Create
Notifications

IPL 2018: किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी के 4 उम्मीदवार

Rahul Pandey

किंग्स इलेवन पंजाब एक ऐसी टीम है जिसका आईपीएल में प्रदर्शन लगातार एक जैसा नही रहता है। 2014 में फाइनल तक पहुंचने और 2008 में सेमीफाइनल तक पहुंचने के अलावा, हर बार उन्हें लीग चरण में ही आईपीएल के दबसरे सभी सीज़न में बाहर निकलना पड़ा था। अच्छे खिलाड़ी और मैच विजेता होने के बावजूद, किंग्स इलेवन पंजाब अपनी क्षमता से न्याय नहीं कर पाए हैं। उनकी द्वारा दोहराई गयी विफलताओं का मुख्य कारण यह भी है कि वे अपनी टीम के मुख्य समूह के साथ बहुत बदलाव करते रहे हैं। वे प्रत्येक सत्र में अपने कप्तान को बदलने वाली एकमात्र टीम हैं। 2018 किंग्स इलेवन पंजाब के लिए कोई अपवाद नहीं होगा क्योंकि वे इस साल भी एक नए कप्तान की तलाश कर रहे हैं। यहां ऐसे 4 खिलाड़ी हम देख रहे हैं, जो आईपीएल 2018 में कप्तानी के लिए किंग्स इलेवन पंजाब की पसंद हो सकते हैं:

# 4 युवराज सिंह

अगर किंग्स इलेवन अपने कप्तान के रूप में युवराज का चयन करने का फैसला करती है, तो यह जीवन का एक चक्र पूर्ण होने के सामान होगा। आईपीएल के शुरुआती सीजन में युवराज पंजाब के कप्तान थे। 2018 में आईपीएल ने अपना पहला दशक पूरा कर लिया है और दूसरे दशक में कदम रखा है। हालांकि, युवराज के कप्तान बनने की संभावना बहुत कम है। आईपीएल में उनका प्रदर्शन उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहा है। 2008 में पहले सीजन के बाद ही, उन्हें पंजाब ने कप्तान के रूप में हटा दिया गया था। ऐसे में जब यह खिलाड़ी अपने करियर के अंत में है को इस बात की काफी कम ही संभावना है कि पंजाब की टीम इस खिलाड़ी पर दाव लगाना चाहेगी।

# 3 रविचंद्रन अश्विन

रवि अश्विन को 2009 में सीएसके ने चुना था लेकिन उन्होंने केवल उस सीजन दो मैच ही खेले। अगले वर्ष, अश्विन ने अपनी फ्रैंचाइजी के लिए 13 विकेट लेकर अपनी छाप छोड़ी। इस साल अश्विन को किंग्स इलेवन पंजाब द्वारा 7.6 करोड़ देकर चुना गया है, जिसके साथ ही सीएसके के साथ उनका 9-वर्षीय साथ खत्म हो गया। जिस राशि को देकर किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें खरीदा है, उससे इस बात को वजन मिलता है कि शायद वे कप्तानी के लिए अश्विन पर विचार कर रहे हैं। कप्तानी की बात आती है तो अश्विन कोई नौसिखिया नहीं हैं। दिसंबर 2006 में तमिलनाडु के लिए अपने लिस्ट ए करियर की शुरुआत करने के बाद, उन्हें टीम का नेतृत्व करने के लिए केवल एक वर्ष का समय लगा। अश्विन ने तमिलनाडु प्रीमीयर लीग में डिंडीगुल ड्रैगन्स टीम का नेतृत्व भी किया है।

# 2 आरोन फ़िंच

किंग्स इलेवन पंजाब एक ऐसी टीम है, जो विदेशी खिलाड़ियों को कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपने से हिचकती नहीं है। यदि वे ऐसे खिलाड़ी की तलाश कर रहे हैं, तो फिंच उनके लिये सर्वश्रेष्ठ दाव साबित होंगे। क्रिस गेल के साथ फिंच पंजाब के शीर्ष क्रम को मजबूती प्रदान करेंगे। फिंच इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में शानदार फॉर्म में हैं और उन्होंने सलामी बल्लेबाज के रूप में ऑस्ट्रेलिया के लिए अद्भुत प्रदर्शन किए हैं। वह आईपीएल में अपने पीछे कमाल की कप्तानी अनुभव के साथ आ रहे है। वह बीबीएल में मेलबर्न रेनेगेड्स के कप्तान हैं। उन्हें ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रीय टी -20 टीम का कप्तान बनाया गया था और वह न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे में भी कप्तान रहे थे। फिंच ने चैंपियंस लीग में विक्टोरिया बुशरेंजर्स का भी नेतृत्व किया है।

# 1 केएल राहुल

केएल राहुल वर्तमान में भारतीय क्रिकेट के सबसे उभरते सितारों में से एक हैं। वह कंधे की चोट के कारण पिछले संस्करण में खेलने से चूक गए थे, लेकिन आईपीएल 2018 में फिर से खेलते दिखेंगे। किंग्स इलेवन पंजाब ने उनके लिए 11 करोड़ का भुगतान किया है, यह तथ्य दो बातों की तरफ़ इशारा करता है: #1 किंग्स इलेवन पंजाब को उम्मीद है कि राहुल उनके पूर्णकालिक विकेटकीपर होंगे। #2 वे कर्नाटक के इस आक्रामक बल्लेबाज़ को एक कप्तान की तरह देखते हैं। फिलहाल, किंग्स इलेवन पंजाब के लिए राहुल कप्तान के रूप में सबसे अधिक संभावित नज़र आ रहे हैं। उनके रास्ते में एकमात्र बाधा उनकी फिटनेस है, क्यूंकि यह सभी जानते है कि वह चोट से ग्रस्त रहते है। ऐसे में भगवान ना करे अगर राहुल बीच सीजन में घायल हो जाते हैं, तो वह किंग्स इलेवन पंजाब को बीच मझधार में छोड़ देंगे। लेखक: सक्षम मिश्र अनुवादक: राहुल पांडे

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...