Create

आईपीएल 2019: 4 खिलाड़ी जिन्हें उनकी टीमों द्वारा ड्रॉप किया जा सकता है

Hetmyer deserves to be dropped but is likely to get another chance. (Image Courtesy: IPLT20)

इंडियन प्रीमियर लीग 2019 को शुरू हुए एक हफ्ता बीत चुका है और इस पहले हफ्ते में हमें कई रोमांचक मैच देखने को मिले हैं। अंक तालिका में इस समय धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल रैंकिंग में पहले पायदान पर है जबकि हैदराबाद दूसरे पायदान पर है।

हालांकि हर टीम के कुछ स्टार खिलाड़ी कलाकार रहे हैं, लेकिन कुछ खिलाड़ी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं।

इसके अलावा, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कुछ दिनों के भीतर सम्भवतः अपने देश वापिस लौट जाएंगे इसलिए टीमें उनकी मौजूदगी में ज़्यादा से ज़्यादा मैच जीतना चाहेंगी और अपनी टीमों में कुछ बदलाव भी करना चाहेंगी।

तो आइये एक नज़र डालते हैं उन 4 खिलाड़ियों पर जिन्हें उनकी टीमें आने वाले मैचों में ड्राप कर सकती हैं:

#4. शिमरोन हिटमायर (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर)

Hetmyer miscues a shot of Jasprit Bumrah's bowling. (Image Courtesy: IPLT20)

शिमरोन हिटमायर को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इस साल की आईपीएल नीलामी में भारी कीमत पर खरीदा था और कैरेबियन सनसनी से बहुत उम्मीद की जा रही थी कि वह आरसीबी के मध्य-क्रम को मजबूती प्रदान करेंगे। लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाज़ ने अभी तक खेले दो मैचों में बेहद निराशजनक प्रदर्शन किया है और दोनों मैचों में सिर्फ 5 रन बनाए।

हालाँकि, विंडीज़ बल्लेबाज़ ने पिछले कुछ समय से शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने वनडे में अपनी सिर्फ 18 पारियों में तीन शतक और दो अर्धशतक लगाए हैं। भारत के खिलाफ हाल ही में पांच मैचों की वनडे श्रृंखला में उन्होंने 260 रन बनाए थे। स्पिनरों को ज़ोरदार शॉट्स लगाने की क्षमता उन्हें एक खतरनाक हिटर बनाती है।

लेकिन, आरसीबी ने भी अब तक खेले दोनों मैच गंवा दिए हैं, इसलिए आने वाले मैचों में उन्हें टीम में बदलाव करने की ज़रूरत है। हालांकि हिटमायर के बल्लेबाज़ी कौशल को देखते हुए उन्हें टीम से बाहर करना ज़ल्दबाज़ी होगी लेकिन उन्हें टीम में बने रहने के लिए खुद को साबित करना होगा।

अगर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर उन्हें टीम से बाहर करती है तो उनकी जगह हेनरिक क्लासेन और मार्कस स्टोइनिस जैसे खिलाड़ियों के नाम पर विचार किया जा सकता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#3.संदीप शर्मा (सनराइजर्स हैदराबाद)

Sandeep Sharma hasn't been too impressive with the ball. (Image Courtesy: IPLT20)

संदीप शर्मा सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजी आक्रमण की कमजोर कड़ी रहे हैं, इस सीजन में अभी तक उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। उनकी गेंदबाज़ी अभी तक प्रभावहीन रही है और भुवनेश्वर कुमार के टीम में रहते हुए टीम को उनकी ज़रूरत नहीं पड़ेगी।

अभी तक खेले 2 मैचों में संदीप ने 10.00 की इकोनॉमी रेट से सिर्फ 1 विकेट लिया है। तो ऐसे में आगामी मैचों के लिए उनकी जगह पर खलील अहमद, टी नटराजन या बासिल थम्पी जैसे खिलाड़ियों के नाम पर विचार किया जाना चाहिए।

#2. शार्दुल ठाकुर (चेन्नई सुपर किंग्स)

Thakur has been good on the field but it won't be enough to save his place. (Image Courtesy: IPLT20)

शार्दुल ठाकुर ने सीएसके के लिए इस सीज़न में गेंद से कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। हालांकि उन्हें पहले मैच में मौका नहीं मिला था, लेकिन दूसरे मैच में भी वह गेंद से प्रभावित नहीं कर सके।

राजस्थान के खिलाफ खेले गए मैच में उन्होंने अपने स्पेल में 42 रन देकर 2 विकेट हासिल किए। जबकि मोहित शर्मा उनकी तुलना में बहुत अधिक अनुभवी खिलाड़ी हैं लेकिन उन्हें अभी तक खेलने का मौका नहीं मिला है।

हालांकि, कप्तान धोनी टीम में ज़्यादा बदलाव पसंद नहीं करते लेकिन मोहित शर्मा के पिछले प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें मौका दिया जा सकता है।

#1. कॉलिन डी ग्रैंडहोम (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर)

Colin De Grandhomme was expensive with the ball. (Image Courtesy: IPLT20)

कॉलिन डी ग्रैंडहोम आरसीबी के लिए एक उपयोगी खिलाड़ी रहे हैं, लेकिन बल्ले और गेंद दोनों के साथ प्रभावित करने में नाकाम रहे हैं।

मार्कस स्टोइनिस और नाथन कूल्टर-नाइल जैसे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी जल्द ही चयन के लिए उपलब्ध होंगे। तो ऐसे में ग्रैंडहोम के लिए अंतिम एकादश में जगह बना पाना बहुत मुश्किल होगा। कॉलिन डी ग्रैंडहोम ने अब तक रॉयल्स चैलेंजर्स बैंगलोर की तरफ से 3 मैच खेलते हुए सिर्फ 14.33 की औसत से महज़ 43 रन बनाए हैं।

लेकिन गेंदबाज़ी में भी उनका प्रदर्शन दोयम दर्जे का रहा है और इन 3 मैचों में वह एक भी विकेट लेने में नाकाम रहे हैं। ग्रैंडहोम की जगह किसी स्पिनर ऑलराउंडर को टीम में शामिल किया जा सकता है क्योंकि बैंगलोर के पास पहले से ही तेज़ गेंदबाजों की कमी नहीं है। लेकिन किसी का भी चुनाव हो, ग्रैंडहोम का टीम से बाहर होना तो लगभग है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment