Create
Notifications

IPL 2018: खिलाड़ियों को लेकर किए गए 4 ऐसे फ़ैसले जो टीम के लिए महंगे साबित हो सकते हैं

शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda

कई बार कहा जाता है कि आईपीएल में ख़िताब जीतने का सफ़र पहले मैच से नहीं बल्कि नीलामी के दिन से ही शुरू हो जाता है। साल 2018 के आईपीएल सीज़न के लिए 169 खिलाड़ियों ने अलग-अलग टीम में अपनी जगह बनाई है। कुछ टीम के मालिक ऐसे थे जो कई खिलाड़ियों की नीलामी में ज़ोर शोर से शामिल होते थे, वहीं कुछ टीम के मालिक ऐसे भी थे जो पहले से तैयारी के साथ आए थे और अपने पसंदीदा खिलाड़ी का नाम आने का इंतज़ार कर रहे थे। आईपीएल नीलामी के दौरान सभी टीम के मालिकों को फ़ैसला लेने में काफ़ी सोच विचार करना पड़ता है ताकि एक मज़बूत टीम तैयार हो सके। अगर कभी नीलामी के दौरान ग़लती हो जाए तो बाद में इसका ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है। यहां हम 4 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में चर्चा कर रहे हैं जिनका चुना जाना उनकी टीम के लिए घाटे का सौदा साबित हो सकता है।

#4 मोईन अली

इंग्लैंड टीम के मोईन अली को साल 2018 की आईपीएल नीलामी के दौरान आरसीबी टीम ने ख़रीदा है। इस टीम में युज़वेंद्र चहल, पवन नेगी, वॉशिंग्टन सुंदर और मुरुगन अश्विन को भी शामिल किया गया है। ऐसे में ये समझना काफ़ी मुश्किल हो रहा है कि इतने सारे स्पिनर्स के होने के बावजूद टीम के मालिकों ने मोईन अली पर दांव क्यों लगाया। सवाल ये भी है कि आरसीबी टीम में विस्फोटक बल्लेबाज़ों की कोई कमी नहीं है, ऐसे में मोईन किस क्रम पर बल्लेबाज़ी करेंगे और उन्हें आईपीएल का एक भी मैच खेलने मिलेगा भी या नहीं। इस टीम में एबी डीविलियर्स, ब्रेंडन मैकुलम, क्विंटन डी कॉक जैसै खिलाड़ी पहले ही विदेशी कोटे की जगह भर चुके हैं। वहीं विदेशी गेंदबाज़ों में नाथन कुल्टर-नाईल, क्रिस वोक्स और टिम साउदी में से किसी एक को तेज़ गेंदबाज़ी की ज़िम्मेदारी दी जा सकती है। आरसीबी टीम में कभी भी बड़े खिलाड़ियों की कमी नहीं रही है और आने वाले सीज़न में भी हालात कुछ ऐसे ही हैं। विराट कोहली के लिए मोईन को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना बड़ी चुनौती होगी। अगर आरसीबी टीम के मालिक किसी भारतीय खिलाड़ी पर रकम ख़र्च करते तो टीम को ज़्यादा फ़ायदा हो सकता था। इस टीम में स्पिन बॉलिंग ऑलराउंडर की इतनी ज़रूरत नहीं है, ऐसी में मोईन को पूरे सीज़न बेंच पर बैठना पड़ सकता है। इसे भी पढ़ें: IPL 2018: जोफ़रा आर्चर की अनुपस्थिति में उनकी जगह ले सकने वाले 5 खिलाड़ी

#3 मिचेल सैंटनर

मिचेल सैंटनर को जब साल 2018 की आईपीएल नीलामी के दौरान चेन्नई सुपर किंग्स ने ख़रीदा था तब कई क्रिकेट विशेषज्ञों की भौहें तन गईं थीं। चेन्नई के पास रविंद्र जडेजा, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर और कर्ण शर्मा जैसे 4 शानदार स्पिन गेंदबाज़ पहले से ही मौजूद थे, तो ऐसे में सैंटनर का चुनाव हैरान करने वाला है। चेन्नई टीम में स्टार खिलाड़ियों की मौजूदगी में सैंटनर को मौक़ा मिलना बेहद मुश्किल दिख रहा था। और अब घुटने की सर्जरी की वजह से मिचेल सैंटनर इस सीज़न में टीम का हिस्सा नहीं हो पाएंगे, ऐसे में चेन्नई के लिए ये इंग्लिश कहावत 'ब्लेसिंग इन डिसगाइज़' के रूप में देखा जा रहा है।

#2 जेसन रॉय

आईपीएल नीलामी 2018 के दौरान दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का उत्साह देखते ही बन रहा था, उन्होंने अपनी ज़रूरत के हिसाब से काफ़ी संतुलित टीम तैयार कर ली थी। इस टीम ने गौतम गंभीर, कॉलिन मुनरो, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर जैसे विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज़ो का चयन कर लिया था, ऐसे में जेसन रॉय को टीम में शामिल करना चौंकाने वाला फ़ैसला था। हांलाकि रॉय की क़ाबिलियत में कोई कमी नहीं है लेकिन उनको मध्य क्रम में बल्लेबाज़ी कराना सही कदम नहीं होगा। इससे पहले वो गुजरात लॉयंस टीम में भी मिडिल ऑर्डर में खेल चुके हैं जहां वो ज़्यादा कामयाबी हासिल नहीं कर पाए थे। अगर वो किसी और टीम में शामिल होते तो ये उनके लिए बेहतर हो सकता था।

#1 क्रिस गेल

किंग्स-XI पंजाब टीम में एरॉन फिंच, युवराज सिंह, डेविड मिलर और केएल राहुल जैसे बेहतरीन बल्लेबाज़ थे तो ऐसे में क्रिस गेल को चुना जाना सही नहीं कहा जा सकता है। चूंकि टीम की बल्लेबाज़ी मज़बूत नज़र आ रही है, ऐसे में क्रिस गेल को मौक़ा मिलेगा या नहीं, ये देखने वाली बात होगी। ये देखना दिलचस्प होगा कि अगर गेल को प्लेइंग इलेवन में शामिल होने का मौक़ा मिले तो वो कितनी कामयाब साबित होंगे। उनकी बढ़ती उम्र और उनका मौजूदा फ़ॉम ही उनके लिए मुसीबत बना हुआ है। ये कहना ग़लत नहीं होगा कि गेल को ख़रीदकर पंजाब टीम के मालिकों ने ख़तरा मोल ले लिया है। पिछले सीज़न में गेल का प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं था ऐसे में इस साल भी उनसे ज़्यादा उम्मीद करना बेमानी होगी। लेखक- अथर्व आप्टे अनुवादक – शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...