COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

ऑल टाइम आईपीएल कप्तानों पर एक नजर

19   //    04 Aug 2018, 11:21 IST

आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) दुनिया की सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट लीग है। आईपीएल ने अपनी शुरुआत से ही विश्व क्रिकेट को कई प्रतिभाशाली कप्तान दिए हैं। एक टीम की सफलता न केवल खिलाड़ियों के व्यक्तिगत प्रदर्शन पर बल्कि उस टीम के कप्तान की रणनीतिक सूझबूझ पर भी निर्भर करती है। शेन वॉर्न और एडम गिलक्रिस्ट की अदभुत कप्तानी में राजस्थान रॉयल्स और डेक्कन चार्जर्स ने आईपीएल के पहले और दूसरे सत्र जीते थे।

यह दोनो सत्र इस बात कण उदाहरण हैं कि विदेशी कप्तान भी भारतीय कप्तान की तरह शानदार प्रदर्शन करने में सक्षम हैं। उसके बाद आईपीएल के तीसरे सत्र में महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल खिताब जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान बने थे। धोनी ने आईपीएल 2011 और 2018 में भी खिताबी जीत दर्ज कर अपनी टीम को तीन आईपीएल ख़िताब जिताये। धोनी के अलावा केवल रोहित शर्मा दूसरे ऐसे भारतीय कप्तान बने जिन्होंने अपनी टीम को तीन बार आईपीएल ख़िताब जिताया। तो आइये आईपीएल के बेहतरीन कप्तानों की एकादश पर एक नज़र डालें:

#1. डेविड वॉर्नर



2009 में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज ने आईपीएल में दो फ्रेंचाइजियों
का प्रतिनिधित्व किया है। वह शुरुआत में दिल्ली डेयरडेविल्स का हिस्सा थे लेकिन 2014 में सनराइज़र्स हैदराबाद में चले गए। दरअसल सनराइज़र्स हैदराबाद के लगातार निराशाजनकप्रदर्शन के बाद टीम प्रबंधन ने उन्हें आईपीएल 2015 में कप्तान नियुक्त किया था। उस आईपीएल सीज़न में उन्होंने टीम का अच्छा नेतृत्व किया था लेकिन टीम प्लेऑफ में जगह बनाने में विफल रही।

उसके बाद अगले सीज़न में वॉर्नर की करिश्माई कप्तानी में सनराइज़र्स ने आईपीएल 2016 का ख़िताब जीता। कप्तान वॉर्नर ने ज़बरदस्त बल्लेबाज़ी करते हुए 17 मैचों में शानदार 848 रन बनाए थे और वह उस सीज़न के दूसरे सबसे ज्यादा रन स्कोरर रहे थे। कप्तान के रूप में उनकी नियुक्ति ने फ्रेंचाइज़ी के साथ-साथ उनके क्रिकेट करियर के लिए भी बहुत अहम साबित हुई।

डेविड वॉर्नर आईपीएल 2018 में प्रतिबंध की वजह से नहीं खेल पाए लेकिन एक कप्तान के रूप में हैदराबाद फ्रैंचाइजी उनके टीम में वापिस आने की तलबगार होगी।

आईपीएल में कप्तान के रूप में डेविड वॉर्नरका रिकॉर्ड:

मैच- 47, जीत- 25, हार- 22, जीत% = 57.00

#2. गौतम गंभीर



राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले धमाकेदार बल्लेबाज गौतम गंभीर ने 2 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है। 2008 की आईपीएल नीलामी में, दिल्ली डेयरडेविल्स ने उन्हें वीरेंदर सहवाग के साथ अपनी टीम में शामिल किया था। दिल्ली फ्रेंचाइजी ने सहवाग को आईपीएल के पहले सीज़न में अपनी टीम का कप्तान नियुक्त किया था। गंभीर ने 2011 में कोलकाता नाइट राइडर्स में शामिल होने से पहले अपनी घरेलू टीम डेयरडेविल्स का भी नेतृत्व किया। कोलकाता ने गंभीर को आईपीएल के चौथे सत्र में कप्तान नियुक्त किया और अपने नेतृत्व में गंभीर ने आईपीएल 2012 के फाइनल में चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर टीम को पहला आईपीएल खिताब जिताया था।

उसके बाद आईपीएल सीज़न 2014 में कोलकाता ने फाइनल में किंग्स इलेवन पंजाब को हराकर अपना दूसरा खिताब जीता। आईपीएल 2018 में गंभीर अपनी घरेलू टीम में वापिस आये लेकिन उनके लिए यह सीज़न अच्छा नहीं रहा।

गौतम गंभीर का आईपीएल में कप्तान के रूप में रिकॉर्ड:

मैच- 129, जीत- 71, हार- 57, जीत% = 55.03

#3. विराट कोहली



2008 में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले भारतीय कप्तान आईपीएल के इतिहास में सिर्फ एक ही फ्रेंचाइजी के लिए खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी है। आरसीबी ने 2011 में डैनियल विटोरी की जगह विराट को पहली बार कप्तान नियुक्त किया था। अपनी कप्तानी के पहले सीजन में, विराट कोहली के नेतृत्व में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम आईपीएल 2011 के फाइनल में पहुंची और उपविजेता रही थी। आईपीएल सीज़न 2016 में उन्होंने 16 मैचों में 973 रन बनाकर ऑरेंज कैप पर कब्ज़ा जमाया। आप को बता दें कि आईपीएल के इतिहास में विराट कोहली कुल 163 मैचों में 4948 रन बनाकर दूसरे सबसे बड़े रन स्कोरर हैं।

हालांकि आरसीबी अभी तक आईपीएल का ख़िताब जीत नहीं  पाई है, लेकिन कप्तान कोहली अपने नेतृत्व में टीम को ख़िताब जिताने के लिए उत्सुक हैं।

विराट कोहली का कप्तान के रूप में आईपीएल रिकॉर्ड:

मैच- 96, जीत- 44, हार- 47, कोई परिणाम नहीं- 3, टाइड- 2, जीत% = 45.83

#4. रोहित शर्मा



2008 में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले भारतीय उप-कप्तान ने 2 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है। 2008 से वह बल्लेबाज के रूप में डेक्कन चार्जर्स का हिस्सा थे लेकिन फिर 2011 की आईपीएल नीलामी में उन्हें मुंबई ने खरीद लिया। मुंबई ने उन्हें रिकी पोंटिंग को जगह 2013 में टीम का कप्तान नियुक्त किया। अपनी कप्तानी के पहले ही सीज़न में रोहित ने अपनी टीम को पहला आईपीएल ख़िताब जीता दिया। आईपीएल सीज़न 2014 में, धीमी शुरुआत के बावजूद रोहित ने मुंबई को प्लेऑफस तक पहुँचाया।उसके बाद उनके नेतृत्व में मुंबई ने 2015 और 2017 का आईपीएल ख़िताब अपने नाम किया।

इसके अलावा कप्तान के रूप में उनके बढ़िया प्रदर्शन को देखते हुए रोहित को भारतीय टीम का उप-कप्तान बनाया गया।
रोहित शर्मा का आईपीएल कप्तान के रूप में रिकॉर्ड:

मैच- 89, जीत- 51, हार- 37, कोई परिणाम नहीं- 1, जीत% = 57.31

#5. युवराज सिंह



2008 में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले भारत के अनुभवी ऑलराउंडर युवराज सिंह ने अब तक के अपने आईपीएल करियर में 5 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है।

आईपीएल सीज़न 2008 में उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब को प्लेऑफ में पहुंचाया था। लगातार दो आईपीएल सत्रों में अपनी घरेलू टीम की कमान संभालने के बाद 2011 में उनको हटाकर श्रीलंका के संगाकारा को किंग्स इलेवन का कप्तान बनाया गया था। उसके बाद आईपीएल सीज़न 2011 में युवी पुणे वॉरियर्स इंडिया में चले गए जहां उन्हें कुछ मैचों में टीम की कप्तानी करने का मौका मिला हालाँकि युवी आईपीएल में अपनी कप्तानी में कभी भी टीम को फाइनल में नहीं पहुँचा पाए। 2014 की आईपीएल नीलामी में आरसीबी ने उन्हें 14 करोड़ की महंगी कीमत पर अपनी टीम में शामिल किया। हालाँकि उसके बाद उनका प्रदर्शन निरंतर गिरता गया।

युवराज सिंह का आईपीएल कप्तान के रूप में रिकॉर्ड:

मैच- 43, जीत- 21, हार- 21, कोई परिणाम नहीं- 1, जीत% = 48.83

#6. शेन वॉटसन



2008 में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मैच से अपने आईपीएल करियर की शुरुआत करने वाले ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वॉटसन ने 3 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है। स्टीव स्मिथ को कप्तानी सौंपे जाने से पहले वह काफी समय तक राजस्थान रॉयलस के कप्तान रहे हैं।

आईपीएल सीज़न 2015 में उन्होंने राजस्थान को सेमीफाइनल में पहुंचने में बेहद अहम भूमिका निभाई थी। उसके बाद आईपीएल सीज़न 2017 में उन्हें कुछ मैचों में अपनी नई टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का नेतृत्व करना का भी मौका मिला। हालाँकि शेन वॉटसन ने आईपीएल सीज़न 2018 में अपने आईपीएल करियर का बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपनी नई टीम चेन्नई सुपर किंग्स की खिताबी जीत में सूत्रधार की भूमिका निभाई। इस साल हुए आईपीएल में उन्होंने हैदराबाद के खिलाफ फाइनल मैच में नाबाद शतक लगाकर चेन्नई को अपना तीसरा आईपीएल खिताब जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

इसके अलावा शेन वॉटसन के पास टी20 में ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी करने का भी खासा अनुभव है।

शेन वॉटसन का आईपीएल में कप्तान के रूप में रिकॉर्ड:

मैच - 24, जीत- 8, हार- 1, कोई परिणाम नहीं- 1, टाइड -2, जीत% = 39.13

#7. एमएस धोनी



जब भी आईपीएल के महान कप्तानों की बात आती है, तो एमएस धोनी आईपीएल इतिहास के सर्वश्रेष्ठ कप्तान रहे हैं। आईपीएल के पहले सीज़न से ही उन्होंने चेन्नई सुपरकिंग्स का नेतृत्व किया है। पहले सीज़न में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ आईपीएल की शुरुआत करने वाले पूर्व भारतीय कप्तान ने 2 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है।

धोनी आईपीएल ट्रॉफी जीतने वाला पहले भारतीय कप्तान है। 2010 में, एमएस धोनी के नेतृत्व वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को हराकर पहली बार ख़िताब पर कब्ज़ा जमाया था। अगले आईपीएल सीज़न में भी उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 58 रनों ने मात देकर लगातार दूसरी बार चेन्नई सुपरकिंग्स को ख़िताब जिताया। अपनी टीम को लगातार दो आईपीएल ख़िताब जिताने का कारनामा करने वाले वह पहले और एकमात्र कप्तान हैं। इसके अलावा आईपीएल के इतिहास में चेन्नई एकमात्र ऐसी टीम है जिसने हर सीज़न में प्लेऑफस में जगह बनाई है।

ग़ौरतलब है कि एमएस धोनी और रोहित शर्मा आईपीएल के इतिहास में केवल दो ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने तीन बार आईपीएल का ख़िताब जीतने में सफलता हासिल की है।

आईपीएल में कप्तान के रूप में धोनी का रिकॉर्ड:

मैच- 159, जीत- 94, हार- 64, कोई परिणाम नहीं- 1, जीत% = 59.11

#8. शॉन पोलक



आईपीएल के पहले सीज़न में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ अपने आईपीएल करियर की शुरुआत करने वाले दक्षिण-अफ्रीकी ऑलराउंडर शॉन पोलक ने मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्व किया है। 2000 में हेन्सी क्रोनिए के टीम से बाहर होने के बाद शॉन पोलक उनकी राष्ट्रीय टीम का कप्तान बनाया गया था। उसके बाद 2003 के विश्व कप से दक्षिण अफ्रीका के बाहर होने के बाद पोलक को हटाकर ग्रीम स्मिथ को कप्तानी की ज़िम्मेवारी सौंपी गई थी।

पोलक ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में लगभग 7300 रन बनाए हैं। 2008 की आईपीएल नीलामी में पोलक को मुंबई इंडियंस ने अपनी टीम में शामिल किया था। उन्होंने सचिन तेंदुलकर और हरभजन सिंह की अनुपस्थिति में मुंबई का नेतृत्व भी किया है। उन्हें 2011 में आयोजित हुई चैंपियंस ट्रॉफी से पहले मुंबई टीम का कोच नियुक्त किया गया था और उनके मार्गदर्शन में ही मुंबई ने चैंपियंस लीग जीतने में सफलता हासिल की थी।

आईपीएल कप्तान के रूप में शॉन पोलक का रिकॉर्ड:

मैच- 4, जीत- 3,हार -1, जीत% = 75.00

#9. शेन वॉर्न



2008 में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ अपने आईपीएल करियर की शुरुआत करने वाले ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने लगातार 4 सत्रों में राजस्थान का प्रतिनिधित्व किया है। राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल के पहले सीज़न के लिए शेन वॉर्न को कप्तान के रूप में नियुक्त किया था। अपनी कप्तानी में उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए टीम को पहला और एकमात्र आईपीएल ख़िताब जिताया।

पहले सीज़न में युवा खिलाड़ियों से भरी राजस्थान टीम को उन्होंने हर मैच में अपनी पूरी ताकत झोंकने के लिए प्रेरित किया। सेमीफइनल और फाइनल मुकाबले में उनकी बेहतरीन गेंदबाज़ी ने ख़िताबी जीत का मार्ग प्रशस्त किया। पहले आईपीएल सीज़न के सेमी-फइनल में उन्होंने विस्फोटक बल्लेबाज़ों से सजी दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम को सिर्फ 87 रनों पर ढेर कर फाइनल में जगह बनाई। फाइनल मैच में राजस्थान रॉयल्स और धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स के बीच रोमांचक मुकाबला देखने को मिला। आख़िरी ओवर में सबकी साँसे थम गई थीं लेकिन कप्तान शेन वॉर्न ने सोहेल तनवीर के साथ मिलकर टीम को जीत दिला दी थी।

हालाँकि शायद किसी को भी शेन वॉर्न के नेतृत्व में राजस्थान रॉयल्स के ख़िताब जीतने की उम्मीद नहीं थी लेकिन ऑस्ट्रेलिया के इस महान गेंदबाज़ के करिश्माई नेतृत्व में राजस्थान रॉयल्स ने अपनी एकमात्र आईपीएल ख़िताब जीता। उन्होंने 2011 तक राजस्थान रॉयल्स के लिए खेला और कुल 55 आईपीएल मैचों में, 7.27 की किफायती इकोनॉमी रेट से 57 विकेट लिए।

आईपीएल में कप्तान के रूप में शेन वॉर्न का रिकॉर्ड:
मैच- 55, जीत- 30, हार- 24, टाइड -1, जीत% = 54.54

#10. अनिल कुंबले


2008 में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अपने आईपीएल करियर की शुरुआत करने वाले पूर्व भारतीय टेस्ट कप्तान अनिल कुंबले ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का प्रतिनिधित्व किया है। उन्हें भारतीय टीम की कप्तानी करने का खासा अनुभव था इसलिए आरसीबी ने आईपीएल सीज़न 2009 में अनिल कुंबले को टीम का कप्तान नियुक्त किया था।

एक कप्तान के रूप में अपने पहले आईपीएल सत्र में, कुंबले ने बैंगलोर को फाइनल तक पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई थी। हालाँकि, फाइनल में डेक्क्न चार्जर्स ने मात्र 6 रनों से जीत दर्ज कर ख़िताब अपने नाम किया था। कप्तान के रूप में उनके 2 साल के कार्यकाल में भारतीय टीम को कई युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी मिले।

अनिल कुंबले ने आईपीएल सीज़न 2010 के बाद क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी जिसके बाद विराट कोहली ने आरसीबी की कमान संभाली। आंकड़ों की बात करें तो कुंबले ने 42 मैचों में, 6.58 की बढ़िया इकोनॉमी रेट से 45 विकेट लिए हैं।

मैच- 26, जीत- 15, हार-11, जीत% = 57.69

#11. ज़हीर ख़ान



 

आईपीएल सीज़न 2008 में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ अपने आईपीएल करियर की शुरुआत करने वाले ज़हीर ख़ान ने 3 आईपीएल फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्व किया है। किसी आईपीएल टीम की कप्तानी करने वाले वह एकमात्र भारतीय तेज़ गेंदबाज़ हैं। उन्हें आईपीएल के पहले सीज़न में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपनी टीम में शामिल किया था लेकिन उसके बाद वह मुंबई इंडियंस में चले गए और फिर 2011 में आरसीबी में लौट आए। मुंबई इंडियंस ने 2014 की आईपीएल नीलामी में उन्हें फिर से अपनी टीम में चुना। 2015 में दिल्ली डेयरडेविल्स ने उन्हें खरीदा और आगे चल कर अपनी टीम का कप्तान भी बनाया।

आंकड़ों की बात करें तो ज़हीर ने कुल 100 आईपीएल मैचों में शिरकत की है और 7.59 की अच्छी इकोनॉमी रेट के साथ 102 विकेट लिए हैं। हालाँकि चोटों के कारण ज़हीर ज्यादातर टीम से बाहर रहे। उन्होंने आईपीएल सीज़न 2016 और 2017 में दिल्ली डेयरडेविल्स का नेतृत्व किया।

आईपीएल कप्तान के रूप में ज़हीर ख़ान का रिकॉर्ड:

मैच- 23, जीत- 10, हार- 13, जीत% = 43.50

 

लेखक: मद्रास चरण
अनुवादक: आशीष कुमार

Fetching more content...