Create

अगर रिकी पोंटिंग होते तो ऐसा नहीं होता, केविन पीटरसन ने "नो बॉल" कंट्रोवर्सी को लेकर दी प्रतिक्रिया

Nitesh
ऋषभ पंत ने गुस्सा होकर अपने खिलाड़ियों को वापस बुला लिया (Photo Credit - IPLT20)
ऋषभ पंत ने गुस्सा होकर अपने खिलाड़ियों को वापस बुला लिया (Photo Credit - IPLT20)

राजस्थान रॉयल्स (RR) और दिल्ली कैपिटल्स (DC) के बीच हुए मुकाबले के दौरान 'नो बॉल' कंट्रोवर्सी को लेकर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने ऋषभ पंत (Rishabh Pant) और प्रवीण आमरे पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि अगर रिकी पोंटिंग मैदान में मौजूद होते तो फिर ये सब नहीं होता। उनके मुताबिक पोंटिंग के होने पर दिल्ली कैपिटल्स इस तरह का खराब व्यवहार नहीं करती।

ऋषभ पंत और प्रवीण आमरे ने आखिरी ओवर में जो कुछ किया उससे केविन पीटरसन काफी नाखुश दिखे। स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा "मुझे नहीं लगता है कि अगर रिकी पोंटिंग मैदान में होते तो फिर ऐसा कुछ होता। मेरे हिसाब से जोस बटलर को पंत के पास जाकर पूछने का ये पूरा हक था कि आप क्या कर रहे हैं। आपने अपने एक कोच को बीच मैदान में भेज दिया और फिर सोच रहे हैं कि ये व्यवहार सही था?।"

जो कुछ भी हुआ वो क्रिकेट के लिए सही नहीं है - केविन पीटरसन

पीटरसन ने आगे कहा "हम जेंटलमैन गेम खेलते हैं। लोग गलतियां करते हैं। कितनी बार हमें गलत आउट करार दे दिया गया। कई बार हम पगबाधा नहीं आउट होते हैं तब भी दे दिया जाता है। मैंने और ग्रीम स्वान ने 20 सालों तक क्रिकेट खेला है लेकिन इस आधे घंटे के दौरान जो कुछ भी हुआ वो क्रिकेट के लिए सही नहीं है।"

आपको बता दें कि दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने मैच के आखिरी ओवर में अंपायर द्वारा गेंद को नो बॉल नहीं करार दिए जाने पर अपने खिलाड़ियों को वापस बुला लिया और वॉक आउट कर दिया। वहीं दिल्ली कैपिटल्स के असिस्टेंट कोच मैदान के अंदर अंपायर से बात करने चले गए। यही वजह है कि दिल्ली कैपिटल्स टीम की हर कोई आलोचना कर रहा है।

Quick Links

Edited by Nitesh
1 comment