आईपीएल 2019: 2 रिकॉर्ड जिनके इस सीज़न के अंत तक टूटने की संभावना है

धोनी और रोहित

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 12वां सीजन अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। पहले से ही, इस सीज़न में प्रशंसकों को रोमांचक मैच, सुपर ओवर,और हैट्रिक के साथ कई चीज़ें देखने को मिली हैं। लीग मैचों के बाद अब टीमें अब प्लेऑफ में लड़ेंगी। चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल और सनराइजर्स हैदराबाद की टीमों ने प्लेऑफ में जगह बनाई है।

आईपीएल एक ऐसा टूर्नामेंट है जो नए प्रकार के शॉट्स, नए रिकॉर्ड और रोमांचक क्रिकेट से भरपूर होता है। इस बार भी अब तक सीज़न कई रोमांचक घटनाओं से भरपूर रहा है। इस सीजन अश्विन की मान्कडिंग और धोनी का मैच के दौरान गुस्से में मैदान पर आना जैसे कुछ विवादास्पद पल देखने को मिले। इसके अलावा आरसीबी की 1 रन की जीत, दिल्ली कैपिटल्स की रोमांचकारी सुपर ओवर और सीएसके की आखिरी ओवर में जीत जैसे कई रोमांचक क्षण भी देखने को मिले।

साथ ही इस सीज़न कई रिकॉर्ड भी बने हैं, और कुछ ऐसे भी रिकॉर्ड हैं जिनके इस सीज़न के अंत तक टूटने की संभावना है। आईये एक नज़र डालते हैं 2 ऐसे रिकॉर्डों पर जो इस सीजन में टूट सकते हैं:


# 1 आईपीएल में विकेट के पीछे सबसे ज्यादा शिकार

धोनी

महेंद्र सिंह धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बेहद विशेष खिलाड़ी रहे हैं। वह टूर्नामेंट के पहले सीज़न से ही इस टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। अपने 12 वर्षों के आईपीएल करियर में, उन्होंने अपने नाम कई रिकॉर्ड दर्ज़ किये हैं जो कि उन्हें आईपीएल इतिहास के महानतम खिलाडियों में से एक बनाते हैं।

अब एमएस धोनी के नाम इस सीज़न एक और रिकॉर्ड जुड़ने का समय आ गया है। वह आईपीएल इतिहास के सबसे ज्यादा शिकार करने वाले विकेट कीपर का रिकॉर्ड बनाने के लिए तैयार हैं।

धोनी ने इंडियन प्रीमियर लीग की दो फ्रेंचाइजी का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स और राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स का प्रतिनिधित्व किया है और186 मैच खेले हैं। इन मैचों में, पूर्व भारतीय कप्तान ने 128 शिकार किये हैं, जिसमें 90 कैच और 38 स्टंपिंग शामिल हैं।

वर्तमान में, दिनेश कार्तिक 130 के आंकड़े के साथ बतौर विकेट कीपर सबसे आगे हैं। उन्होंने 180 मैच खेले हैं, जिसमें 100 कैच और 30 स्टम्पिंग शामिल है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

# 3 चार बार खिताब जीतने वाले पहले कप्तान

Enter caption

चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस दोनों ही टीमें अब तक के आईपीएल इतिहास की सबसे सफल टीमें हैं। इन दोनों फ्रेंचाइजी के प्रसंशकों की संख्या बहुत ज्यादा है। इसकी प्रमुख वजह इन दोनों टीमों का आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन रहा है। दोनों टीमों ने अब तक 3 बार प्रतिष्ठित ट्रॉफी उठाई है। मुंबई इंडियंस ने रोहित शर्मा की कप्तानी में 2013 के फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर अपनी पहली ट्रॉफी जीती थी।

मुंबई इंडियंस ने 2015 के फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर फिर से यह खिताब जीता था। फिर तीसरी बार, मुंबई इंडियंस ने 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ 1 रन की रोमांचक जीत दर्ज़ कर खिताब जीता था। ख़ास बात यह रही कि तीनों बार विपक्षी कप्तान एमएस धोनी थे।

दूसरी ओर, चेन्नई सुपर किंग्स ने 2010 के सीज़न में अपनी पहली आईपीएल ट्रॉफी मुंबई इंडियंस को हराकर जीती। उन्होंने 2011 में खिताब फिर से जीता और इस बार रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को हराया। उनकी तीसरी जीत एक बड़ी कहानी बनी। दो साल प्रतिबंध के बाद वापसी करते हुए इस टीम ने आईपीएल के 2018 सीज़न को जीतकर शानदार वापसी की थी।

अब ऐसे में जबकि धोनी और रोहित दोनों ही आईपीएल ट्रॉफी की संख्या के मामले में बराबरी पर हैं और साथ ही दोनों टीमें प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं। इस सीज़न में पूरी संभावना है कि 4 बार आईपीएल की ट्रॉफी जीतने वाले कप्तान बनने का नया रिकॉर्ड बन सकता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता