Create
Notifications

आईपीएल नीलामी 2018 : 5 ऐसे खिलाड़ी जो 20 करोड़ से ज़्यादा की क़ीमत पर बिक सकते हैं

शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda

जब से सभी टीम ने रिटेन किए जाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट जारी की है तभी से आईपीएल के 11वें सीज़न को लेकर उत्साह बढ़ता जा रहा है। इस साल क़रीब 18 खिलाड़ियों को रिटेन किया गया है। 27 और 28 जनवरी को बैंगलौर में आईपीएल खिलाड़ियों की नीलामी की जाएगी, जिसका इंतज़ार सभी को है। इस साल आईपीएल में फंड की सीमा 66 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 80 करोड़ रुपये कर दी गई है। साल दर साल इस महंगे टूर्नामेंट में नीलामी के दौरान जंग जैसे हालात देखने को मिलते हैं जब बड़े खिलाड़ियों को हर कोई ख़रीदना चाहता है। कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिनको ख़रीदने के लिए टीम के मालिक एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा देते हैं। यही वजह है कि कुछ खिलाड़ी 15 करोड़ की भी क़ीमत पर ख़रीदे गए हैं। युवराज सिंह ऐसे पहले खिलाड़ी हैं जिन्होंने बिकने में 15 करोड़ का आंकड़ा छुआ था जब साल 2015 में वो दिल्ली टीम द्वारा खरीदे गए थे। साल 2017 में बेन स्टोक्स 14.5 करोड़ रूपये में बिके थे, स्टोक्स पिछले साल के दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी बने थे। मौजूदा वक़्त में विराट कोहली सबसे महंगे खिलाड़ी हैं, उन्हें आरसीबी ने 17 करोड़ रुपये में रिटेन किया है। इस बात में कोई शक नहीं कि इस साल भी कुछ महंगी नीलामी की जाएगी। इस सीज़न में कुछ खिलाड़ी 20 करोड़ या उससे ज़्यादा की क़ीमत में बिके तो हैरानी नहीं होगी। यहां हम उन खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जो बिक्री में 20 करोड़ का आंकड़ा पार कर सकते हैं।

#5 ड्वेन ब्रावो

BRAVO

वेस्टइंडीज़ के ऑल राउंडर ड्वेन ब्रावो टी-20 के सबसे प्रभावशाली खिलाड़ी हैं। चेन्नई टीम ने रिटेंशन के दौरान रविंद्र जडेजा को ब्रावो के ऊपर तरजीह दी है। उनका रिटेन न किया जाना एक चौंकाने वाला फ़ैसला था। ऑस्ट्रेलिया के बिग बैश लीग के पहले 5 मैचों में उन्होंने 12 विकेट हासिल किए हैं। वो इस सीज़न में मेलबर्न रेनेगेड्स की तरफ़ से खेल रहे हैं और वो इस साल सबसे ज़्यादा विकेट लेने की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। उनसे ज़्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं एंड्रयू टाई। ब्रावो ने लगातार टी-20 में शानदार प्रदर्शन किया है भले ही वो किसी भी टीम के हिस्सा रहे हों। वो दबाव भरे हालात में अच्छी गेंदबाज़ी करते देखे गए हैं। हाल में ही वो टी-20 में 400 विकेट लेने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। लसिथ मलंगा 331 विकेट के साथ दूसरे नंबर पर हैं। आईपीएल करियर में ब्रावो ने 106 मैच में 122 विकेट हासिल किए हैं। वो इस टूर्नामेंट में विकेट लेने वालों की लिस्ट में 5वें नंबर पर हैं। ब्रावो ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने 2013 औप 2015 में चेन्नई के लिए खेलते हुए पर्पल कैप हासिल किया था। उनके अलावा भुवनेश्वर कुमार ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने 2 बार पर्पल कैप जीता हो। वो मौजूदा दौर के बेस्ट डेथ बॉलर हैं। नीलामी में ब्रावो को लेकर टीम के मालिकों में खीचतान लाज़मी है। इसे भी पढ़ें: IPL 2018: ऐसे 5 खिलाड़ी जिन्हें राइट टू मैच कार्ड के जरिए रिटेन किया जा सकता है

#4 कॉलिन मुनरो

MUNRO

न्यूज़ीलैंड के कॉलिन मुनरो एक विस्फोटक बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने अपनी मैच जिताउ पारी की वजह से अख़बारों की सुख़ियों में जगह बनाई थी। हाल में ही वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ सीरीज़ में उन्होंने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए थे। इस टी-20 सीरीज़ में उन्होंने 223 रन बनाए थे। ये किसी भी दो टीम के बीच हुई अंतरराष्ट्रीय टी-20 सीरीज़ में बनाया गया सबसे ज़्यादा रन का आंकड़ा है। इस 3 मैचों की सीरीज़ के पहले 2 मैच में उन्होंने 2 अर्धशतक बनाया था। तीसरे और आख़िरी मैच में उन्होंने शानदार शतक लगाया था। मुनरो पहले ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिनके नाम टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर में 3 शतक है। साल 2016 के आईपीएल सीज़न में वो कोलकाता टीम में शामिल हुए थे लेकिन उन्हें ख़ुद को साबित करने का ज़्यादा मौक़ा नहीं मिला था। साल 2017 के आईपीएल सीज़न से पहले केकेआर टीम ने उनका साथ छोड़ दिया था। चौंकाने वाली बात ये है कि पिछले आईपीएल सीज़न में वो नहीं बिके थे। नवंबर 2017 में मुनरो ने भारत के ख़िलाफ़ टी-20 मैच में 109 रन की पारी खेली थी। उन्होंने ख़ुद को सबित कर दिया, अब इंतज़ार है नीलामी के दिन का ।

#3 क्रिस लिन

LYNN

ऑस्ट्रेलिया के क्रिस लिन को देखकर ऐसा लगता है कि वो टी-20 के लिए ही बने हैं। वो जिस तरह से छक्के लगाते हैं वो क़ाबिल-ए-तारीफ़ है। जब वो पूरे रंग में होते हैं तो अकेले अपने दम पर मैच जिताने की क़ाबीलियत रखते हैं। ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश लीग में खेलते हुए उन्होंने ढेर सारे रन बनाए हैं। लिन, बिग बैश में सबसे ज़्यादा रन बनाने वालों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं। उन्होंने 48 मैच में 158.17 की स्ट्राइक रेट से 1539 रन बनाए हैं। इस टूर्नामेंट में 500 रन बनाने वाले खिलाड़ियों में लिन का स्ट्राइक रेट सबसे ज़्यादा है। क्रिस लिन बिग बैश में 100 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज़ हैं, उनसे पीछे एरॉन फिंच हैं जिन्होंने मेलबर्न रेनेगेड्स की तरफ़ से खेलते हुए 59 छक्के लगाए हैं। लिन को साल 2014 में आईपीएल की केकेआर टीम ने ख़रीदा था लेकिन उनको ज़्यादा मौक़ा नहीं मिल पाया। पिछले आईपीएल सीज़न में उन्होंने 7 मैच में 49.17 की औसत और 180.98 की स्ट्राइक रेट से 295 रन बनाए थे। कंधे की चोट की वजह से उन्हें आईपीएल से आराम दिया गया था। हांलाकि ये बात चौंकाने वाली थी कि केकेआर ने रिटेंशन के दौरान लिन से ऊपर सुनील नारेन को तरजीह दी है। मौजूदा बिग बैश लीग में उनका जलवा क़ायम है। ऐसे में ये लाज़मी है कि आईपीएल की नीलामी में वो ऊंची क़ीमत पर बिकेंगे।

#2 मिचेल स्टार्क

STARC

मौजूदा दौर में ऑस्ट्रेलिया के मिचेल स्टार्क दुनिया के बेहतरीन तेज़ गेंदबाज़ हैं। विपक्षी टीम को मुसीबत में डालने के लिए वो अकेले ही काफ़ी हैं। उनके पिन प्वाइंट यॉर्कर को झेलना सबके बस की बात नहीं है। साल 2014 में आईपीएल की बैंगलौर टीम ने उन्हें ख़रीदा था। अपने मैच जिताउ प्रदर्शन के ज़रिए उन्होंने कई मौक़ों पर ख़ुद को साबित किया है। आईपीएल के 2 सीज़न में उन्होंने 34 विकेट अपने नाम किए हैं, इसमें उनका इकॉनमी रेट 7.16 है। साल 2016 में वो चोट की वजह से आईपीएल नहीं खेल पाए थे और 2017 में चैंपियंस ट्रॉफ़ी की तैयारी के लिए उन्होंने इस टूर्नामेंट से दूरी बनाई थी। हाल ही में संपन्न हुई एशेज़ सीरीज़ में स्टार्क दूसरे सबसे ज़्यादा विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज़ रहे थे, वो भी तब जब वो एक मैच नहीं खेल पाए थे। अब सभी की नज़र आईपीएल नीलामी पर है जब स्टार्क पर बोली लगेगी।

#1 बेन स्टोक्स

STOKES

इंग्लैंड के बेन स्टोक्स मौजूदा पीढ़ी के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर में से एक हैं। वो पिछले सीज़न के सबसे महंगे खिलाड़ी थे, उन्हें राइज़िंग पुणे सुपरजाएंट ने 14.5 करोड़ में ख़रीदा था। चूंकि पुणे की टीम इस सीज़न में हिस्सा नहीं ले रही है ऐसे में वो इस बार नीलामी के लिए तैयार हैं। बेन स्टोक्स अपनी टीम की उम्मीदों पर खरे उतरे हैं, चाहे वो बल्लेबाज़ी की बात हो या गेंदबाज़ी की। पिछले सीज़न के 12 मैच में उन्होंने 142.98 की स्ट्राइक रेट से 316 रन बनाए थे, जिसमें एक शतक भी शामिल था। इसके अलावा उन्होंने 7.18 की इकॉनमी रेट से 12 विकेट हासिल किए थे। वो पिछले साल प्ले ऑफ़ मुक़ाबले में नहीं खेल पाए थे क्योंकि उन्हें अपनी राष्ट्रीय टीम में खेलने के लिए बुला लिया गया था। अगर वो फ़ाइनल में खेल पाते हो शायद मैच का नतीजा कुछ और ही होता। स्टोक्स ने अपने हरफ़नमौला प्रदर्शन की बदौलत कई मैच जिताए हैं और वो टी-20 के बेहद प्रभावशाली खिलाड़ी बन गए हैं, ये देखना दिलचस्प होगा कि वो नीलामी के दौरान कितनी क़ीमत पर ख़रीदे जाएंगे। लेखक – विपुल गुप्ता अनुवादक- शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...