Create
Notifications

IPL 2018: 5 खिलाड़ी जिन्होंने अपनी टीमें बदलने के बाद सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है

आशीष कुमार

इंडियन प्रीमियर लीग अब प्रतियोगिता के दूसरे चरण में पहुंच गया है और यह प्रतियोगिता हर मैच के साथ और रोमांचक होती जा रही है। चेन्नई, हैदराबाद और पंजाब जैसी टीम लीग टेबल में शीर्ष पर हैं। इन टीमों की सफलता के मुख्य कारणों में से एक टीम प्रबंधन का नीलामी में अच्छे खिलाडियों को चुनना है। वे खिलाड़ियों, जिन्हें उनकी टीमों ने रिटेन नहीं किया था अथवा जिन्हें पिछले सीजन में औसत दर्जे का प्रदर्शन करने के कारण टीम से बाहर कर दिया गया था, ये खिलाड़ी अब लगातार शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं।

#5 सूर्यकुमार यादव (कोलकाता नाइट राइडर्स)

मुंबई रणजी टीम की बात करें तो सूर्यकुमार यादव इस टीम का मुख्य आधार रहे हैं और उन्होंने टीम का नेतृत्व भी किया है। इसके विपरीत, उन्होंने आईपीएल में मुंबई इंडियंस (एमआई) के लिए केवल एक मैच खेला। प्रारंभ में, सूर्यकुमार एमआई टीम में थे लेकिन आईपीएल 2014 की नीलामी में उन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) द्वारा खरीदा गया था और तब से, उन्होंने इस टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया और एक फिनिशर की भूमिका बख़ूबी निभाई थी। लेकिन पिछले सीजन में केकेआर के लिए औसत दर्जे का प्रदर्शन करने के बाद, सूर्यकुमार को फिर से एमआई द्वारा खरीदा गया। ओपनिंग स्लॉट हासिल करने के बाद वह पूरी फॉर्म में नज़र आ रहे हैं। उन्होंने 8 मैचों में 2 अर्धशतकों के साथ कुल 283 रन बनाए हैं। वह अब इस टीम का ट्रम्प कार्ड हैं और टूर्नामेंट अगले चरणों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

#4 शेन वॉटसन (चेन्नई सुपर किंग्स)

चेन्नई सुपर किंग्स ने जब इस साल की आईपीएल नीलामी में शेन वॉटसन को 4 करोड़ रुपये में खरीदा था तो ऐसा लगता था कि उन्होंने बड़ी गलती की है। आईपीएल के पिछले सीज़न में वॉटसन ने 8 मैचों में केवल 71 रन बनाए और 5 विकेट अपने नाम किए थे। सीएसके में दिग्गज खिलाडियों के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का इतिहास रहा है। इनमें माइकल हसी, मैथ्यू हेडन और कई वरिष्ठ खिलाड़ी प्रमुख उदाहरण हैं और वॉटसन भी कोई अपवाद नहीं हैं। वॉटसन के अब तक के प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 7 मैचों में 166.27 की अद्भुत स्ट्राइक रेट से 281 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल है। सीएसके लीग टेबल में शीर्ष पर हैं और वॉटसन ने अब तक टीम की सफलता में बड़ी भूमिका निभाई है।

#3 के एल राहुल (किंग्स-XI पंजाब)

आईपीएल नीलामी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) ने विराट कोहली, एबी डीविलियर्स और सरफराज खान को बरकरार रखा था। आश्चर्य की बात है कि के एल राहुल का नाम सूची से गायब था। अंत में, जब उन्हें किंग्स-XI पंजाब द्वारा 11 करोड़ रुपये की भारी राशि से खरीदा गया, तो आरसीबी ने राइट टू मैच (आरटीएम) कार्ड का उपयोग करना उचित नहीं समझा। फ़िलहाल, राहुल पंजाब के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने अब तक 7 मैचों में 170 की स्ट्राइक रेट से 268 रन बनाए है और वे ऑरेंज कैप की दौड़ में हैं। राहुल ने शानदार खेल से अपना इरादा स्पष्ट कर दिया है कि वे भारतीय टीम में सलामी बल्लेबाज़ के लिए मज़बूत दावेदार हैं।

#2 अंबाती रायुडू (चेन्नई सुपर किंग्स)

2000 के दशक के आरंभ में भारत के उभरते बल्लेबाज़ के रूप में पहचान रखने वाले अंबाती रायुडू ने आईपीएल 2018 में फिर से दिखा दिया है कि क्यों उन्हें महान बल्लेबाज़ों में शुमार किया जाता है। पिछले साल, हालांकि मुंबई ने खिताब जीता था, लेकिन रायुडू ने केवल 7 मैचों में 200 रन बनाए थे। उनके औसत प्रदर्शन देखते हुए एमआई ने उन्हें इस वर्ष हुई नीलामी में नहीं खरीदा था। रायुडू को सीएसके द्वारा 2.2 करोड़ रुपये में खरीदा गया और एमएस धोनी के नेतृत्व में रायुडू ने टीम प्रबंधन के भरोसे को सही साबित कर दिखाया। अब तक 8 मैचों में 370 रन बनाकर वे ऑरेंज कैप लेकर रन सूची में सबसे ऊपर विराजमान हैं।

#1 क्रिस गेल (किंग्स-XI पंजाब)

आईपीएल 2018 में क्रिस गेल ने अब तक का अपना सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन किया है। पिछले दो आईपीएल सत्रों में गेल ने औसत प्रदर्शन किया था। 2016 और 2017 में उन्होंने क्रमवार 200 और 227 रन का ही स्कोर किया था। इस साल की आईपीएल नीलामी में आरसीबी ने उन्हें रिटेन नहीं किया और ना ही उनके लिए बोली लगाई। अंत में उन्हें किंग्स इलेवन पंजाब ने 2 करोड़ रुपए में खरीदा और इस कैरीबियाई बल्लेबाज़ ने लगातार दो मैन ऑफ द मैच लेकर दिखा दिया कि क्यों उन्हें 'यूनिवर्स बॉस' कहा जाता है। गेल ने अब तक खेले 4 मैचों में 161.53 की अद्भुत स्ट्राइक रेट से 252 रन बनाए हैं, जिसमें 1 शतक और 2 अर्धशतक भी शामिल हैं। पंजाब उम्मीद करेगा कि यूनिवर्स बॉस अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखेंगे और उन्हें पहली बार आईपीएल खिताब जीताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। लेखक: प्रथमेश पाटिल अनुवादक: आशीष कुमार

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...