Create
Notifications

IPL 2018: गौतम गंभीर के मुताबिक अगर उन्हें टीम में चुना जाता तो वो जरूर खेलते

मयंक मेहता

दिल्ली डेयरडेविल्स के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने आईपीएल के मौजूदा सीजन को अपने करियर का सबसे बेकार सीजन बताया। दिल्ली की टीम इस साल भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई और वो अंक तालिका में 10 पॉइंट के साथ आखिरी स्थान पर रहे। इस सीजन की शुरूआत में दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान के रूप में करने वाले गंभीर ने बीच टूर्नामेंट में टीम की कप्तानी छोड़ दी थी। इसके बाद श्रेयस अय्यर की कप्तानी में उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। हालांकि गंभीर ने साफ कर दिया है कि अगर उन्हें टीम में जगह दी जाती, तो वो जरूर खेलते। हिंदुस्तान टाइम्स में लिखे अपने लेख में गंभीर ने लिखा, "मुझसे कई बार पूछा गया कि कप्तानी छोड़ने के बाद मैं क्यों नहीं खेला। मेरा जवाब यह ही है कि अगर मुझे चुना जाता, तो मैं जरूर खेलता। मैंने बस टीम की कप्तानी छोड़ी थी, मैं अभी रिटायर नहीं हो रहा हूं। मेरा ध्यान अभी भी अपनी टीम के लिए खेलते हुए मैच जीतने का है।" 7 साल कोलकाता नाइटराइडर्स की कप्तानी करने वाले गौतम गंभीर को इस साल नीलामी में दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदते हुए अपनी टीम का कप्तान बनाया। गंभीर को जब दिल्ली के साथ जोड़ा गया था, तो सबको उम्मीद थी कि वो केकेआर की तरह डेयरडेविल्स को भी पहली बार आईपीएल कप जिता देंगे। हालांकि वो बल्ले और कप्तानी के साथ पूरी तरह से नाकाम रहे। इस सीजन में गंभीर की कप्तानी में दिल्ली की टीम को 6 मैचों में से सिर्फ 1 में ही जीत मिली। वहीं गंभीर का खुद का फॉर्म बढ़िया नहीं रहा है, 6 मैचों की 5 पारियों में वो सिर्फ 85 रन बना पाए। इसमें एक अर्धशतकीय पारी भी शामिल है। दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम इस साल सिर्फ 14 में से 5 मैच ही जीत पाई है और टीम के इतने खराब प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर गंभीर ने कहा, "हमारी टीम के मुख्य गेंदबाज कगिसो रबाड़ा और क्रिस मॉरिस चोट के कारण बाहर थे, इसके अलावा हमारे मुख्य खिलाड़ियों का प्रदर्शन भी उतना अच्छा नहीं कर पाए।" हालांकि अब देखना होगा कि अगले साल गौतम गंभीर किस किरदार में आईपीएल में नजर आते हैं।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...