Create

IPL 2021 - 'चेन्नई को एक ऐसा कप्तान मिला है जो जीतना जानता है'

एमएस धोनी की कप्तानी में चेन्नई इस सीजन जबरदस्त खेल दिखा रही है
एमएस धोनी की कप्तानी में चेन्नई इस सीजन जबरदस्त खेल दिखा रही है
reaction-emoji
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) के पिछले सीजन में जब चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) खराब खेल दिखा रही थी तब कई लोगों ने एमएस धोनी (MS Dhoni) को कप्तानी के पद से हटाने की मांग की थी। इसके बावजूद चेन्नई फ्रेंचाइजी के मैनेजमेंट ने धोनी पर विश्वास दिखाय और इस सीजन टीम अपने 9 में से 7 सात मैच जीतकर प्लेऑफ में पहुंचने की कगार पर कड़ी है। धोनी ने एक बार फिर साबित कर दिया कि बतौर कप्तान वो अभी भी माहिर हैं। आरसीबी के खिलाफ धोनी की कप्तानी से इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) भी काफी प्रभावित दिखे और उन्होंने कहा कि धोनी को मैच जीतने की कला आती है।

आईपीएल 2021 के 35वें मैच में सीएसके ने शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में आरसीबी को छह विकेट से हराया। आरसीबी की धमाकेदार शुरुआत के बावजूद चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजों ने विरोधी टीम को 156 रनों के स्कोर पर रोक दिया तथा मैच को छह विकेट से जीतने में कामयाबी हासिल की।

क्रिकबज पर माइकल वॉन ने एमएस धोनी के द्वारा गेंदबाजी में किये गए बदलावों तथा उनकी रणनीतियों की तारीफ की। उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि हमें ईमानदार होना चाहिए। चेन्नई एक ऐसी फ्रेंचाइजी है जो स्मार्ट और चतुर है और वे जानते हैं कि टी20 क्रिकेट कैसे खेलना है। उनके पास अनुभव है और उनके पास एक ऐसा कप्तान है जो जीतना जानता है। वह (धोनी) जानता है कि अपने खिलाड़ियों को उस तरह की मानसिकता में कैसे लाया जाए जो उनके सामने आने वाले गेम को रणनीति के साथ खेल सकें।

वॉन के मुताबिक चेन्नई की टीम आंकड़ों पर ज्यादा निर्भर नहीं करती

माइकल वॉन का मानना है कि आधुनिक क्रिकेट में कुछ टीमें डाटा तथा आंकड़ों पर बहुत ध्यान निर्भर करती हैं और उसी के हिसाब से अपनी रणनीति बनती हैं लेकिन सीएसके की टीम के साथ ऐसा नहीं है। वॉन ने कहा,

अन्य फ्रेंचाइजी के साथ समस्या यह है कि वे बड़ी मात्रा में डाटा का उपयोग करते हैं। हालांकि, चेन्नई में कुछ टीम मीटिंग होती हैं और वे सिर्फ अपनी आंखों और गेम की स्थिति के मुताबिक क्रिकेट खेलते हैं और यह खेल खेलने का एक बहुत ही स्मार्ट तरीका है।
आरसीबी की टीम में काफी मीटिंग होती हैं, बहुत सारा डाटा होगा और खिलाड़ियों के दिमाग में बहुत सारी जानकारी होगी। वे चतुर नहीं हैं, वे पूरे खेल के लिए शांत नहीं हैं। उन्होंने 10 ओवर तक शानदार क्रिकेट खेली। लेकिन उसके बाद उन पर एक बेहतर टीम ने दबदबा बनाया।

आरसीबी के लिए विराट कोहली और देवदत्त ने पहले विकेट के लिए 111 रनों की बेहतरीन शुरुआत दिलाई थी लेकिन इसके बाद टीम के अन्य बल्लेबाज इस शुरुआत का फायदा उठाने में नाकाम रहे। इसी वजह से बड़े स्कोर की तरफ जाती हुयी आरसीबी 157 का ही लक्ष्य दे पाई।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...