Create

IPL: अब तक के सभी सीज़न के 5 सबसे बड़े झगड़े

क्रिकेट के खेल को जेंटलमेन के खेल के तौर पर जाना जाता है, लेकिन बदलते दौर के साथ ही क्रिकेट में काफी बदलाव देखने को मिला है। इस बदलाव के चलते खिलाड़ी मैदान पर अपनी भावनाओं को जाहिर करने से भी पीछे नहीं हटते हैं। वहीं आज के दौर में खिलाड़ियों पर काफी दबाव भी देखा गया है जिसके चलते खिलाड़ियों को मैदान पर काफी उग्र होते हुए भी देखा गया है। इंडियन प्रीमियर लीग किसी अपवाद से कम नहीं है। आईपीएल नीलामी में खिलाड़ियों को एक मोटी रकम देकर खरीदा जाता है और बेशक उन खिलाड़ियों पर इस रकम को जायज ठहराने के लिए शानदार प्रदर्शन करने का दबाव होता है। आईपीएल के 11वें सीजन की तैयारी हो चुकी है और जल्द ही इसकी शुरुआत होने वाली है। हालांकि आईपीएल के बिते 10 सीजन में ऐसे कई मौके आए हैं जब खिलाड़ियों के बीच मैदान पर किसी बात को लेकर बहसबाजी होते हुए देखा गया है। इसके बाद कई मौकों पर टीम के बाकी खिलाड़ियों या अंपायर के जरिए बीच बचाव किया गया है। लेकिन आखिर में कई बार खिलाड़ियों को इस बहसबाजी या झगड़े का हर्जाना भी भरना होता है। आइए, आईपीएल के 10 सालों के दौरान हुए टॉप 5 झगड़ों पर डालते हैं एक नजर:

#5 काइरोन पोलार्ड और शेन वॉटसन, आईपीएल 2013

विवाद मुंबई इंडियंस के हरफनमौला खिलाड़ी काइरोन पोलार्ड गेंद और बल्ले दोनों से मैदान पर कमाल दिखाने के लिए माहिर हैं। आईपीएल में भी पोलार्ड ने काफी बार अपनी क्षमता से लोगों को प्रभावित किया है। लेकिन आईपीएल के छठे सीजन में शेन वॉटसन के साथ हुए झगड़े को लेकर पोलार्ड ने काफी सुर्खियां बटोरी। साल 2013 के आईपीएल सीजन में मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच हुए मैच के दौरान मुंबई इंडियंस के काइरोन पोलार्ड और राजस्थान रॉयल्स के शेन वॉटसन के बीच बहसबाजी हो गई। दरअसल, शेन वॉटसन जैसे ही मैदान पर बल्लेबाजी करने के लिए आए तो काइरोन पोलार्ड ने उनकी नकल उतारी। इसके बाद दोनों खिलाड़ियों ने ही एक-दूसरे पर कमेंट किए। मामला बढ़ता देख अंपायर्स और मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को बीच बचाव करना पड़ा, जिसके बाद जाकर मामला शांत हुआ। नतीजा शेन वॉटसन आखिरकार प्रवीण ओझा की गेंद पर आउट हो गए, हालांकि वॉटसन उस घटना से खुश नहीं थे और डगआउट में बैठकर पोलार्ड की तरफ देखते हुए लगातार बड़बड़ा रहे थे।

#4 शेन वॉर्न और सौरव गांगुली, आईपीएल 2008

विवाद आईपीएल के पहले सीजन में राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान सौरव गांगुली के बीच विवाद हो गया। दरअसल, महान ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वॉर्न और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली के बीच ये विवाद तब हुआ जब केकेआर के कप्तान सौरव गांगुली को राजस्थान रॉयल्स के ग्रीम स्मिथ ने डीप मिडविकेट पर कैच कर लिया। हालांकि सौरव गांगुली को लगा कि कैच नहीं हुआ है और उन्होंने अंपायर को रिव्यू लेने के लिए मजबूर कर दिया। हालांकि थर्ड अंपायर ने सौरव गांगुली के पक्ष में ही फैसला दिया। लेकिन राजस्थान के कप्तान शेन वॉर्न इस बात से काफी नाराज हो गए, जिसके चलते शेन वॉर्न और गांगुली के बीच बहसबाजी हो गई। दोनों खिलाड़ियों के बीच हुए इस विवाद ने काफी सुर्खियां भी बटोरी। नतीजा इस विवाद के चलते दोनों खिलाड़ियों पर आखिरकार मैच फीस का 10 फीसदी जुर्माना लगाया गया। इसके साथ मैदान पर मौजूदा अंपायर प्रताप कुमार पर एक मैच का बैन भी लगाया गया।

#3 हरभजन सिंह और एस श्रीसंत, आईपीएल 2008

विवाद आईपीएल के पहले सीजन में हरभजन सिंह और एस श्रीसंत के बीच हुआ थप्पड़ कांड काफी सुर्खियों में रहा। दरअसल, मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी हरभजन सिंह ने कथित तौर पर किंग्स-XI पंजाब के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को थप्पड़ जड़ दिया था। जिसके बाद इस विवाज ने जन्म लिया। ऐसा कहा जाता है कि मैच में पंजाब की जीत के बाद श्रीसंत ने हरभजन सिंह का मजाक उड़ाया था, जिसके बाद ये घटना हुई। नतीजा हालांकि इस घटना की वास्तविक फुटेज को स्क्रीन पर प्रसारित नहीं किया गया था। लेकिन आखिरकार इस मामले की न्यायिक जांच शुरू हुई। जिसके चलते हरभजन सिंह को टूर्नामेंट में उस सत्र के लिए बैन कर दिया गया और श्रीसंत को चेतावनी देकर छोड़ा गया था।

#2 काइरोन पोलार्ड और मिचेल स्टार्क, आईपीएल 2014

विवाद इंडियन प्रीमियर लीग के साल 2014 के सीजन में काइरोन पोलार्ड और मिचेल स्टार्क के बीच विवाद हो गया। दरअसल, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के बीच मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में मुंबई इंडियंस की बल्लेबाजी के 17वें ओवर में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मिचेल स्टार्क ने मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी काइरोन पोलार्ड पर एक जबरदस्त बाउंसर फेंक दी। इस बाउंसर से काइरोन पोलार्ड पूरी तरह से चकमा खा गए। इस गेंद के बाद स्टार्क ने पोलार्ड पर कुछ टिप्पणी की, जिसका उन्हें तुरंत जवाब भी मिल गया। अगली ही गेंद पर स्टार्क जैसे ही गेंद डालने को आए तो पोलार्ड क्रीज से हट गए लेकिन स्टार्क रुके नहीं और उन्होंने गुस्से में पोलार्ड को निशाना बनाकर गेंद डाल दी। इसके बाद पोलार्ड ने भी अपना बल्ला स्टार्क की तरफ फेंक दिया। फिर दोनों खिलाड़ियों के बीच बहसबाजी हुई, आखिरकार, दोनों के बीच झगड़े को शांत करने के लिए क्रिस गेल को बीच बचाव के लिए आना पड़ा। हालांकि पोलार्ड ने इस बात की शिकायत अंपायर से भी की। नतीजा इस विवाद के बाद आईपीएल की आचार संहिता के तहत दोनों खिलाड़ियों को स्तर 2 के अपराध का दोषी पाया गया। इसके चलते काइरोन पोलार्ड पर उनकी मैच फीस का 75 प्रतिशत जुर्माना, जबकि मिचेल स्टार्क पर उनकी मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगाया गया।

#1 विराट कोहली और गौतम गंभीर, आईपीएल 2013

विवाद विराट कोहली और गौतम गंभीर दोनों ही गर्ममिजाज क्रिकेटर हैं और मैदान पर अपनी भावनाएं दिखाने से परहेज नहीं करते हैं। आईपीएल में विराट कोहली और गौतम गंभीर के बीच भी झगड़ा हो चुका है। साल 2013 में आईपीएल-6 के दौरान आरसीबी के कप्तान विराट कोहली और कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर के बीच मैदान पर जमकर बहस हुई थी। दरअसल, आरसीबी के कप्तान विराट कोहली प्रदीप सांगवान की गेंद पर लगातार दो छक्के लगा चुके थे और तीसरा छक्का लगाने जा रहे थे। लेकिन तीसरे छक्के के प्रयास में कोहली मात खा गए और अपना विकेट गंवा बैठे। कोहली के विकेट के बाद ही केकेआर के खिलाड़ी जबरदस्त तरीके से जश्न मनाने लगे। कोहली जब आउट होने के बाद लौट रहे थे, तभी गौतम गंभीर से उनकी कहासुनी हो गई। हालांकि इसके बाद खिलाड़ियों और अंपायर ने दोनों के बीच मामला शांत करवाया था। दोनों खिलाड़ियों का ये विवाद इस सीजन काफी सुर्खियों में रहा था। नतीजा इस विवाद के चलते दोनों खिलाड़ियों पर भद्दी भाषा के इस्तेमाल और अनुचित इशारों का उपयोग करने के लिए स्तर 1 का आरोप लगाया गया था। लेखक: यश मित्तल अनुवादक: हिमांशु कोठरी

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment