Create
Notifications

चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स को यूएई में खिताब दिलाने के लिए बेकरार है युवा भारतीय बल्‍लेबाज

रुतुराज गायकवाड़ सीएसके को आईपीएल चैंपियन बनाना चाहते हैं
रुतुराज गायकवाड़ सीएसके को आईपीएल चैंपियन बनाना चाहते हैं
Vivek Goel
visit

इंडियन प्रीमियर लीग 2021 (IPL 2021) के दूसरे चरण की शुरूआत में एक महीने का समय बचा है और सभी टीमें अपनी रणनीति तय करने में व्‍यस्‍त हैं। आईपीएल 2021 के शेष 31 मुकाबले यूएई में खेले जाएंगे और देखना दिलचस्‍प होगा कि इस बार विजेता कौन बनेगा।

एमएस धोनी (MS Dhoni) के नेतृत्‍व वाली चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स (Chennai Super Kings) पर सभी की नजरें होगी क्‍योंकि तीन बार की आईपीएल चैंपियन ने इस साल बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

सीएसके ने सात मैचों में से पांच मैच जीते और वह अंक तालिका में दूसरे स्‍थान पर है। युवा ओपनर रुतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने भी टीम की सफलता में अहम भूमिका निभाई है। उन्‍होंने निरंतर टीम को शानदार शुरूआत दिलाई है।

रुतुराज गायकवाड़ ने सात मैचों में 196 रन बनाए, जिसमें दो अर्धशतक शामिल है। अब जब दूसरा चरण शुरू होने में है तो गायकवाड़ वापसी के लिए तत्‍पर हैं। 24 साल के बल्‍लेबाज ने कहा, 'हमें आईपीएल खिताब जीते तीन साल हो गए हैं और मेरा ध्‍यान सीएसके को दोबारा चैंपियन बनाने पर है। टीम ने मेरी क्षमताओं पर भरोसा किया और मेरी कोशिश टीम की सफलता में अपना 110 प्रतिशत योगदान देने की है।'

मैं और फाफ डू प्‍लेसी एक-दूसरे को समझते हैं: रुतुराज गायकवाड़

रुतुराज गायकवाड़ के ओपनिंग जोड़ीदार के बारे में पूछने पर युवा बल्‍लेबाज ने दोनों के बीच बातचीत को अहम पहलु बताया। गायकवाड़ ने फाफ डू प्‍लेसी के बारे में बात करते हुए कहा, 'फाफ के साथ जोड़ी की नीव कम्‍यूनिकेशन और विश्‍वास है। हम एक-दूसरे के खेल को अच्‍छी तरह समझते हैं और हम हमेशा मैदान पर इसके बारे में बातचीत करते हैं। हम एक-दूसरे के विश्‍लेषण पर भरोसा करते हैं।'

पिछले महीने रुतुराज गायकवाड़ ने श्रीलंका के खिलाफ टी20 इंटरनेशनल सीरीज में अपना अंतरराष्‍ट्रीय डेब्‍यू किया था। गायकवाड़ के करियर की शुरूआत मिश्रित रही और उन्‍होंने दो मैचों में क्रमश: 21 व 14 रन बनाए। भारतीय टीम में अपने करियर के बारे में बात करते हुए युवा ओपनर ने कहा कि वह इस अनुभव से बहुत खुश हैं।

रुतुराज गायकवाड़ ने कहा, 'मैं इसे जिंदगीभर याद रखू्ंगा। यह दो दिन में खत्‍म हो गया और हम सीरीज नहीं जीत सके। मैंने इसके हर पल को जिया। सपना साकार हुआ। इसने मुझे ऐसा बनाया कि मैं बार बार मैदान में जाकर टीम के लिए प्रदर्शन करना चाहता था।'


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now