Create

"मोटेरा मेरा होम ग्राउंड है और मैं कोलकाता में केवल अवे मैच खेलने आया हूं"- गुजरात टाइटंस के बल्लेबाज का बड़ा बयान

इस सीजन अच्छा रहा है साहा का प्रदर्शन (Photo Credit: Twitter)
इस सीजन अच्छा रहा है साहा का प्रदर्शन (Photo Credit: Twitter)

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) और बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के बीच शुरू हुआ विवाद फिलहाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में गुजरात टाइटंस (GT) के लिए खेल रहे साहा पहले क्वालीफायर मैच के लिए कोलकाता पहुंचे हैं। क्वालीफायर मुकाबले से पहले पत्रकारों से बातचीत के दौरान साहा ने कहा कि वह ईडन गार्डन्स में पहली बार अवे मुकाबला खेलने के लिए आए हैं और गुजरात अब उनका होम ग्राउंड है।

पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए साहा ने कहा,

मैं गुजरात के लिए खेल रहा हूं तो अब मोटेरा स्टेडियम मेरा होम ग्राउंड है। मैं कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ नहीं हूं तो ईडन मेरा घरेलू मैदान नहीं रह गया है। मैंने भले ही ईडन में बहुत सारे मैच खेले हुए हैं, लेकिन फिलहाल मैं यहां एक अवे मैच खेलने के लिए आया हूं।

बंगाल की टीम में चुने जाने के बाद सामने आया विवाद

रिद्धिमान साहा ने निजी कारणों से इस साल रणजी ट्रॉफी नहीं खेलने का फैसला लिया था। इसके बाद उन्हें भारतीय टेस्ट टीम से भी बाहर कर दिया गया था और ऐसा लगा था कि उनका करियर समाप्त हो चुका है। हालांकि, आईपीएल में गुजरात टाइटंस के लिए खेलते हुए साहा ने दमदार प्रदर्शन किया है और बताया है कि वह हार मानने वाले नहीं हैं।

आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर रहे साहा को रणजी ट्रॉफी के नॉकआउट मैचों के लिए बंगाल की टीम में चुन लिया गया था। टीम में चुने जाने के अगले ही दिन साह ने खुद को रिलीज करने की मांग कर दी थी और जानकारी सामने आई थी कि बिना उनसे बात किए ही उनको टीम में चुन लिया गया है। साहा ने जब रणजी में नहीं खेलने का फैसला किया था तब बंगाल क्रिकेट संघ के कुछ अधिकारियों ने उन पर निशाना साधा था और उन्हें मतलबी कहा था। अब साहा उसी बात को लेकर दोबारा बंगाल से नहीं खेलना चाहते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment