आईपीएल 2019: महेंद्र सिंह धोनी ने विकेट के पीछे फुर्ती का राज बताया

Enter caption

धोनी बेहतरीन बल्लेबाज हैं, कप्तान हैं और विकेटकीपर भी। यह बात जगजाहिर है। बल्लेबाजी करते हुए रनों के लिए बिजली की रफ्तार से दौड़ना हो या फिर विकेट के पीछे से किसी बल्लेबाज की गिल्लियां बिखेरनी हों, इसमें वो वक्त नहीं लगाते हैं। उनकी फुर्ती और पैनी निगाहों से बल्लेबाज के लिए बचना मुश्किल नहीं होता है। कैसे वो इतने फुर्तीले हैं और कैसे गेंद को जज कर लेते हैं, इसका खुलासा उन्होंने हाल ही में किया। दिल्ली के खिलाफ बेहतरीन बल्लेबाजी करने के बाद धोनी ने दो स्टम्पिंग कीं। वह कहते हैं कि यह काबिलियत मुझे टेनिस बॉल से क्रिकेट खेलने के दौरान आई है। यह गेंद पड़ने के बाद तेजी से निकलती है, जिससे अच्छा अभ्यास होता है।

धोनी ने कहा कि मेरे अंदर फुर्ती टेनिस बॉल से क्रिकेट खेलने से आई है। हर खिलाड़ी को बुनियादी जानकारी होनी चाहिए। जब आपके पास बुनियादी जानकारी होगी तो आप उस स्तर तक पहुंचने के लिए मेहनत करोगे क्योंकि तब आपको चीजें आसान लगने लगेंगी। अगर आप ऐसे ही रहोगे तो गलतियों के बार-बार होने की गुंजाइश रहेगी। इस वजह से मुझे लगता है कि बुनियादी जानकारी होनी जरूरी है। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अपनी पारी के बारे में उन्होंने कहा कि मैंने गेंदबाजी में हो रहे बदलावों को देखते हुए पहले विकेट पर कुछ वक्त बिताया और आखिर में सुपर किंग्स को जीत की ओर ले गया। दरअसल, पहले गेंद को देखना पड़ता है और फिर उसे हिट करना पड़ता है। अगर आपने विकेट पर समय बिताया है तो किस तरह से गेंद बल्ले पर आ रही हैं, आप यह पहचान जाओगे। जो विकेट पर टिककर 10-15 गेंदें खेल लेता है उसके लिए सब आसान हो जाता है।

धोनी ने इस बार के टूर्नामेंट में अब तक पांच स्टम्पिंग की हैं और सात कैच लपके हैं। अगर आईपीएल के इतिहास की बात की जाए तो धोनी ने अब तक कुल 186 मुकाबलों में 94 कैच लपके हैं और 38 बार स्टम्पिंग की है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment