COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IPL 2018: मुंबई इंडियंस की प्ले-ऑफ़ में पहुंचने की संभावना बरकरार

FEATURED WRITER
25   //    14 May 2018, 12:40 IST

आईपीएल की मौजूदा चैम्पियन मुंबई इंडियंस रविवार रात को राजस्थान रॉयल्स के हाथों पराजय के बाद टूर्नामेंट में 12 अंकों के साथ अंक तालिका में पिछड़ गई और प्ले-ऑफ़ की दौड़ से लगभग बाहर हो गई। वे अब छठे स्थान पर आ गए हैं लेकिन अब भी उनके प्ले-ऑफ़ में पहुँचने की संभावनाएं बाकी है। इसमें दूसरी टीमों के आंकड़ों और रन रेट के मुताबिक़ मुंबई को आगे जाने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा उन्हें खुद के बचे हुए दोनों मैच भी जीतने अनिवार्य होंगे।

बचे हुए दोनों मैच जीतने पर मुंबई इंडियंस के कुल अंक 14 हो जाएंगे और रन रेट के मामले में वे अभी आगे हैं। उनसे आगे सभी टीमें नेट रन रेट के मामले में पीछे है। कहने का तात्पर्य है कि अगर सब कुछ मुंबई की जरूरतों के मुताबिक़ घटित होता है, तो वे चौथे स्थान के साथ टूर्नामेंट में प्लेऑफ़ के लिए क्वालीफाई कर सकते हैं।

फिलहाल चेन्नई सुपरकिंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीमों ने क्वालीफाई कर लिया है वहीँ दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम प्ले-ऑफ़ की दौड़ से बाहर है। मुंबई के अलावा किंग्स इलेवन पंजाब, राजस्थान रॉयल्स, कोलकाता नाइटराइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीमें दौड़ में हैं।

अंक तालिका की स्थिति






























































































 टीम मैच  जीत  हार  टाई  नो रिजल्ट  अंक  नेट रन रेट
 सनराइजर्स हैदराबाद  12  9  3  -  -  18  +0.400
 चेन्नई सुपर किंग्स  12  8  4  -  -  16  +0.383
 किंग्स XI पंजाब  11  6  5  -  -  12  -0.056
 कोलकाता नाइटराइडर्स  12  6  6  -  -  12  -0.189
 राजस्थान रॉयल्स  12  6  6  -  -  12  -0.347
 मुंबई इंडियंस  12  5  7  -  -  10  +0.405
 रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर  11  4  7  -  -  8  -0.261
 दिल्ली डेयरडेविल्स  12  3  9  -  -  6  -0.725

अन्य मैचों का परिणाम ऐसे होने से मिलेगी मुम्बई इंडियंस को मदद



मुंबई के पक्ष में सभी मैचों का नतीजा आने के बाद अंतिम तालिका कुछ ऐसे होगी और वे अंतिम 4 में पहुंच जाएंगे



सीधे शब्दों में कहें तो मुंबई इंडियंस को आने वाले दोनों मैच हर हाल में अच्छे रेन रेट के साथ जीतने होंगे और बाकी टीमों के नतीजे उनके पक्ष में आने का इन्तजार करना होगा। खुद के प्रदर्शन के साथ ही उनकी उम्मीदें अब अन्य टीमों पर भी टिकी हुई है। एक बात उनके पक्ष में नेट रन रेट भी है जो उन्हें बाकी टीमों से आगे खड़ा करती है।

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...