COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IPL 2018: चेन्नई और हैदराबाद के बीच ख़िताबी भिड़ंत आज, तीसरी बार चैंपियन बनने पर धोनी के धुरंधरों की नज़र

Sheen Naqwi
ANALYST
43   //    27 May 2018, 14:00 IST

56 लीग मैचों और 3 पले-ऑफ़ मैचों के बाद इंडियन प्रीमियर लीग की आख़िरकार वह घड़ी आ ही गई जिसका इंतज़ार सभी क्रिकेट फ़ैंस को था। बस अब से कुछ ही घंटों बाद इस बात का फ़ैसला हो जाएगा कि आईपीएल-11 पर किस टीम का क़ब्ज़ा होगा, क्योंकि आज शाम 7 बजे से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शुरू होगी ख़िताबी भिड़ंत। जहां 2 बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स के सामने होगी 2016 की चैंपियन सनराइज़र्स हैदराबाद।

 

दो साल बाद वापसी करने वाली चेन्नई की नज़र तीसरी बार चैंपियन बनने पर


 

 

चेन्नई सुपर किंग्स दो साल से इस लीग का हिस्सा नहीं थी और इस सीज़न से चेन्नई ने वापसी की थी। ये वापसी इतनी शानदार होगी इसका अंदाज़ा कम ही लोगों ने लगाया होगा क्योंकि टूर्नामेंट शुरू होने से पहले इस टीम को बुज़ुर्गों की फ़ौज कहा जा रहा था। लेकिन जिस टीम की कमान दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में हो तो फिर वह टीम अनहोनी से भी होनी करने का माद्दा रख सकती है। यही बात धोनी के धुंरधरों ने इस सीज़न में साबित करते हुए टीम को फ़ाइनल तक पहुंचाया और अब तीसरी बार इस ख़िताब को जीतने के इरादे से आज शाम मैदान में उतरेंगे। चेन्नई ने इससे पहले इस ख़िताब पर 2010 और 2011 में क़ब्ज़ा जमाया था।

 

3 सालों में दूसरे ख़िताब पर क़ब्ज़ा जमाने के इरादे से उतरेंगे सनराइज़र्स हैदराबाद


 

 

टूर्नामेंट शुरू होने से पहले हैदराबाद के नियमित कप्तान और विस्फोटक बल्लेबाज़ डेविड वॉर्नर बॉल टैंपरिंग की वजह से आईपीएल से बाहर हो गए थे। जिसके बाद ऐसा माना जाने लगा था कि हैदराबाद के लिए ये बड़ा झटका होगा, लेकिन वॉर्नर की जगह कमान संभालने वाले केन विलियमसन ने सभी को ग़लत साबित कर दिया। शानदार कप्तानी के साथ साथ लाजवाब बल्लेबाज़ी के दम पर उन्होंने हैदराबाद को इस सीज़न की सबसे सशक्त टीमों में से एक बना दिया। विलियमसन ने अब तक इस सीज़न में सबसे ज़्यादा 688 रन बनाए हैं और ऑरेंज कैप लगातार उन्हीं के सिर पर है। हालांकि लीग स्टेज के आख़िरी 3 मैच और प्ले-ऑफ़ के पहले क्वालिफ़ायर में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन लगातार 4 हारों के बाद इस टीम ने क्वालिफ़ायर-2 में कोलकाता नाइट राइडर्स पर शानदार जीत दर्ज करते हुए फ़ाइनल का सफ़र तय किया है।

 

आंकड़ों और मौजूदा सीज़न में चेन्नई का पलड़ा है हैदराबाद पर भारी


 

 

आईपीएल के इस सीज़न का ये फ़ाइनल किसी ड्रीम फ़ाइनल से कम नहीं है क्योंकि टॉप-2 टीमों के बीच ये मुक़ाबला होने जा रहा है। लीग स्टेज के बाद हैदराबाद नंबर-1 पर क़ाबिज़ थी तो चेन्नई थी नंबर-2 पर। लेकिन बात जब आंकड़ों की हो तो धोनी के धुरंधर हैदराबाद से कहीं आगे हैं। इस सीज़न में 3 बार इन दोनों टीमों का सामना हुआ था, जहां तीनों ही बार बाज़ी चेन्नई ने जीती। इतना ही नहीं आईपीएल इतिहास में अब तक हैदराबाद और चेन्नई के बीच 9 मुक़ाबले हुए हैं और इनमें 7 बार जीत का सेहरा चेन्नई के सिर बंधा है जबकि सिर्फ़ 2 बार हैदराबाद को जीत नसीब हुई है। लिहाज़ा धोनी के धुंरधरों की नज़र इस सीज़न में हैदराबाद पर 4-0 के क्लीन स्वीप के साथ चैंपियन बनने पर होगी।

 

पिच का पेंच और मौसम का मिज़ाज


 

 

मुक़ाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाने वाला है यानी एक ऐसी पिच पर जो रनों की बारिश के लिए जाना जाता है। वानखेड़े की पिच को अगर रोड कहें तो ग़लत नहीं होगा, क्योंकि बल्लेबाज़ों के लिए ये जन्नत है। सपाट पिच पर जितनी तेज़ी से गेंद बल्ले पर आती है उतनी ही तेज़ी से उस गेंद को छोटी सीमा रेखा के पार बिजली जैसी तेज़ आउटफ़िल्ड पहुंचा देती है। बात अगर मौसम के मिज़ाज की करें तो मुंबई में मॉनसून आने में अभी देर है यानी बिना किसी रुकावट के एक शानदार मुक़ाबला दर्शकों को देखने मिल सकता है।

 

क्या होगी चेन्नई और हैदराबाद की अंतिम एकादश ?




 

चेन्नई सुपर किंग्स संभावित-XI: शेन वॉट्सन, फ़ाफ़ डू प्लेसी, सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, एम एस धोनी, ड्वेन ब्रावो, रविंद्र जडेजा, दीपक चहर, हरभजन सिंह, शार्दुल ठाकुर और लुंगी एनगिडी

सनराइज़र्स हैदराबाद संभावित-XI: ऋद्धिमान साहा, शिखर धवन, केन विलियमसन, शाक़िब-अल-हसन, दीपक हुडा/मनीष पांडे, युसूफ़ पठान, कार्लोस ब्रैथवेट, राशिद ख़ान, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा/ख़लील अहमद

 

Topics you might be interested in:
Advertisement
Fetching more content...