Create
Notifications

IPL 2018 के 5 सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी

आशीष कुमार

जबकि टी -20 क्रिकेट को युवा क्रिकेटरों का खेल माना जाता है, हम खेल के सबसे छोटे प्रारूप में अनुभवी खिलाड़ियों के महत्व को अनदेखा नहीं कर सकते हैं। आईपीएल में कई ऐसे खिलाड़ी है जो जिनकी उम्र 30 वर्ष से अधिक है लेकिन वो अपनी प्रदर्शन से सबको प्रभावित कर रहे हैं। सचिन तेंदुलकर, जैक्स कैलिस और प्रवीण ताम्बे जैसे उम्रदराज खिलाड़ियों ने भी 35 साल की उम्र पार करने के बाद टी -20 लीग में शानदार प्रदर्शन किया है। आइए जानते हैं आईपीएल के मौजूदा सीज़न में खेल रहे 5 सबसे उम्रदराज खिलाड़ियों के बारे में:

युवराज सिंह - 36 साल

आईसीसी टी-20 विश्व कप 2007 में स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ एक ओवर में 6 छक्के लगाकर भारतीय टीम की खिताबी जीत के सूत्रधार रहे युवराज सिंह आईपीएल 2018 में खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। इस सीज़न में अपनी घरेलू फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब में लौटने के बाद, वह अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। 7 मैचों में 91.42 की स्ट्राइक रेट और 12.80 की निराशाजनक औसत से उन्होंने केवल 64 रन बनाए हैं, युवराज ने अब तक खेले गए 7 मैचों में केवल 2 छक्के लगाए हैं, उनके लगातार गिरते प्रदर्शन को देखते हुए कप्तान रविचंद्रन अश्विन को उनके बदले मनोज तिवारी को अंतिम ग्यारह में जगह देने के लिए मजबूर होना पड़ा। अपने वर्तमान फॉर्म के बावजूद, युवराज को हमेशा भारतीय क्रिकेट के महानतम खिलाड़ी के रूप में याद किया जायेगा।

मिचेल जॉनसन - 36 साल

2013-2014 में इंग्लैंड को 5-0 से हराकर ऑस्ट्रेलिया की एशेज जीत के नायक बने मिचेल जॉनसन आईपीएल 2018 में अभी तक अपने रंग में नज़र नहीं आये हैं। जॉनसन लगातार 145 किमी / घंटा की तेज़ी से गेंदबाज़ी कर रहे हैं, लेकिन उसमें वो धार अब तक नज़र नहीं आई, जिसके लिए वह जाने जाते हैं। मिचेल स्टार्क की अनुपस्थिति में केकेआर को उनसे अपने गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करने की उम्मीद थी, लेकिन उन्होंने 6 मैचों में 10 की इकोनॉमी रेट से केवल 2 विकेट लिए हैं, जिससे केकेआर को उन्हें इंग्लैंड के टॉम कुर्रन के साथ बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा। अभी फ़िलहाल वह युवा भारतीय खिलाड़ी कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी को गेंदबाज़ी की सलाह दे रहे हैं। जॉनसन अभी भी टीम में वापसी कर बल्लेबाज़ों के लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं।

हरभजन सिंह - 37 साल

आईपीएल नीलामी 2018 में चेन्नई सुपर किंग्स ने 2 करोड़ रु में हरभजन को अपनी टीम में शामिल किया था। आईपीएल में सबसे ज्यादा डॉट गेंदें करने का रिकॉर्ड अभी भी उनके नाम दर्ज है। हालांकि आईपीएल 2018 में उनका प्रदर्शन अपेक्षा अनुरूप नहीं रहा है और उन्होंने 9 मैचों में केवल 7 विकेट है, लेकिन वह पॉवरप्ले के ओवरों के दौरान एमएस धोनी के भरोसेमंद गेंदबाज़ रहे हैं। 7 के करीब की इकोनॉमी रेट के साथ हरभजन ने विरोधी बल्लेबाज़ों पर अंकुश लगाया है। मुंबई इंडियंस में रहते हुए एक पिंच-हिटर के रूप में भज्जी ने कई मैचों में अपनी टीम के लिए विस्फोटक बल्लेबाज़ी की थी, लेकिन इस सीज़न में वह बल्लेबाज़ी में कुछ खास नहीं कर पाए हैं। फिर भी, 'भज्जी' ने सीएसके में रविचंद्रन आश्विन की कमी पूरी की है।

क्रिस गेल - 38 साल

'यूनिवर्स बॉस' के नाम से जाने जाते क्रिस गेल ने आईपीएल के मौजूदा सीज़न में एक शतक और कुल 26 छक्के लगाए हैं। उनके प्रदर्शन से उनकी पूर्व टीम आरसीबी निश्चित रूप से पछता रही होगी क्यूँकि आईपीएल नीलामी के दौरान उन्होंने गेल को टीम में रिटेन नहीं किया था। किंग्स इलेवन पंजाब ने 2 करोड़ रु में इस विंडीज बल्लेबाज़ को टीम में शामिल किया था। आरसीबी के अपने साथी के एल राहुल के साथ मिलकर उन्होंने अपनी टीम की जीत में निर्णायक भूमिका निभाई है। आईपीएल 2018 में, गेल ने 8 मैचों में 55.33 की औसत और 147.55 की स्ट्राइक रेट से शानदार 332 रन बनाए हैं। प्लेऑफ में पहुंचने और ख़िताबी जीत दर्ज करने के लिए केएक्सआईपी के कप्तान रविचंद्रन अश्विन को इस 38 वर्षीय खिलाड़ी से बहुत उमीदे होंगी।

इमरान ताहिर - 39 साल

आईपीएल 2018 में 39 वर्ष के चेन्नई सुपर किंग्स के अनुभवी स्पिनर इमरान ताहिर सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी हैं। आईपीएल 2017 में उन्होंने 12 मैचों में 18 विकेट लेकर अपनी टीम पुणे सुपरजीएंट्स को फाइनल तक पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई थी। दक्षिण अफ़्रीकी गेंदबाज़ गुगली और गेंदबाज़ी में विविधता के लिए जाने जाते हैं। हालाँकि आईपीएल 2018 में वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। 6 मैचों में उन्होंने 9 की इकोनॉमी रेट से केवल 6 विकेट लिए हैं और इसलिए वह टीम में निरंतर जगह बनाने में नाकाम रहे हैं। सीएसके के औसत गेंदबाजी प्रदर्शन के बाद कप्तान एमएस धोनी उम्मीद कर रहे होंगे कि 39 वर्षीय यह दक्षिण अफ़्रीकी गेंदबाज़ फॉर्म में आकर अपना बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे और चेन्नई की तीसरी खिताबी जीत के सूत्रधार बनेंगे। लेखक: लोगू राजा अनुवादक: आशीष कुमार

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...