Create

IPL 2018: कोलकाता नाइटराइडर्स में गौतम गंभीर की जगह हासिल करने के 5 मज़बूत दावेदार

Rahul Pandey

पिछले 7 सीज़न से भारत के पूर्वी क्षेत्र कोलकाता की इस आईपीएल फ्रैंचाइजी के पास गौतम गंभीर के रूप में एक शानदार कप्तान था, जिसके तहत उन्होंने 2012 और 2014 में क्रमशः दो खिताब जीते थे। हालांकि, रिपोर्टों के अनुसार गंभीर ने खुद ही इस सीजन के लिए रिटेन न करने के लिए 2018 की नीलामी से पहले केकेआर प्रबंधन को निर्देश दिया था। अब जबकि कोलकाता नाइटराइडर्स नये कप्तान की तलाश में है, हमने यहाँ कप्तानी पद के लिए 5 संभावित दावेदारों की एक सूची तैयार की है:

#5 दिनेश कार्तिक

पिछले सीजन में गुजरात लायंस के लिए खेलने वाले इस 32 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज को नाइटराइडर्स ने 7.4 करोड़ की बड़ी रकम देकर खरीदा था। तमिलनाडु के इस खिलाड़ी का सभी आईपीएल फ्रैंचाइजी के लिए काफी अच्छा प्रदर्शन रहा है, जिसमें उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स, किंग्स-XI पंजाब और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेला है। इतने सारे फ्रेंचाइजी के लिए खेलने के उनके अनुभव के अलावा कार्तिक 2009-10 के सत्र से तमिलनाडु रणजी टीम के कप्तान भी रहे हैं। इसके अलावा, 2004 में उनके अंतरराष्ट्रीय शुरुआत के बाद से वह सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, एमएस धोनी और विराट कोहली सहित कई कप्तानों के तहत खेले हैं, जो उनके लिए एक और लाभ है। इसके अलावा वह आईपीएल 7 में डेयरडेविल्स के उपकप्तान भी थे।

#4 रॉबिन उथप्पा

रॉबिन उथप्पा के पास घरेलू सर्किट में कप्तानी का अधिक अनुभव नहीं है, सिवाय चार साल पहले ऑस्ट्रेलिया 'ए' के खिलाफ भारत 'ए' की कप्तानी करने के अलावा। लेकिन केकेआर के साथ उनका लंबे समय से जुड़ा होना उन्हें कप्तानी पद के लिए दूसरा सबसे संभावित उम्मीदवार बना देता है।
यह विकेटकीपर बल्लेबाज 2014 से टीम के साथ रहा है और इन सभी वर्षों में उनके सबसे अच्छे बल्लेबाज भी रहे हैं। उथप्पा ने इस फ्रैंचाइज़ी के लिए ढेरों रन बनाए हैं। केकेआर के लिए 58 मैच में शीर्ष क्रम के इस बल्लेबाज ने 1,806 रन बनाए हैं। उनका पूर्व कप्तान गौतम गंभीर के साथ चार साल का सहयोगी के रूप रहने का अनुभव, गंभीर की अनुपस्थिति में टीम का नेतृत्व करने में सहायक साबित हो सकता है।

#3 पियुष चावला

इस लेग स्पिनर का आधार मूल्य 1 करोड़ रुपये था, और हाल की नीलामी में उनके लिए चार टीमों की ओर से बोली लगाई गई थी, लेकिन उन्हें अंततः चेन्नई ने 4.2 करोड़ रुपये में खरीदा। हालांकि, चावला के लिये उनकी पूर्व फ्रैंचाइजी ने आगामी सीजन के लिए उन्हें बरक़रार रखने के लिए आरटीएम विकल्प का इस्तेमाल किया। एक दशक से भी ज़्यादा लंबे अपने करियर में छोटी छोटी कप्तानी (2006 में पाकिस्तान के दौरे के लिए अंडर 19 टीम के कप्तान, 2002 में एशिया कप में अंडर 15 टीम के कप्तान आदि) के अलावा इस अनुभवी खिलाड़ी पास कप्तानी का कोई विशेष अनुभव नही है। लेकिन कोलकाता के साथ उनका पहले से जुड़ा होना उनको इस पड़ का उम्मीदवार बना देता है। 2014 के आईपीएल प्लेयर नीलामी में केकेआर ने चावला को 4.25 करोड़ रुपये की बड़ी राशि देकर खरीदा था और पिछले कुछ वर्षों में उन्होंने लेग स्पिनर के तौर पर प्रशंसनीय प्रदर्शन तो किया ही है साथ ही बल्ले से निचले क्रम में भी कुछ महत्वपूर्ण योगदान भी दिए है।

#2 क्रिस लिन

क्रिस लिन ने बिग बैश लीग में क्वींसलैंड और ब्रिस्बेन हीट के साथ नेतृत्व करके यह दिखाया है कि वह टीमों का नेतृत्व कर सकते हैं। ब्रिस्बेन हीट के मौजूदा कप्तान, लिन बीबीएल 6 में शानदार फॉर्म में थे, जिसमें उन्होंने पांच मैचों में 154.50 की औसत से और 177.58 की स्ट्राइक रेट के साथ 309 रन बनाये थे और उन्हें 'प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट' का ख़िताब भी मिला था। उन्हें पिछले साल 'ऑस्ट्रेलिया ए' की टीम का कप्तान भी चुना गया था। आईपीएल के अलावा, यह आक्रामक खिलाड़ी कैरेबियाई प्रीमीयर लीग और श्रीलंका के प्रीमीयर लीग में खेल चुका है। लिन को 2014 की प्लेयर नीलामी में केकेआर ने खरीदा था और पिछले साल उन्होंने 7 मैचों में 49.16 की औसत और 180.98 की स्ट्राइक रेट से 295 रन बनाए। हालांकि, उनकी हालिया चोटें, टूर्नामेंट से पहले केकेआर की सबसे बड़ी चिंता है।

#1 सुनील नरेन

कैरेबियाई द्वीप का यह 'मिस्ट्री स्पिनर' 2012 में जब केकेआर ने अपनी पहली आईपीएल ट्रॉफी जीती थी, तबसे फ्रैंचाइज़ी का एक नियमित सदस्य रहा है। नाइटराइडर्स के लिए अपने पहले सीजन में उन्होंने सभी टीमों के बल्लेबाजों को परेशान किया, और उन्हें 'प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट' भी चुना गया जहाँ उन्होंने 24 ओवर में 5.47 रन प्रति ओवर से 24 विकेट लिए। इस प्रदर्शन के चलते सुनील नरेन को 2018 की प्लेयर नीलामी से पहले फ्रैंचाइज़ी द्वारा बनाए रखा गया था। हालांकि वह पिछले तीन सत्रों से विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में बहुत प्रभावी नहीं रहे हैं, लेकिन वह लगातार रन बनाने में सफल रहे हैं। अगर इस सूची में शामिल किसी और खिलाड़ी को नहीं तो नरेन को कप्तान या उपकप्तान का दायित्व दिया जा सकता है। लेखक: उमाइमा सईद अनुवादक: राहुल पांडे

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...