Create
Notifications

IPL 2018: दिनेश कार्तिक ने कोलकाता नाइटराइडर्स की शर्मनाक हार के बाद भी टीम के प्ले ऑफ में पहुंचने के उम्मीद जताई

मयंक मेहता

कोलकाता नाइटराइडर्स को कल मुंबई इंडियंस के खिलाफ 102 रनों की शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। इस हार के बाद टीम के सह मालिक शाहरुख खान ने भी फैंस से माफी मांगी, तो टीम के कप्तान दिनेश कार्तिक ने काफी निराशा जाहिर की। हालांकि इतने खराब के प्रदर्शन के बाद भी उन्हें उम्मीद है कि उनकी टीम प्ले ऑफ के लिए क्वालीफाई कर सकती है। मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कार्तिक ने कहा, "हम अभी भी प्ले ऑफ में पहुंच सकते हैं। हमारे अभी भी तीन मैच बाकी है और हम एक बारी में एक ही मैच लेंगे। अगर मैच जीत जाते हैं, तो हम प्ले ऑफ में पहुंच जाएंगे। मुझे इस बात के ऊपर विश्वास है और मैं चाहता हूं कि मेरी टीम भी इस बात पर यकीन करें। 211 रनों का लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम की शुरूआत अच्छी नहीं रही थी और टीम ने लगातार अंतराल पर अपने विकेट गंवाए। टीम के लिए क्रिस लिन और नीतीश राणा ने सबसे ज्यादा (21) रन बनाए। इस मैच में मिली हार के बाद कोलकाता की टीम न सिर्फ टॉप 4 से बाहर हो गई, बल्कि टीम का नेट रनरेट भी नेगेटिव में चला गया है। हालांकि कार्तिक ने साफ तौर पर कहा कि प्लेइंग इलेवन में ज्यादा बदलाव नहीं करेंगे। उन्हें अपने खिलाडियों के ऊपर पूरा विश्वास है, उनके मुताबिक एक अच्छा लीडर होने के नाते कप्तान को अपनी टीम पर पूरा विश्वास होना चाहिए, जोकि उन्हें हैं। हार का कारण पूछे जाने पर कार्तिक ने कहा, "इस विकेट पर 190 अच्छा स्कोर था, लेकिन हमने 20 रन ज्यादा दे दिए। अंत में उन 20 रन ने ही बड़ा अंतर पैदा किया। दबाव में हम बिखर गए और हमने एक साथ कई विकेट गंवा दिए, उसके बाद वापसी करना बिल्कुल भी आसान नहीं होता। हमारी टीम की फील्डिंग भी अच्छी नहीं थी।" दिनेश कार्तिक ने महंगे साबित हुए कुलदीप यादव का भी बचाव किया। उनके मुताबिक यादव एक अच्छे गेंदबाज हैं और उन्होंने बीच ओवरों में काफी शानदार गेंदबाजी की है, लेकिन उन्हें भी रन पड़ सकते हैं। जब ऐसा होता है तो कुछ भी करना मुश्किल हो जाता है। कोलकाता का अगला मैच 12 मई को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ इंदौर में होगा और केकेआर को प्ले ऑफ में पहुंचने की उम्मीद को जीवित रखना है, तो उन्हें इस मैच में जीत हासिल करनी ही होगी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...