Create
Notifications

IPL नीलामी 2017: 5 खिलाड़ी जिन्हें शायद कोई भी टीम न खरीदे

जितेंद्र तिवारी
visit

बंगलौर में 20 फरवरी को आईपीएल 2017 की नीलामी में 351 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इसमें अंतर्राष्ट्रीय स्तर के सितारों के अलावा घरेलू खिलाड़ी भी शामिल होंगे। इस दौरान कई ऐसे खिलाड़ी(खासकर इंग्लैंड के) हैं, जिनकी ऊंची बोली लग सकती है। तो वहीं कई ऐसे अनलकी खिलाड़ी हैं, जिन्हें कोई खरीददार नहीं मिल सकता है। जो खिलाड़ी इस बार नहीं बिक सकते हैं, उसका कारण उनकी उम्र, बेस प्राइस और टीम उनका फिट नहीं बैठना है। आइये इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि कौन इस बार नहीं बिक सकता है: ब्रेड हैडिन एडम गिलक्रिस्ट के बाद ब्रेड हैडिन उनकी विरासत को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में बढ़ाने का काम किया। अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू टी-20 में हैडिन बतौर आक्रामक विकेटकीपर बल्लेबाज़ जाने जाते रहे हैं। हैडिन ने 91 मैचों में बेहतरीन औसत के साथ रन बनाये हैं। लेकिन वह आईपीएल में उतने सफल नहीं रहे हैं। 39 वर्षीय इस बल्लेबाज़ ने डेढ़ करोड़ रुपये इस बार अपना बेस प्राइस रखा है। इनके अलावा इस बार नीलामी में 13 अन्य अंतर्राष्ट्रीय विकेटकीपर भी शामिल हैं। हैडिन के न बिकने की वजह ये भी है कि उनकी उम्र 39 बरस है, साथ ही आईपीएल की सभी टीमों में सिर्फ एक ही विशेषज्ञ विकेटकीपर हैं। इसके अलावा टीमों ने कई बल्लेबाजों को ही काम चलाऊ विकेटकीपर के रूप में इस्तेमाल किया है। ऐसे में आईपीएल टीमें उन्हें खरीदने से हिचकिचाहट दिखा सकती हैं। मार्लोन सैमुएल्स कई खिलाड़ी जिनका प्राइस टैग ऐसा होता है कि उन्हें टीमें खरीदने से दूर रहती हैं। मार्लोन सैमुएल्स को लेकर आईपीएल में ऐसा ही परसेप्शन बना हुआ है। दो बार टी-20 वर्ल्डकप के फाइनल मैच में सैमुएल्स मैन ऑफ़ द मैच रह चुके हैं। फिर भी बीते कई सीजन से मार्लोन को आईपीएल में कोई खरीददार नहीं मिला है। आखिरी बार सैमुएल्स पुणे वारियर इंडिया की तरफ से खेले थे। इस बार उनका बेस प्राइस 1 करोड़ रुपये है। लेकिन इस 36 वर्षीय ऑलराउंडर को कोई खरीददार मिलता है। ये संदिग्ध बना हुआ है। काइल एबाट 29 बरस की उम्र में काइल एबाट ने मात्र 60 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले थे। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के बजाय इंग्लिश काउंटी के साथ कोल्पक डील हैम्पशायर के लिए साइन कर लिया। वह एक बेहतरीन टी-20 गेंदबाज़ थे। उनका बेस प्राइस इस बार आईपीएल में डेढ़ करोड़ है लेकिन वह बिके इसका कोई ठिकाना नहीं है। एबाट का करियर पिछले साल पंजाब के साथ शानदार रहा था। लेकिन उनके अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को छोड़ने की वजह से टीमें उन्हें कम तरजीह दे सकती हैं। क्योंकि काउंटी की चैंपियनशिप की तारीखें आईपीएल से मैच भी करती हैं। ऐसे में उनके बिकने के आसार बेहद कम हैं। एंजेलो मैथ्यूज आईपीएल 2015 में मैथ्यूज को साढ़े सात करोड़ रोये में दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा था। उसके बाद अगले साल उन्हें दिल्ली ने रिलीज कर दिया था। श्रीलंकाई टीम के कप्तान ने इस बार अपना बेस प्राइस 2 करोड़ रुपये सेट किया है। लेकिन आईपीएल में उनका रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। जिसकी वजह से इस ऑलराउंडर को खरीददार मिलना मुश्किल हो सकता है। चोट और उनके पिछले प्रदर्शन को अगर गौर से देखा जाये तो मैथ्यूज को टीमें इसलिए भी नहीं खरीदना पसंद करेंगी क्योंकि वह विदेशी खिलाड़ी होने के नाते टीम का संतुलन खराब कर देते हैं। नाथन लियोन नाथन लियोन के खिलाफ बल्लेबाज़ी करना आसान काम नहीं माना जाता है। लेकिन लियोन ने अपने करियर में अभी तक मात्र 7 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं। 29 वर्षीय इस ऑलराउंडर का रिकॉर्ड टेस्ट में बेहतर रहा है। लेकिन आईपीएल में अभी तक उन्हें किसी टीम ने अपनी तरफ शामिल नहीं किया है। इस बार उन्होंने अपना बेस प्राइस डेढ़ करोड़ रुपये सेट किया है। लेकिन उन्हें कोई टीम शायद ही खरीदेगी। इमरान ताहिर, ब्रेड हाज, इश सोढ़ी और आदिल राशिद के होने से नाथन लियोन को नीलामी में कड़ी टक्कर मिल रही है। इसके अलावा मिचेल सैंटनर, पवन नेगी, कर्ण शर्मा जैसे स्पिन गेंदबाज़ भी शामिल होंगे। जिनका बेस प्राइस 50 लाख से भी कम है। ऐसे में लियोन जो टेस्ट में 250 से ज्यादा विकेट ले चुके हैं। उन्हें कोई टीम खरीदती नजर आ रही है।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now