Create

आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलने वाले 5 दुर्भाग्यशाली विदेशी खिलाड़ी

Enter caption

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल के पूरे सीजन में से 3 सीजन में शानदार प्रदर्शन करते हुए आईपीएल खिताब अपने नाम किया है। चेन्नई सुपर किंग्स की इस जीत में उनकी टीम के कुछ खिलाड़ियों का योगदान काफी सराहनीय रहा। मूलतः चेन्नई सुपर किंग्स की रणनीति यह रहती है कि वे अधिकतर मुकाबलों में बिना ज्यादा परिवर्तन किए समान क्रिकेटरों के साथ उतरना पसंद करती है। यही कारण है कि चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में बाहर बैठे अधिकतर खिलाड़ियों को पूरे सीजन भर कोई भी मुकाबला खेलने का मौका नहीं मिलता।

आईपीएल के इतिहास में कई दिग्गज विदेशी खिलाड़ी चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा रह चुके हैं। इन खिलाड़ियों में से एक तरफ जहां माइक हसी, मैथ्यू हेडन, ब्रैंडन मैकुलम द्वारा शानदार प्रदर्शन दिखाया गया। वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी क्रिकेटर इस टीम का हिस्सा हुए, जो अपने बड़े नाम के बावजूद इस टीम के लिए उपयोगी साबित नहीं हो सके और एक प्रकार से चेन्नई टीम के दुर्भाग्यशाली क्रिकेटरों की सूची में सम्मिलित हुए, तो आइए जान लेते हैं ऐसे ही पांच विदेशी क्रिकेटरों के बारे में।

#5 नुवान कुलासेकरा

Enter caption

नुवान कुलासेकरा श्रीलंका क्रिकेट टीम की ओर से खेलने वाले एक ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं। 2011 के आईपीएल सीजन में नुवान कुलासेकरा को चेन्नई की टीम में शामिल किया गया, जिन्होंने अगले दो सीजन तक चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से आईपीएल खेला। टीम में टॉप क्रिकेटर के फॉर्म में होने के कारण नुवान कुलासेकरा को ज्यादा मुकाबले खेलने का मौका नहीं दिया गया, जिस कारण वे अपना प्रदर्शन दिखाने में असमर्थ रहे। नुवान कुलासेकरा ने चेन्नई सुपर किंग्स टीम की ओर से 7 मुकाबलों में मात्र 23 रन बनाएं, एवं छह विकेट लिए।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नुवान कुलासेकरा ने श्रीलंका टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है, उनके नाम वनडे क्रिकेट में 1000 से अधिक रन और लगभग 199 विकेट है। चेन्नई सुपर किंग्स टीम में कम मौके मिलने के कारण नुवान कुलासेकरा अच्छा प्रदर्शन नहीं दिखा सके और काफी दुर्भाग्यशाली क्रिकेटर रहे।

Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 जॉर्ज बेली

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान जॉर्ज बेली भी चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा रह चुके हैं। 2009 और 2010 के आईपीएल सीजन में जॉर्ज बेली को चेन्नई की टीम की ओर से चुना गया था। किंतु इस दौरान उन्हें ज्यादा मौके खेलने के लिए नहीं दिए गए। जॉर्ज बेली ने चेन्नई की टीम की ओर से मात्र 4 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने मात्र 63 रन बनाए। चेन्नई सुपर किंग्स में अपने प्रदर्शन के विपरीत ऑस्ट्रेलिया टीम के लिए 90 वनडे मुकाबलों में 3000 से अधिक रन बना चुके हैं। चेन्नई की टीम में उनके खराब प्रदर्शन का कारण उन्हें आईपीएल मैच में काफी कम मौके देना भी रहा।

#3 स्टीफन फ्लेमिंग

Enter caption

न्यूजीलैंड के महानतम बल्लेबाजों में से एक माने जाने वाले स्टीफन फ्लेमिंग आईपीएल के पहले सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा रहे थे। इस दौरान स्टीफन फ्लेमिंग ने 10 मुकाबलों में 21 रनों की औसत से 196 रन बनाए। स्टीफन फ्लेमिंग ने न्यूजीलैंड टीम की ओर से 280 वनडे मुकाबले में 8000 से अधिक रन बनाए हैं। किंतु वह अपना इस तरह का प्रदर्शन आईपीएल में नहीं दिखा सके और चेन्नई टीम के कुछ दुर्भाग्यशाली खिलाड़ियों में शामिल हुए।

#2 जेसन होल्डर

Enter caption

वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर क्रिकेटर जेसन होल्डर चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से आईपीएल में खेल चुके हैं। 2013 के आईपीएल सीजन में उन्हें चेन्नई की टीम में चुना गया था। किंतु वे चेन्नई सुपर किंग्स टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके, जेसन होल्डर में 6 मुकाबले खेले, जिसमें वे मात्र 2 विकेट ले सके। जेसन होल्डर ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वेस्टइंडीज की ओर से खेलते हुए वनडे मुकाबलों में 1000 से अधिक रन और 119 विकेट लिए हैं, जो उनके शानदार खिलाड़ी होने का गुण दर्शाता है। किंतु चेन्नई सुपर किंग्स टीम में रहते हुए उन्हें खेलने के काफी कम मौके दिए गए, जिस कारण वह दुर्भाग्यशाली रहे।

#1 टिम साउदी

Enter caption

टिम साउदी को न्यूजीलैंड के सबसे घातक गेंदबाजों में एक माना जाता है, टिम साउदी काफी तीव्र गति से गेंदबाजी करते हैं जिन्होंने 2015 के वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड टीम को फाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी। 2011 के आईपीएल में टीम साउदी को चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलने का मौका दिया गया किंतु वह नाकाम रहे। इस दौरान टीम साउदी पांच मुकाबलों में मात्र 4 विकेट ले सके। चेन्नई सुपर किंग्स से जाने के बाद वे अन्यआईपीएल टीमों का हिस्सा रह चुके हैं, जहां उनका प्रदर्शन पहले की तुलना में काफी अच्छा रहा। न्यूजीलैंड टीम के लिए टीम साउदी अभी तक वनडे मुकाबलों में 180 से अधिक विकेट और टी-20 मुकाबले में 67 विकेट ले चुके हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment