Create

'महेंद्र सिंह बतौर कप्तान चेन्नई के लिए 200वें मैच में जीत के हकदार थे'

निरंजन

भारत (India) के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) सोमवार को राजस्थान रॉयल्स (आरआर) पर चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) की 45 रन की जीत के बाद काफी प्रभावित दिखे और एमएस धोनी को टीम के कप्तान के रूप में अपने 200 वें मैच में विजयी होने के लिए हकदार बताया। गावस्कर ने धोनी की कप्तानी को शानदार बताते हुए कहा कि वह लगभग हर चीज के साथ हाजिर थे।

गावस्कर ने यह भी बताया कि कैसे एमएस धोनी ने हमले में मोइन अली को उतारा जब चेन्नई सुपरकिंग्स को सूखी गेंद से गेंदबाजी करने का मौका मिला। खासकर तब जब वानखेड़े स्टेडियम में जोस बटलर के छक्के के बाद अम्पायरों ने गेंद बदली और इसके बाद मोइन अली का बेहतर प्रदर्शन रहा।

स्टार स्पोर्ट्स पर कमेंट्री के दौरान पूर्व भारतीय दिग्गज ने कहा कि जडेजा को जिस तरह इस्तेमाल किया गया, वह देखने लायक था। जडेजा ने 4 कैच लपके। इसके अलावा वह कई चौके बचाने में भी ससफल रहे। यह अहम है कि आपके पास ऐसी स्थिति में बेहतरीन फील्डर होना चाहिए।

गौरतलब है कि जोस बटलर के छक्के के बाद अम्पायरों ने गेंद को बदला था। इससे गीली गेंद के बजाय सूखी गेंद चेन्नई को मिल गई और रविन्द्र जडेजा को धोनी ने गेंदबाजी के लिए बुलाया। यहाँ से जडेजा और मोइन अली ने मिलकर राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाजों को टिकने का कोई मौका नहीं देते हुए लगातार विकेट चटकाए।

चेन्नई सुपरकिंग्स ने 45 रन से जीत हासिल करते हुए लगातार दूसरी जीत दर्ज की। महेंद्र सिंह धोनी के लिए बतौर कप्तान चेन्नई के लिए 200वां मैच था और उन्होंने अपनी कप्तानी और सुझबुझ से बड़ी जीत दर्ज करने में सफलता हासिल की। राजस्थान रॉयल्स के लिए बटलर ने 49 रन जरुर बनाए, अन्य सभी खिलाड़ी सस्ते में आउट हो गए। इस तरह चेन्नई ने बेहतरीन लय का परिचय दिया।


Edited by निरंजन

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...