Create

डेथ ओवरों के लिए अपनी बल्लेबाजी योजना का खुलासा करते हुए गुजरात टाइटंस के राहुल तेवतिया ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

राहुल तेवतिया ने अपनी टीम के लिए अहम मौकों पर बल्ले से योगदान दिया है
राहुल तेवतिया ने अपनी टीम के लिए अहम मौकों पर बल्ले से योगदान दिया है
Prashant Kumar

आईपीएल 2022 (IPL2022) से पहले मेगा ऑक्शन में जब गुजरात टाइटंस (GT) ने राहुल तेवतिया (Rahul Tewatia) को 9 करोड़ में खरीदा था तो सभी ने हैरानी जताई थी। हालाँकि इस खिलाड़ी ने मौजूदा सीजन में अपने ऊपर लगाए गए दांव को सही साबित किया है और अभी तक अपनी टीम के लिए बल्ले के शानदार प्रदर्शन करते नजर आये हैं। बुधवार को सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ मुश्किल में फंसी गुजरात टाइटंस के लिए तेवतिया ने 21 गेंदों में नाबाद 40 रन बनाते हुए जीत में अहम योगदान दिया।

दरअसल सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुकाबले में 196 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए गुजरात टाइटंस की टीम एक समय काफी मुश्किल में थी। टीम ने 16वें ओवर तक 140 रन तक 5 विकेट गंवा दिए थे। सभी प्रमुख बल्लेबाज आउट हो चुके थे और टीम को जीत के लिए आखिरी 4 ओवरों में 56 रनों की जरूरत थी। हालांकि इसके बाद राहुल तेवतिया ने राशिद खान के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 59 रनों की अविजित साझेदारी कर टीम को जीत दिला दी। राशिद खान ने भी 11 गेंद पर 31 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली।

मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेवतिया ने अंतिम ओवर को लेकर कहा,

आखिरी ओवर के दौरान मेरे दिमाग में यह था कि अगर हम एक छक्का लगा सकते हैं, तो हम जीत के करीब पहुंच जाएंगे। मैं छक्का लगाना चाह रहा था। मैं इस बारे में राशिद (राशिद खान) से बात कर रहा था। उसने मुझे बताया कि यह पीछा करने योग्य था।

डेथ ओवर्स के अनुसार मैं अभ्यास करता हूँ - राहुल तेवतिया

गुजरात टाइटंस की टीम में अपनी भूमिका को लेकर बाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा कि वह इसी तरह की भूमिका अपनी घरेलू टीम हरियाणा के लिए भी निभाते हैं। उन्होंने कहा,

मैं पहले भी ऐसी स्थितियों का हिस्सा रहा हूं। जब मुझे दो साल पहले आईपीएल में यह भूमिका मिली, तो मैंने उसी के अनुसार अभ्यास किया, विशेष रूप से जब टीम को 45-50 रनों की आवश्यकता हो, तो डेथ ओवरों के लिए कि कैसे गेंदबाजों और गेंदों का चयन किया जाए।

गेंद के साथ खुद की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर ऑलराउंडर खिलाड़ी ने कहा कि उनको गेंदबाजी देना या न देना पूरी तरह टीम मैनेजमेंट और कप्तान का निर्णय है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...