Create

IPL 2018: 3 ऐसे 'अनसोल्ड' गेंदबाज़ जो चोटिल खिलाड़ियों की ले सकते हैं जगह

इंडियन प्रीमियर लीग की नीलामी हमेशा से अप्रत्याशित रहती आई है। पिछले कुछ सालों में, आईपीएल नीलामी में बहुत अच्छे अच्छे खिलाड़ियों को सस्ते में खरीदा गया है, जबकि कम नाम वाले खिलाड़ियों को करोड़ों मिल जाते हैं। इस तरह नीलामी हर दूसरे वर्ष टूर्नामेंट से पहले कई आश्चर्य सामने ले आती है। ऐसे कई खिलाड़ी होते हैं जो राष्ट्रिय टीम के चलते आने वाली बाधाओं के कारण खरीदारी सूची से बाहर रह जाते हैं। वहीं कुछ खिलाड़ियों के पास ज्यादा अच्छे आँकड़े नहीं होते हैं, ऐसे में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगातार प्रदर्शन करने के बाद भी वह नजरअंदाज हो जाते हैं। दूसरी ओर, कुछ टीमों की योजना में फिट नहीं होते हैं। हालांकि, आईपीएल नियम इस तरह के खिलाड़ी को एक घायल खिलाड़ी के रिप्लेसमेंट के रूप में टूर्नामेंट में वापसी का मौका देता है। यहां हम ऐसे गेंदबाजों पर नज़र डाल रहे हैं जो नीलामी में बिक नही पाए, लेकिन दूसरे खिलाड़ी को चोट लगने के चलते लीग में वापसी कर सकते हैं।

# 3 मोर्ने मॉर्केल

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज मोर्ने मॉर्केल, तीनों प्रारूपों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज़ में दक्षिण अफ्रीका के लिए खेल रहे मॉर्केल श्रृंखला के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। हालांकि उनकी गति में थोड़ी गिरावट ज़रूर आई है, फिर भी वह एक गेंदबाज के तौर पर उतने ही प्रभावी हैं जितने वह पहले हुआ करते थे। दक्षिण अफ्रीका के लिए 44 टी -20 खेल चुके मॉर्केल ने 7.50 की इकॉनमी से 47 विकेट लिए हैं। आईपीएल में, हालांकि उन्हें ज्यादा सफलता नहीं मिली है। उनका सर्वश्रेष्ठ सीजन 2012 का रहा था, जहां उन्होंने 16 मैचों में 25 विकेट लिए थे। कुल मिलाकर, आईपीएल में उन्होंने 70 मैचों में 77 विकेट लिए हैं। मोर्कल एक तेज गेंदबाज के लिए एक अच्छे विकल्प हैं जो अंतिम ओवेरों में भी गेंदबाज़ी कर सकते हैं। हो सकता है कि वह अपनी पूर्व टीम केकेआर में फिट हो जायें, जो कि वर्तमान में अपने खिलाड़ियों की चोट की समस्या से जूझ रही है।

# 2 सैमुअल बद्री

सैमुअल बद्री वर्तमान में विश्व के सर्वश्रेष्ठ लेग स्पिनरों में से एक हैं। हालांकि उनकी गेंदें ज्यादा स्पिन नही होती मगर वह एक ऐसे बुद्धिमान गेंदबाज है जिनपर कोई टीम पर भरोसा कर सकती है। बद्री अपने करियर की शुरुआत से ही एक टी 20 गेंदबाज रहे हैं। उन्होंने अब तक एक भी वनडे या टेस्ट नहीं खेला है, लेकिन 45 टी 20 मैचों में वेस्टइंडीज का प्रतिनिधित्व किया है जिसमें उन्होंने 5.98 की प्रभावी इकॉनमी से 54 विकेट लिए हैं। वह वर्ल्ड टी 20 2016 में विंडीज के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ थे, और टीम को टूर्नामेंट जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वालों में से थे। पिछले साल आईपीएल में, बद्री रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से खेले थे और मुंबई इंडियंस के खिलाफ हैट्रिक भी लगाई थी। वह वर्तमान में आईसीसी की गेंदबाजों की टी -20 रैंकिंग की सूची में तीसरे स्थान पर है।

# 1 ईश सोढ़ी

ईश सोढ़ी का इस वर्ष आईपीएल नीलामी में न बिकना अश्चार्जनक रहा था, वो भी तब जब उनकी बेस प्राइज़ मात्र 50 लाख थी। सोढ़ी अपने करियर के शिखर पर हैं और आईसीसी टी 20 गेंदबाज़ी रैंकिंग की सूची में दूसरा स्थान पर हैं। न केवल टी -20 में, वह वनडे में भी प्रभावी रहे हैं। सोढ़ी ने 26 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेले हैं जिसमें उन्होंने 7.43 की इकॉनमी से 36 विकेट लिए हैं। पर्याप्त अंतरराष्ट्रीय अनुभव के साथ, वह एक स्पिनर के प्रतिस्थापन के रूप में अच्छे विकल्प हो सकते है। सोढ़ी ने अभी तक आईपीएल में नहीं खेला है और अगर उनके भाग्य में लिखा होगा तो इस साल वह लीग का हिस्सा बन सकते है। लेखक: विपुल गुप्ता अनुवादक: राहुल पांडे

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment