Create
Notifications

IPL 2018: महेंद्र सिंह धोनी के मुताबिक उम्र से ज्यादा खिलाड़ियों की फिटनेस ज्यादा महत्वपूर्ण होती है

मयंक मेहता

दो साल बाद आईपीएल में वापसी करने वाली चेन्नई सुपरकिंग्स ने फाइनल में शेन वॉटसन के शानदार शतक की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हराते हुए तीसरी बार खिताब को अपने नाम किया। चैंपियन बनने के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि उम्र से ज्यादा खिलाड़ी की फिटनेस ज्यादा महत्वपूर्ण होती है। जनवरी में हई नीलामी के समय चेन्नई सुपरकिंग्स द्वारा अपनी टीम में 30 साल के ऊपर के 9 खिलाड़ी को खरीदने के बाद टीम की काफी आलोचना हुई थी। हालांकि पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन सेरामनी में इस बारे में पूछे जाने पर धोनी ने कहा, "हम हमेशा ही उम्र पर काफी जोर देते हैं, लेकिन फिटनेस ज्यादा जरूरी होती है। उदाहरण के तौर रायडू 32 साल के हैं, लेकिन वो फिट है और इसका असर उनकी फील्डिंग पर भी नहीं दिखता। मेरे हिसाब से हमेशा ही एक खिलाड़ी की उम्र से ज्यादा उसकी फिटनेस महत्वपूर्ण होती है। हर एक कप्तान को ऐसा खिलाड़ी चाहिए होता है, जो फील्ड में अच्छा प्रदर्शन कर पाए। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि वो खिलाड़ी किस साल में पैदा हुआ, फिर वो 19 साल का हो या 20।" फाइनल में चेन्नई के लिए शेन वॉटसन ने शानदार शतक लगाया। उनकी पारी के दम पर ही सीएसके ने 9 गेंद रहते हुए 8 विकेट से इस मैच और कप को अपने नाम किया। चेन्नई सुपरकिंग्स ने इस साल शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने आलोचकों का मुंह अच्छे से बंद किया। सीएसके के लिए सबसे अच्छी बात रही है कि हर मैच में उनको एक नया हीरो मिला। अंबाती रायडू, शेन वॉटसन, सुरेश रैना, दीपक चाहर, फाफ डू प्लेसी, धोनी, लुंगी एनगिडी जैसे खिलाडियों ने अपनी भूमिका अच्छे से निभाते हुए टीम को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई। हालांकि चेन्नई की इस जीत का श्रेय कप्तान धोेनी को भी जाता है, जिन्होंने बेहतरीन तरीके से टीम की कप्तानी करते हुए इस खिताब को तीसरी बार जीता।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...