Create

IPL 2018: जोफ़रा आर्चर की अनुपस्थिति में उनकी जगह ले सकने वाले 5 खिलाड़ी

हाल ही में संपन्न हुए बिग बैश लीग में अपने शानदार प्रदर्शन से बारबाडोस के ऑल-राउंडर जोफ़रा आर्चर ने अपनी एक अलग पहचान बनाई। उनके बीबीएल प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें 2018 के आईपीएल के लिए राजस्थान रॉयल्स टीम में शामिल किया गया है। राजस्थान रॉयल्स ने आर्चर को इस साल की नीलामी में 7.2 करोड़ रुपये की बड़ी कीमत देकर खरीदा है। वह हाल ही में पाकिस्तान सुपर लीग में साइड स्ट्रेन से पीड़ित हुए हैं और अब तक यह स्पष्ट नहीं है कि वह आईपीएल के लिए उपलब्ध हो पाएंगे या नहीं। अगर राजस्थान रॉयल्स के लिये वह अनुपलब्ध होते है तो आर्चर की जगह भरने के लिये निम्न खिलाड़ियों के बारे में सोचा जा सकता है:

# 5 मार्लन सैमुअल्स

मार्लन सैमुअल्स ने अपना पहला आईपीएल सौरव गांगुली की कप्तानी में 2012 में पुणे वारियर्स के साथ खेला था। वह एक ऐसे सक्षम ऑलराउंडर हैं, हालाँकि आईपीएल में उन्हें अब तक अधिक सफलता नही मिली है। वह 2015 में एक साल के लिए गेंदबाजी से प्रतिबंधित थे, लेकिन अब वह अपनी सभी टी -20 टीमों की ओर से एक ऑलराउंडर के रूप में खेलते हैं। वेस्टइंडीज का यह बल्लेबाज़ आईसीसी की टी -20 रैंकिंग में ऑलराउंडरों की सूचि में नंबर 4 पर है। वह एक अच्छे ऑलराउंडर हैं, और वेस्टइंडीज टीम के लिए खेलते हुए अपनी भूमिका निभाई अच्छे से निभाई है। सैमुअल्स ने विश्वभर में 181 टी 20 में 4429 रन बनाये हैं, जिसमें 33 की शानदार औसत और 118 की स्ट्राइक रेट रही है। उन्होंने 27 के औसत और 7.2 की इकॉनमी दर से 70 विकेट लिए हैं। वह रॉयल्स के लिये एक अच्छे बल्लेबाजी विकल्प भी बन सकते हैं क्यूंकि वह शीर्ष क्रम के बल्लेबाज भी हैं। इसे भी पढ़ें: IPL 2018: 5 ऐसे अंजान विदेशी खिलाड़ी जो अपनी टीम के लिए तुरुप का इक्का सबित हो सकते हैं

# 4 एंजेलो मैथ्यूज़

एंजेलो मैथ्यूज श्रीलंका के इतिहास के सबसे अच्छे ऑलराउंडर है और वर्तमान में विश्व क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक है। उनके नाम दुनिया भर में टी -20 में शानदार रिकॉर्ड है। मैथ्यूज ने 150 मैचों में 26 की औसत और 121 की स्ट्राइक रेट से 2377 रन बनाए हैं। उन्होंने 150 मैचों में 32 के औसत और 7.4 की इकॉनमी दर से 79 विकेट लिए हैं और 3 बार पारी में चार विकेट झटके हैं। श्रीलंका का यह आलराउंडर बल्लेबाज़ अंतिम ओवेरों में बल्लेबाज़ी करता है और लंबे शॉट खेल गेंद को सीमा रेखा के पार पहुँचाने की अपनी क्षमता के लिए जाना जाता है। वह मध्य ओवर में गेंदबाज़ी भी करते है और अक्सर साझेदारियों को तोड़ने में सफल रहते है। वह जोफ़रा आर्चर को सौंपी गयी एक तेज गेंदबाजी आलराउंडर की भूमिका को अच्छे से निभा सकते हैं।

# 3 जेम्स फ़ॉक्नर

जेम्स फ़ॉक्नर ने आईपीएल में अपना पहला मैच 2011 में खेला था। उन्होंने आईपीएल में अपने करियर में चार अलग-अलग टीमों का प्रतिनिधित्व किया है। खेल के सबसे छोटे प्रारूप में उन्होंने काफी सफलता हासिल की है। उन्होंने 160 मैचों में 24 के औसत से 176 विकेट लिए हैं। ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ने अपने टी-20 करियर में तीन बार पारी में 5 विकेट लेने के साथ ही 18 बार 3 विकेट भी लिए हैं। उन्होंने 22 के औसत से 1567 रन भी बनाए हैं। वह पहले भी रॉयल्स के लिए खेल चुके हैं और राजस्थान टीम के मौहाल से परिचित होंगे। फॉक्नर एक निचले क्रम के बल्लेबाज हैं और अपनी टीमों के लिए अंतिम ओवर में गेंदबाजी करते हैं। वह जोफ़रा आर्चर के समान ही भूमिका निभाते हैं और एक अच्छे बदलाव हो सकते है।

# 2 कोरी एंडरसन

न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन बल्लेबाज़ी ऑलराउंडर हैं और आईपीएल में खेलने का उनके पास अनुभव है। टीम में उनकी मुख्य भूमिका मध्य क्रम के बल्लेबाज की होगी, लेकिन उनके पास गेंद के साथ योगदान देने की क्षमता भी है। इस कीवी ऑलराउंडर ने 2014 में मुंबई इंडियंस के लिए अपना पहला सीजन खेला और 2017 के सत्र में दिल्ली डेयरडेविल्स का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने 27 की औसत से 100 मैचों में 1768 रन बनाए हैं। उनके आईपीएल के आंकड़ें और भी ज्यादा प्रभावित करते हैं, जहाँ उन्होंने 28 की औसत और 130 के स्ट्राइक रेट से रन बनायें हैं और राजस्थान के खिलाफ, मुंबई इंडियंस की ओर से खेलते हुए सर्वाधिक 95 रन बनायें हैं। एंडरसन बल्ले के साथ आर्चर के नुकसान की भरपाई करने में समर्थ तो हैं, लेकिन गेंद के साथ उतने कारगर नहीं होंगे। फिर भी चुने जाने पर वह निश्चित रूप से राजस्थान रॉयल्स की बल्लेबाजी को मजबूत करेंगे।

1# मोइसेस हेनरिक्स

मोइसेस हेनरिक्स एक पुर्तगाली मूल के क्रिकेटर हैं जो ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए खेलते हैं। वह ऑस्ट्रेलियाई टी 20 टीम के एक नियमित सदस्य है और 2016 का आईपीएल खिताब जीतने वाली सनराइजर्स की टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा भी थे। हेनरिक्स ने आईपीएल में 29 के औसत से 57 मैचों में 969 रन बनाए हैं और साथ ही 32 की औसत से 32 विकेट भी लिए हैं। वह विशेष रूप पिछले साल के आईपीएल में प्रभावशाली थे, जहाँ उन्होंने 12 मैचों में 46 के शानदार औसत से 277 रन बनाए थे। यह ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर एक बेहद कुशल बल्लेबाज है और तीसरे नंबर पर शानदार बल्लेबाजी करता है और स्थिति के अनुसार अपने खेल को ढालने की क्षमता रखता है। वह एक भरोसेमंद बल्लेबाज हैं जो लगातार रन बनाते हैं और गेंद से बीच के ओवरों में प्रभावशाली भी रहते हैं। लेखक: वरुण देवनाथन अनुवादक: राहुल पांडे

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment