Create
Notifications

आईपीएल 2019: 3 खिलाड़ी जिन्हें खराब प्रदर्शन के बावजूद भी शायद अगले सीजन रिलीज नहीं किया जाए

Enter caption
Neetish Kumar Mishra

आईपीएल 2019 का समापन हो चुका है। इस सीजन मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को एक रन से हराकर चौथी बार खिताब पर कब्जा किया। इन दोनों टीमों के अलावा दिल्ली कैपिटल्स और सनराइज़र्स हैदराबाद टीम भी प्लेऑफ में पहुंची थी। इस साल आईपीएल में आंद्रे रसेल ने गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया। इसके अलावा हार्दिक पांड्या ने भी काफी प्रभावित किया।

आईपीएल के इस सीजन में एक साल बाद वापस लौटे डेविड वॉर्नर ऑरेंज कैप विजेता रहे। उन्होंने मात्र 12 मैचों में 692 रन बनाए, जबकि दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर इमरान ताहिर 26 विकेट लेकर पर्पल कैप विजेता बने। इनके अलावा शिखर धवन, केएल राहुल ने भी शानदार प्रदर्शन किया। लेकिन इस सीजन कई ऐसे खिलाड़ी भी रहे जिन्होंने खराब प्रदर्शन किया। हालांकि वे पिछले सीजन में शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं।

आज हम आपको ऐसे 3 खिलाड़ियों के बारे में जिन्हें खराब प्रदर्शन के बावजूद भी शायद रिलीज नहीं किया जाएगा।

#3. अंबाती रायडू (चेन्नई सुपर किंग्स):

Enter caption

अंबाती रायडू ने अपना आईपीएल करियर 2010 में मुंबई इंडियंस की ओर से शुरू किया था। उन्होंने मुंबई की ओर से साल 2017 तक खेलते हुए 114 मैचों में 2400 से अधिक रन बनाए थे। साल 2018 के ऑक्शन में उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीद लिया। वे पिछले सीजन चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 16 मैचों में एक शतक और 3 अर्धशतक के साथ 602 रन बनाए थे।

अंबाती रायडू को पिछले सीजन शानदार प्रदर्शन के कारण ही भारतीय टीम में मौका मिला था। हालांकि इस सीजन रायडू उन खिलाड़ियों में शामिल रहे हैं जिन्होंने खराब प्रदर्शन किया। वे इस सीजन 17 मैचों में मात्र 289 रन बना सके। लेकिन सभी खिलाड़ियों का खराब सीजन जरूर आता है। चेन्नई सुपर किंग्स फ्रेंचाइजी उनके पिछले प्रदर्शन को ध्यान में जरूर रख सकती है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2. शिमरोन हेटमायर (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर):

Enter caption

वेस्टइंडीज के युवा बल्लेबाज ने जब भारत का दौरा किया था तब वे भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए दिखे थे। उनके इसी बल्लेबाजी क्षमता को ध्यान में रखते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी ने उन्हें 4.2 करोड़ रुपए की बड़ी कीमत देकर खरीदा था। लेकिन वे अपने कीमत के अनुरूप अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। वे शुरुआती 4 मैचों में मात्र 15 रन ही बना सके थे जिसके बाद फ्रेंचाइजी ने उन्हें अगले 9 मैचों तक प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया।

इसके बाद उन्हें अंतिम लीग मैच में सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ खेलने का मौका मिला जिसमें उन्होंने 47 गेंदों पर 75 रनों की पारी खेलकर अपने टीम को जीत दिलाई। अंतिम समय में शिमरोन हेटमायर के इस प्रदर्शन को देखते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी उन्हें अगले सीजन रिटेन कर सकती है।

#1. एंड्रयू टाई (किंग्स इलेवन पंजाब):

Enter caption

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज एंड्रयू टाई ने इस सीजन अपने क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं किया। वे पिछले सीजन 23 विकेट लेकर सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज थे, लेकिन इस सीजन वे 6 मैचों में मात्र 3 विकेट ही चटका सके। एंड्रयू टाई ने अपना आईपीएल करियर साल 2015 में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से शुरू किया था लेकिन उन्हें उस सीजन एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला।

साल 2017 में उन्हें गुजरात लायंस टीम की ओर से खेलने का मौका मिला। उन्होंने अपने डेब्यू मैच में ही हैट्रिक लेते हुए 5 विकेट चटकाए थे। उन्होंने बिग बैश लीग में भी शानदार प्रदर्शन करके ऑस्ट्रेलिया टीम में अपनी जगह बनाई थी। किंग्स इलेवन पंजाब के लिए भी उन्होंने 2018 के सीजन में जबरदस्त प्रदर्शन किया था। हालांकि वे अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखकर लगातार टीम का हिस्सा नहीं बन सके। लेकिन उनके पिछले रिकॉर्ड को ध्यान में रखते हुए किंग्स इलेवन पंजाब फ्रेंचाइजी उन्हें अगले सीजन रिलीज न करने का फैसला कर सकती है।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...