Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2018: मुंबई इंडियंस द्वारा खरीदे गये राहुल चाहर के बारे में 10 महत्वपूर्ण जानकारी

ऋषि
ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:25 IST
Advertisement

फरवरी 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट् ने राजस्थान के 17 वर्षीय लेग स्पिनर राहुल चाहर को खरीदा। इससे 9 महीने पहले आरपीएल ने उसके भाई तेज गेंदबाज दीपक चाहर को भी खरीदा था। दीपक ने राजस्थान की तरफ से खेलते हुए एक घरेलू मुक़ाबले में हैदराबाद के खिलाफ 8 रन देकर 10 विकेट हासिल किये थे। अप्रैल 2017 में राहुल ने हाशिम अमला और ब्रेंडन मैकुलम जैसे धाकड़ बल्लेबाजों का विकेट झटक सभी को अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया था लेकिन उन्हें पिछले आईपीएल में सिर्फ 3 ही मैच खेलने का मौका मिला। उसके बाद राहुल भारतीय अंडर-19 टीम के साथ इंग्लैंड गये और वहां 4 यूथ एकदिवसीय मैचों में 10 विकेट हासिल किये जबकि यूथ टेस्ट मैच में भी उन्हें दो सफलता मिली और बल्ले से भी उन्होंने 25 और 17 का स्कोर बनाया। इस प्रदर्शन के बावजूद उन्हें विश्वकप के लिए भारत की अंडर-19 टीम में जगह नहीं मिली और जब उनसे इसपर पूछा गया तो उन्होंने कहा “सिर्फ चयनकर्ता ही बता सकते हैं”। हाल में ही संपन्न हुए सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी उन्होंने अच्छी गेंदबाजी करते हुए 4 मैचों में 6 विकेट हासिल किये। इसी वजह से उम्मीद लगाई जा रही थी कि आईपीएल में उनके लिए ऊँची बोली लग सकती है और वैसा ही हुआ। मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच लम्बी बोली चली और अंत में मुंबई की फ्रेंचाईजी ने उन्हें 1.9 करोड़ रूपये में खरीद लिया।

इस 18 वर्षीय लेग स्पिन गेंदबाज़ के बारे में ज़रुरी बातें:

#1 भरतपुर में जन्मे राहुल चाहर के क्रिकेट खेलने के पीछे सबसे बड़ा कारण उनके भाई दीपक चाहर हैं। राहुल जब 7 साल के थे उस समय दीपक ने अपने पहले ही प्रथम श्रेणी मैच में 10 रन देकर 8 विकेट हासिल किये थे। वह अपने भाई की तरह ही तेज गेंदबाजी करते थे लेकिन दीपक के सुझाव पर ही उन्होंने लेग स्पिनर बनने का फैसला किया। #2 राहुल ने यह माना कि जब वह  क्रिकेट को गंभीरता से लेने लगे उसके बाद स्कूल जाना बंद कर दिया था। उन्होंने अपने ताऊजी जो उनके कोच भी थे और अपने भाई को श्रेय देते हुए कहा कि उन्हें अच्छा क्रिकेटर बनाने में इनदोनों का काफी अहम योगदान है। #3 14 साल की उम्र में उन्होंने धोलपुर जिले से अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की। वहां उनके कोच सोमेन्द्र तिवारी का उन्हें काफी सहयोग मिला। #4
Advertisement
नवम्बर 2016 में राजस्थान के लिए राहुल ने अपना प्रथम श्रेणी प्रदार्पन किया और उस मैच में 2 विकेट हासिल किये। यह उनका एकमात्र प्रथम श्रेणी मैच भी है। #5 फ़रवरी 2017 जब उन्हें पहला लिस्ट ए मैच खेलने का मौका मिला लेकिन इस मैच में उन्होंने 5 ओवर में 48 रन देकर 1 विकेट हासिल किये। इस मैच में खराब प्रदर्शन कर बावजूद आगे के मैचों में वापसी करते हुए राहुल ने 6 लिस्ट ए मैचों में 4.69 की इकॉनमी से 8 विकेट हासिल किये। #6 आईपीएल 2017 की नीलामी में राइजिंग पुणे सुपरजायंट् ने उन्हें बेस प्राइस पर खरीदा और वहां उन्होंने 3 मैचों में 8.29 की इकॉनमी से रन खर्च करते हुए 2 विकेट हासिल किये। #7 आईपीएल से अनुभव प्राप्त कर राहुल ने अपने खेल को काफी बेहतर किया और उसके बाद भारत अंडर-19 के इंग्लैंड दौरे पर शानदार प्रदर्शन करते हुए 4 यूथ एकदिवसीय मैच में 15.2 की जबरदस्त औसत से 10 विकेट अपने नाम किये। #8 पिछले साल अक्टूबर में बीसीसीआई ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अभ्यास मैच के लिए बोर्ड प्रेसिडेंट-XI की टीम में राहुल चाहर की जगह दीपक चाहर के नाम की घोषणा कर दी लेकिन बाद में अपनी गलती सुधारते हुए टीम में राहुल का नाम शामिल किया गया। हालांकि, उन्हें 2 में से किसी भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला। #9 राहुल जब इंग्लैंड दौरे पर गये थे उस समय वह दक्षिण अफ्रीका के लेग स्पिनर इमरान ताहिर से सम्पर्क में रहते थे और उनसे महवपूर्ण सुझाव लेते रहते थे। एमएस धोनी और अजिंक्य रहाणे को राहुल काफी पसंद करते हैं और इन दोनों को वह “पहले अच्छा इन्सान” मानते हैं। #10 उन्हें न्यूज़ीलैंड में चल रही अंडर-19 विश्वकप टीम से बाहर कर दिया और इसके पीछे का कारण किसी को समझ नहीं आया। हालांकि, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन कर आईपीएल की नीलामी में 1.9 करोड़ की राशि पाने में सफल रहे।   लेखक- साहिल जैन अनुवादक- ऋषिकेश सिंह  Published 28 Jan 2018, 16:30 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit