IPL में सबसे ज्यादा मुकाबले मुंबई में खेले जाएंगे, पुणे में होंगे कम मैच

पूरा कार्यक्रम आना फिलहाल बाकी है
पूरा कार्यक्रम आना फिलहाल बाकी है

आईपीएल (IPL) के इस सीजन में होने वाले मुकाबलों को लेकर अहम जानकारी सामने आई है। टूर्नामेंट के अधिकतर मुकाबले मुंबई में ही खेले जाने के आसार हैं। वानखेड़े स्टेडियम, ब्रेबोर्न स्टेडियम और डीवाई पाटिल स्टेडियम में 55 मुकाबले खेले जाने की संभावना है। क्रिकबज के अनुसार 15 मुकाबले पुणे में खेले जा सकते हैं।

इसके अलावा हर टीम वानखेड़े स्टेडियम में चार मैच खेलेगी। इसके अलावा डीवाई पाटिल स्टेडियम में भी इतने ही मुकाबले खेलेगी। ब्रेबोर्न स्टेडियम और पुणे में तीन-तीन मुकाबले खेले जाने हैं।

टूर्नामेंट का समापन 29 मई को होना है। प्लेऑफ़ के मुकाबलों का निर्धारण फ़िलहाल नहीं किया गया है। जल्दी ही इसके बारे में विस्तृत जानकारी सामने आने के आसार हैं। गुरुवार 24 फरवरी को होने वाली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में अंतिम फैसला लिया जा सकता है। 26 या 27 मार्च से टूर्नामेंट का आगाज होने की संभावना जताई जा रही है।

इस बार टूर्नामेंट में दस टीमें होने से कार्यक्रम बड़ा हुआ है। मैचों की संख्या में भी वृद्धि हुई है। ऐसे में कहा जा सकता है कि चीजें भी अधिक होगी और कार्य भी ज्यादा होगा। बीसीसीआई सभी चीजों को अंतिम रूप देने में लगी हुई है। कार्यक्रम को बनाने से लेकर इसका निष्पादन करने तक की योजनाओं पर भी कार्य चल रहा है।

कोरोना वायरस को देखते हुए मुंबई और पुणे में मैचों का आयोजन कराने का निर्णय हुआ है। इससे खिलाड़ियों को ट्रेवल नहीं करना पड़ेगा और चीजें आसान हो जाएगी।

नीलामी के दौरान हर टीम की तरफ से इस बार धाकड़ नामों को खरीदा गया है। टीमों में फेरबदल के बाद अब यह कहना मुश्किल होगा कि किस टीम का पलड़ा भारी है। हर टीम में समझदारी से अपनी ज़रूरतों के हिसाब से खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। इस बार का आईपीएल अलग होने की उम्मीद है।

Quick Links

Edited by निरंजन