Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IPL 2018: पंजाब के गेंदबाजों की लय बिगाड़ने के लिए हरभजन सिंह और दीपक चाहर को ऊपर भेजा- धोनी

  • चेन्नई सुपरकिंग्स ने इस मैच में हरभजन सिंह और दीपक चाहर को ऊपर बल्लेबाजी करने का मौका दिया
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018, 20:22 IST

चेन्नई सुपरकिंग्स ने कल किंग्स इलेवन पंजाब को 5 विकेट से हराकर टूर्नामेंट से बाहर किया। चेन्नई की टीम ने इस मैत में कुछ ऐसे फैसले भी लिए, जिसने सबको चौंका दिया। 154 रनों का लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स ने जल्द ही तीन विकेट गिरने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए हरभजन सिंह को भेजा, उसके बाद कप्तान धोनी ने अपने ऊपर दीपक चाहर को बल्लेबाजी करने का मौका दिया। हालांकि मैच के बाद धोनी ने साफ किया कि चाहर और हरभजन को भेजने का कारण पंजाब टीम के गेंदबाजों की लय बिगाड़ना था। पंजाब को प्ले ऑफ में पहुंचने के लिए चेन्नई सुपरकिंग्स को कम से कम 53 रनों से हराना था, लेकिन टीम के बल्लेबाजी एक बार फिर विफल रही और पूरी टीम महज 153 रनों पर सिमट गई। रनों का पीछा करने उतरी सीएसके की शुरूआत भी अच्छी नहीं रही और टीम ने सिर्फ 27 रनों पर तीन बड़े विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए हरभजन सिंह ने दूसरे छोर पर खड़े रैना के ऊपर से दबाव हटाते हुए 19 रनों की पारी खेली और वो रविचंद्रन अश्विन का शिकार बने। सीएसके ने भज्जी के आउट होने के बाद मैदान में दीपक चाहर को भेजा और उन्होंने भी कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए 20 गेंदों में 39 रन बनाए। अंत में चेन्नई की टीम ने रैना के शानदार अर्धशतक के दम पर इस मैच को अपने नाम कर लिया। मैच के बाद जब पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन सेरामनी ने धोनी से चाहर और हरभजन सिंह को पहले बल्लेबाजी के लिए भेजने का कारण पूछा गया तो धोनी ने कहा, "गेंद काफी स्विंग कर रहा था और इस प्रकार के मैच में आप काफी ज्यादा विकेट लेने की कोशिश करते हैं। हमने भज्जी और चाहर को इसलिए भेजा, ताकि उनकी लय बिगड़ पाए। अगर नियमित बल्लेबाज खेल रहे होते, तो वो अपनी लाइन से नहीं हटते, लेकिन निचले क्रम के बल्लेबाज के आते ही गेंदबाज बाउंसर, ऑफ कटर और भी अलग-अलग प्रकार की गेंद डालने की कोशिश करते हैं।" इस मैच में धोनी का यह फैसला कारगार साबित हुआ और टीम ने अंत में आसानी से इस मैच को अपने नाम किया। एक बार फिर धोनी ने मैच को छक्के के साथ खत्म किया। इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "सभी फील्डर ऊपर थे, तो मैंने बड़ा शॉट खेलने की कोशिश की।" इस हार के साथ किंग्स इलेवन पंजाब का प्ले ऑफ में जाने का सपना एक बार फिर टूट गया, तो वहीं दूसरी तरफ चेन्नई सुपरकिंग्स अब 22 मई को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होने वाले पहले क्वालीफायर की तैयारी करेगी, जहां उनका सामना सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ होगा।

Published 21 May 2018, 11:42 IST
Advertisement
Fetching more content...