Create
Notifications

चेन्नई सुपर किंग्स के स्पेशलिस्ट थ्रोअर ने बताया कि इंटरनेशनल रिटायरमेंट के बाद धोनी ने उनसे क्या कहा था?

महेंद्र सिंह धोनी और कोनडप्पा राज पालानी - चेन्नई सुपर किंग्स (Image - Google)
महेंद्र सिंह धोनी और कोनडप्पा राज पालानी - चेन्नई सुपर किंग्स (Image - Google)
Devesh Jha

IPL 2022 का सीजन चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए अच्छा नहीं रहा है। चेन्नई सुपर किंग्स के इतिहास का यह दूसरा ऐसा सीजन था जब वो प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाए। इससे पहले चेन्नई सुपर किंग्स 2020 में भी क्वालीफाई नहीं कर पाए थे। हालांकि इस सीजन चेन्नई सुपर किंग्स के लिए सबसे अच्छी बात ये रही कि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) फॉर्म में दिखाई दिए और उन्होंने कई मैचों में अच्छी पारियां खेली और कुछ मैचों में पुराने फिनिशर की झलक भी दिखाई।

इस बीच चेन्नई सुपर किंग्स टीम के स्पेशलिस्ट थ्रोअर कोनडप्पा राज पालानी ने धोनी के साथ हुई उनकी एक बातचीत के बारे में बताया है, जो धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट के रिटायरमेंट लेने के बाद की थी। कोनडप्पा ने बताया कि धोनी रिटायर होने के बाद पहली बार कैंप में आए थे। मैंने उन्हें तब पहली बार देखा था। उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या तुम ही थ्रोअर हो। धोनी ने मुझे उन्हें बॉल फेंकने के लिए कहा।

जानिये धोनी ने क्या कहा था?

पालानी ने चेन्नई सुपर किंग्स की वेबसाइट पर इस बातचीत के बारे में बताते हुए कहा कि, उस वक्त सभी नेट बॉलर्स उनके रिटायरमेंट के बारे में बातें कर रहे थे। स्टीफन फ्लेमिंग, माइकल हसी और बाकी सभी ने मुझसे कहा कि धोनी आ रहे हैं, ध्यान से बॉल फेंकना। मैंने पहली दो बॉल वाइड्स फेंकी और उसकी अगली बॉल फुलटॉस फेंकी।

पालानी ने बताया कि उसके बाद धोनी मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे कहा कि, मुझे देखना बंद करो और बॉल फेंको। उन्होंने मुझे ठीक से नेचुरली खेलने को कहा। उसके बाद मैंने उन्हें उसी एरिया में बॉलिंग की, जिसमें वो खेलना चाहते थे और फिर वो मुझसे काफी खुश हो गए। उसके बाद से धोनी मुझे मेरे नाम से बुलाने लगे थे।

2022 में धोनी ने की अच्छी बल्लेबाजी

आपको बता दें कि आईपीएल 2022 में सीएसके के लिए कुछ भी अच्छा नहीं रहा है लेकिन धोनी का फॉर्म उनके लिए सबसे अच्छी चीज है। धोनी ने इस बार काफी अच्छी बल्लेबाजी की है। उन्होंने 14 मैचों में 33.14 की औसत से 232 रन बनाए हैं। इस दौरान कोलकाता नाइट राइडर्स के दौरान नाबाद 50 रनों की पारी भी धोनी ने खेली थी।

इस साल का आईपीएल सीजन शुरू होने से पहले धोनी ने कप्तनी रविंद्र जडेजा को दे दी थी लेकिन बीच सीजन में रविंद्र जडेजा ने कप्तानी दोबारा धोनी को सौंप दी क्योंकि वो कप्तानी का भार ठीक से नहीं उठा पा रहे थे। हालांकि चेन्नई फिर भी इस सीजन में प्लेऑफ क्वालीफाई नहीं कर पाई और अंकतालिका में नौवें स्थान पर रही।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...