Create
Notifications

IPL 2018: एक से अधिक अंतरराष्ट्रीय कप्तानों वाली 5 टीमें

Rahul Pandey

कप्तान आम तौर पर खेल को प्रभावित करने और नियंत्रित करने की कोशिश करता है। कप्तान एक ऐसी शक्ति होता है जो अपने नेतृत्व से टीम को मजबूती प्रदान करता है खासकर टी -20 क्रिकेट में। यह बात तो हम सभी जानते हैं कि टी-20 खेल एक या दो गेंदों में बदल सकता है और इस प्रकार टीम को आगे बढ़ाने के लिए स्थिर स्वभाव वाले खिलाड़ी की आवश्यकता होती है। इस परिदृश्य में कप्तान सबसे महत्वपूर्ण किरदार बन जाता है। आईपीएल के इतिहास में भी कई ऐसे ही कप्तान देखने को मिले हैं, जिन्होंने अपने नेतृत्व से अपनी टीम को ख़िताब तक पहुँचाया है। शेन वॉर्न ने आईपीएल के पहले संस्करण में राजस्थान रॉयल्स की जीत में नेतृत्व किया। उन्होंने टीम में एकता बनाई और साबित किया कि वह कितने अच्छे कप्तान थे। अब हर आईपीएल टीम कप्तान को चुनने में काफी महत्व देती है। कई टीमों ने अपने नियमित कप्तान की अनुपस्थिति में अपनी टीम का नेतृत्व करने वाले खिलाड़ियों को खरीदा है। इस साल के आईपीएल में 5 ऐसी टीमें हैं जिनके पास एक से अधिक खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपनी अंतरराष्ट्रीय टीमों का नेतृत्व किया है।

# 5 किंग्स-XI पंजाब

रविचंद्रन अश्विन इस पंजाब की अगुवाई करेंगे, हालांकि उन्होंने कभी भी भारतीय राष्ट्रीय टीम का नेतृत्व नहीं किया है, मगर उन्हें अपने राज्य की टीम का नेतृत्व का अनुभव है। फिर भी, उनके पास मदद के लिये ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय टीम का नेतृत्व किया है। आरोन फिंच के पास ऑस्ट्रेलिया की टी 20 टीम का नेतृत्व करने का अनुभव है। वह निश्चित रूप से अश्विन की मदद करेंगे। टीम में क्रिस गेल और युवराज सिंह भी है जो इस प्रारूप की अपनी समझ से टीम की मदद करेंगे। किंग्स-XI पंजाब की टीम के पास सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक डेविड मिलर भी हैं जिन्होंने पूर्व में पंजाब की अगुआई भी की है।

# 4 सनराइज़र्स हैदराबाद

डेविड वॉर्नर को सनराइजर्स हैदराबाद ने इस वर्ष नीलामी से पूर्व रिटेन रखा था और टीम का नेतृत्व करने के लिए चुना। ऑस्ट्रेलिया के विस्फोटक बल्लेबाज ने 2016 में अपना पहला आईपीएल खिताब जीतने वाली टीम का नेतृत्व किया था। टीम प्रबंधन ने भी उनकी कप्तानी में अपना विश्वास दिखाया है। केन विलियमसन को फिर से एसआरएच ने खरीदा, हालांकि वह बहुत बार टीम से अंदर और बाहर होते रहते हैं, फिर भी उनके कप्तानी कौशल पर संदेह नही किया जा सकता है। वह खेल के तीनों प्रारूपों में न्यूजीलैंड की टीम का नेतृत्व करते हैं और वॉर्नर की सहायता करने में विलियमसन सक्षम होंगे। इसके अलावा, हैदराबाद टीम में शाकिब अल हसन, शिखर धवन और भुवनेश्वर कुमार भी हैं, जो इस खेल की बहुत अच्छी समझ रखते हैं।

# 3 मुंबई इंडियंस

रोहित शर्मा आईपीएल के इतिहास के सबसे सफल कप्तान हैं। मुंबई इंडियंस के लिये अपनी कप्तानी के तहत उन्होंने तीन आईपीएल खिताब जीते हैं। हिटमैन ने कई बार भारतीय राष्ट्रीय टीम की भी कप्तानी की है और एक दिवसीय टीम के उपकप्तान भी हैं। जेपी डुमिनी मुंबई की फ्रैंचाइजी के लिए इस बार बहुत अच्छी खरीद रहे हैं। दक्षिण अफ्रीका के इस बल्लेबाज ने अपनी राष्ट्रीय टीम का कई बार नेतृत्व किया है और वह पहले भी दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी कर चुके है। इन दोनों के अलावा, काइरोन पोलार्ड के पास भी एक खिलाड़ी के तौर पर अच्छा अनुभव है।

# 2 चेन्नई सुपर किंग्स

दो साल के प्रतिबंध के बाद चेन्नई सुपर किंग्स इस बार वापसी कर रही हैं। टीम एक बार फिर से टूर्नामेंट में अपने प्रदर्शन से, अपना खोया हुआ सम्मान वापस पाना चाहेगी। टीम को एकजुट करने के लिए महेंद्र सिंह धोनी सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी होंगे। उन्होंने आईपीएल के पहले सीजन से सीएसके का नेतृत्व किया है। भारतीय राष्ट्रीय टीम के कप्तान के रूप में भी उनका एक बेहतरीन ट्रैक रिकॉर्ड रहा है। इनके अलावा फ़ाफ डू प्लेसी काफी समय दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट कप्तान रहे है। उन्होंने अपने कप्तानी कौशल से हर किसी को प्रभावित किया है और इस साल आईपीएल के दौरान धोनी की सहायता करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है। सीएसके की टीम में शेन वॉटसन, ड्वेन ब्रेव और सुरेश रैना जैसे खिलाड़ी भी हैं, जिनके पास भी अपनी टीमों की कप्तानी करने का अनुभव है।

# 1 रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर

आरसीबी एक ऐसी टीम रही है जिसने खिलाड़ियों की गुणवत्ता के बावजूद, अपने प्रदर्शन से कभी न्याय नहीं किया है। 2016 में विराट कोहली की कप्तानी में अंतर आना शुरू हुआ और आने वाले सीज़न में भी, उन्हें अपनी टीम को खिताब जीताने के लिए अच्छा प्रदर्शन करना होगा। वह तीनों प्रारूपों में भारतीय क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और बतौर कप्तान कैरियर के शुरूआती दौर में शानदार उपलब्धियां हासिल करने में सक्षम रहे हैं। एबी डीविलियर्स एक और ऐसे खिलाड़ी है, जिन्हें आरसीबी ने बरकरार रखा है। डीविलियर्स के पास दक्षिण अफ्रीकी टीम के नेतृत्व का अनुभव भी है। आईपीएल के पिछले सीज़न में भी, हमने देखा है कि खेल के समय तनावपूर्ण स्थितियों में कोहली हमेशा एबीडी से सलाह लेते हैं। इस साल, बैंगलोर फ्रैंचाइजी ने ब्रेंडन मैकुलम को भी खरीदा है, जिन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान कीवी टीम का नेतृत्व किया था। उन्हें अपनी आक्रामक कप्तानी के लिए जाना जाता है और कोहली को उनसे बहुत मदद मिलेगी। लेखक: प्रतीक सातपुते अनुवादक: राहुल पांडे

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...