को स्पिन गेंदबाजों पर दांव खेलते हुए अपनी टीम में तीन स्पिन गेंदबाजों को शामिल कर मैदान पर उतारना चाहिए। इनमें से दो गेंदबाज स्पिन में महारथी होने चाहिए।

अगर दूसरी टीमों पर गौर किया जाए तो चेन्नई सुपर किंग्स और किंग्स-XI पंजाब ने तीन स्पिन गेंदबाजों को टीम में शामिल किया था, जिसका परिणाम टीम के लिए काफी बेहतर रहा।

मुंबई के पास स्पिन गेंदबाजों की कमी नहीं है। विकल्प के तौर पर टीम के पास राहुल चहर के रूप में एक युवा लेग-स्पिनर मौजूद है, जिनकी टी20 करियर में इकॉनमी रेट 7 रन प्रति ओवर के अंदर है। चहर को मुंबई इंडियंस ने 1.9 करोड़ रुपये में खरीदा था।

1 / 3 NEXT
Published 15 Apr 2018, 06:45 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit