Create

IPL 2018 : 5 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें मुंबई इंडियंस टीम में रिटेन किया जाना चाहिए

R SHARMA

श्रीलंका के ख़िलाफ़ टीम इंडिया ने घरेलू सीरीज़ में शानदार जीत दर्ज कर ली है, ऐसे में अब सभी का ध्यान जनवरी में होने वाली आईपीएल खिलाड़ियों की नीलामी पर जा चुका है। साल 2018 में आईपीएल का 11वां सीज़न शुरु होने वाला है, बीसीसीई ने नीलामी और रिटेंशन पॉलिसी के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। सभी टीम के लिए रिटेंशन लिस्ट जमा करने की आख़िरी तारीख़ 4 जनवरी है। साल 2018 सीज़न के लिए नीलामी की प्रकिया 2 दिनों तक बैंगलौर में चलेगी, इसकी तारीख़ 27 और 28 जनवरी रखी गई है। मुंबई इंडियंस टीम के लिए आईपीएएल 2017 सबसे कामयाब सीज़न रहा है। रोहित शर्मा की कप्तानी में इस टीम ने लीग मैच में 14 में 10 मैच जीतकर प्वाइंट जीतकर प्वाइंट टेबल में टॉप पोज़ीशन हासिल किया था। हांलाकि क्वॉलीफ़ायर 1 में मुंबई को हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन क्वॉलीफ़ायर 2 में उन्होंने कोलकाता नाइटराइडर्स को हराया था और फ़ाइनल का सफ़र तय किया था। फ़ाइनल मुक़ाबले में मुंबई टीम ने पहले खेलते हुए राइज़िंग पुणे सुपरजायंट के ख़िलाफ़ 129 रन का स्कोर बनाया, ऐसा लग रहा था कि ये कप मुंबई के हाथों से फिसल जाएगा। लेकिन मुंबई इंडियंस टीम की शानदार बॉलिंग और फ़ील्डिंग की बदौलत पुणे टीम 128 रन ही बना सकी। मौजूदा चैंपियन अब चौथी बार कप जीतना चाहती है, ऐसे में ये वो 5 खिलाड़ी हैं जिन्हें मुंबई टीम रिटेन कर सकती है।

#1 रोहित शर्मा

रिटेंशन का तरीका –

नीलामी से पहले रिटेंशन अगर क्रिकेट के छोटे फॉर्मेट की बात करें तो रोहित शर्मा सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज़ कहे जाएंगे। उन्होंने वनडे में 3 दोहरे शतक लगाकर अपनी ताक़त दुनिया के सामने साबित की है। उनके नाम फ़िलहाल टी-20 का सबसे तेज़ शतक है जो उन्होंने श्रीलंका के ख़िलाफ़ लगाया था। आईपीएल में रोहित का रिकॉर्ड बतौर खिलाड़ी और बतौर कप्तान शानदार रहा है। शुरुआत उन्होंने डेक्कन चार्जर्स से की थी, इस टीम ने 2009 का आईपीएल टूर्नामेंट जीता था। रोहित ने इस सीज़न में 16 मैच में 362 रन बनाए और 11 विकेट हासिल किए थे जिसमें एक हैट्रिक भी शामिल थी। मुंबई टीम के लिए रोहित शर्मा सबसे सफल कप्तान हैं जिन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए 3 आईपीएल ख़िताब जिताए हैं। उनकी कप्तानी का इस साल एक बार फिर इम्तिहान हुआ था जब विराट की ग़ैर मौजूदगी में टीम इंडिया ने श्रीलंका के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ 2-1 से और टी-20 सीरीज़ 3-0 से जीती थी। रोहित ने आईपीएल में 159 मैच खेले हैं जिसमें 32.61 की औसत से 4207 रन बनाए हैं। रोहित अब मुंबई टीम का अहम हिस्सा बन चुके हैं ऐसे में टीम मैनेजमेंट उनको रिटेन ज़रूर करेगा।

#2 हार्दिक पांड्या

HARDIK रिटेंशन का तरीका :

नीलामी से पहले रिटेंशन रोहित शर्मा के बाद हार्दिक पांड्या मुंबई टीम का दूसरा सबसे अहम हिस्सा माना जाता है। मुंबई टीम मैनेजमेंट ने उनका हुनर काफ़ी पहले पहचान लिया था। यही वजह रही कि 2015 के आईपीएल सीज़न में वो मुंबई टीम का हिस्सा बने। उन्होंने अपनी क़ाबिलियत मुंबई के लिए खेले गए पहले मैच में ही दिखा दी थी और आख़िरी ओवर में छक्का लगाकर टीम को मज़बूती दी थी। उनके इसी प्रदर्शन की बदौलत उन्हे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में खेलने का मौक़ा दिया गया। उसके बाद से हार्दिक ने फिर कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। पांड्या अब फास्ट बॉलिंग ऑलराउंडर के तौर पर भारत की टी-20, वनडे और टेस्ट टीम का अहम हिस्सा बन चुके हैं। उनकी तुलता कपिल देव से की जाने लगी है, कपिल ने भी हार्दिक की तारीफ़ की थी। मुंबई टीम ने साल 2015 और 2017 में जो आईपीएल का ख़िताब जीता था उसमें पांड्या का ख़ास योगदान रहा था। हांलाकि मुंबई टीम साल 2016 में भी चैंपियन बनी थी लेकिन पांड्या इस सीज़न में कुछ ख़ास कमाल नहीं कर पाए थे। साल 2017 के आईपीएल सीज़न में वो मज़बूती के साथ उभरे और पूरे टूर्नामेंट में 156.25 के स्ट्राइक रेट से 250 रन बनाया और 6 विकेट भी हासिल किए। अंतरराष्ट्रीय मैच में पांड्या का प्रदर्शन शानदार रहा है, ऐसे में मुंबई टीम पांड्या को रिटेन करना चाहेगी।

#3 जसप्रीत बुमराह

J BUMRAH रिटेंशन का तरीका –

नीलामी से पहले रिटेंशन जसप्रीत बुमराह आईपीएल से ही चमके थे, उस वक़्त टीम इंडिया को डेथ बॉलर की तलाश थी जो बुमराह के साथ ही ख़त्म हुई। बुमराह ने अपनी क़ाबिलियत 2016 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ सीरीज़ में दिखा दी थी, भारत ने ये सीरीज़ 3-0 से जीती थी। मुंबई टीम ने बुमराह को 2013 में ख़रीदा था, लेकिन मलिंगा के टीम में रहने की वजह से उन्हें ज़्यादा मौक़ा नहीं मिल पाया। आईपीएल सीज़न 2016 बुमराह के लिए यादगार रहा, बुमराह ने 14 मैच में 7.80 के इकॉनमी रेट से 15 विकेट लिए। इसके बाद उन्होंने टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली। साल 2017 के आईपीएल सीज़न में उनके प्रदर्शन में और सुधार आया, उन्होंने 16 मैच में 7.35 की इकॉनमी रेट से 20 विकेट हासिल किए और टूर्नामेंट के तीसरे सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले बल्लेबाज़ बने। श्रीलंका के लसिथ मलिंगा के साथ रहकर उनके खेल में ज़बरदस्त सुधार आया है। बुमराह का मौजूदा फॉम वो वजह जो उन्हें टीम मुंबई में रिटेन करने की वजह बनेगी।

#4 मिचेल मैक्लेनाघन

McCLENAGHAN रिटेंशन का तरीका –

राइट टू मैच न्यूज़ीलैंड के तेज़ गेंदबाज़ मिचेल मैक्लेनाघन पिछले 3 सीज़न से मुंबई इंडियंस टीम में खेल रहे हैं। साल 2015 और 2017 में मुंबई को चैंपियन बनाने में मिचेल का बड़ा योगदान है। ये मिचेल की धाकड़ गेंदबाज़ी का ही कमाल था जिसने आईपीएल 2015 लसिथ मलिंगा का साथ दिया और टीम को प्वाइंट्स टेबल में ऊपर पहुंचाया। मुंबई इंडियंस ने इस सीज़न की शुरुआत 4 मैच में हार से की थी। आईपीएल में मिचेल का रिकॉर्ड शानदार रहा है, उन्होंने 40 मैच मुंबई टीम के लिए खेले हैं जिसमें 8.61 के इकॉनमी रेट से 54 विकेट हासिल किए हैं। साल 2017 के सीज़न में 14 मैच में 19 विकेट लिए हैं वो इस टूर्नामेंट चौथे सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ बने थे। ऐसे में उम्मीद है कि वो मुंबई टीम उन्हें रिटेन करना चाहेगी।

#5 क्रुणाल पांड्या

KRUNAL रिटेंशन का तरीका –

राइट टू मैच क्रुणाल पांड्या, हार्दिक पांड्या के बड़े भाई हैं और वो हार्दिक की तरह ही प्रतिभाशाली क्रिकेटर हैं। क्रुणाल उस वक़्त सुर्ख़ियों में आ गए थे जब उन्होंने 2016 के आईपीएल सीज़न में दिल्ली डेयरडेविल्स के ख़िलाफ़ 37 गेंदों में 86 रन की शानदार पारी खेली थी। मुंबई इंडियंस ने क्रुणाल को साल 2016 में 2 करोड़ में ख़रीदा था। इस सीज़न में उन्होंने 12 मैच में 191.12 के स्ट्राइक रेट से 237 रन बनाए थे और 6 विकेट भी हासिल किए थे। आईपीएल 2017 में उन्होंने 13 मैच में 243 रन बनाए और 6.82 की इकॉनमी रेट से 10 विकेट हासिल किए। उन्होंने 2 सीज़न में एबी डीविलियर्स को 4 बार आउट किया था। क्रुणाल ने आईपीएल 2017 के फ़ाइनल में 47 रन बनाए थे जिसकी बदौलत उन्हें मैन ऑफ़ द मैच के ख़िताब से नवाज़ा गया था। हांलाकि ये मुमकिन नहीं है कि क्रुणाल को सीधे रिटेन किया जा सके इसलिए मुंबई टीम उन्हे राइट टू मैच के ज़रिए रिटेन करना चाहेगी। लेखक- विपुल गुप्ता अनुवादक – शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment