Create

10 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जिन्होंने अपने आईपीएल करियर में सिर्फ एक ही मैच खेला 

Feature

आईपीएल क्रिकेट की एक ऐसी प्रतियोगिता है, जिसमें एक बार खेलना दुनिया के हर क्रिकेटर का सपना होता है। क्योंकि इस टूर्नामेंट के जरिए कुछ चेहरे रातों-रात स्टार बन जाते हैं, भले ही वह अपने देश की टीम की ओर से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कुछ खास न कर सकें। वैसे तो इस टूर्नामेंट में दुनिया की लगभग हर टीम के बेहतरीन खिलाड़ी हर साल शामिल होते हैं।

लेकिन आज हम आपको 10 ऐसे दिग्गज अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटरों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने आईपीएल करियर में केवल एक ही मैच खेला है और उसके बाद वह आईपीएल से बाहर हो गए। जानिए कौन हैं वो दस विदेशी खिलाड़ी-

अब्दुर रज्जाक

Abdul Razzak

बांग्लादेश के अब्दुर रज्जाक ने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में 154 एकदिवसीय मैच, 13 टेस्ट मैच और 34 टी20 मैच खेले और लाजवाब प्रदर्शन किया है लेकिन दुर्भाग्यवश उन्हें अपने आईपीएल करियर में केवल एक मैच ही खेलने का मौका मिला है। रज्जाक ने 2008 के आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से शुरुआत की, जिसमें उन्होंने बल्लेबाज में कोई खास कमाल नहीं दिखाया और गेंदबाजी में भी दो ओवर में उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 29 रन लुटाए थे। इसके बाद वह इस प्रतियोगिता में दोबारा कभी नहीं दिखाई दिए।

यूनिस खान

Yunis Khan

यूनिस खान ने भी अपने आईपीएल करियर में केवल एक ही मैच खेला है। पाकिस्तानी खिलाड़ी यूनिस ने आईपीएल की शुरुआत 2008 में राजस्थान रॉयल्स के साथ आरसीबी के खिलाफ की थी। राजस्थान ने आईपीएल का पहला सीजन जीता भी था। हालांकि यूनिस को राजस्थान की ओर से केवल एक ही मैच खेलने का मौका मिला, जिसमें उनका बल्ला कुछ कमाल नहीं दिखा सका। यूनिस ने उस मैच में 7 गेदों में केवल 3 रन बनाए और शायद यही वजह थी कि वह उनके आईपीएल करियर का एकमात्र मैच साबित हुआ।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

आंद्रे नेल

Andre nel

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज आंद्रे नेल को भी आईपीलए करियर में केवल एक ही मैच खेलने का मौका मिला। नेल ने 2008 के सीजन में मुंबई इंडियंस के साथ शुरुआत की थी। मुंबई ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए सनथ जयसूर्या के 66 रन की बदौलत 8 विकेट पर 176 का स्कोर खड़ा किया। आंद्रे नेल ने उस मैच में गेंदबाजी के दौरान 3 ओवर फेंके और 10.33 की इकॉनमी रेट से 31 रन लुटाए। उन्होंने इस दौरान दिल्ली के बल्लेबाज गौतम गंभीर का विकेट भी चटकाया लेकिन फिर भी मुंबई यह मैच हार गई और आंद्रे नेल भी फिर दोबारा आईपीएल में कभी नहीं दिखे।

डेमियन मार्टिन

Demein Martyn

ऑस्ट्रेलिया के डेमियन मार्टिन ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत 2010 में की थी। राजस्थान रॉयल्स के साथ उन्होंने अपना पहला और अंतिम मैच चिन्नास्वामी स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ खेला था। इस मैच में डेमियन ने राजस्थान रॉयल्स के लिए 24 गेंद पर 19 रन ही बनाए थे और उस पारी में राजस्थान की टीम 92 पर ऑल आउट हो गई थी और बैंगलोर की टीम ने आसानी से मैच जीत लिया और यह खिलाड़ी भी आईपीएल से बाहर हो गया।

मशरफे मुर्तजा

M

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के कप्तान मशरफे मुर्तजा ने आईपीएल 2009 में कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर पदार्पण किया और डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ अपना एक मात्र मैच खेला था। उस मैच में केकेआर ने 20 ओवर में ब्रैड हॉज और डेविड हसी की पारी बदौलत 160/5 का स्कोर खड़ा किया था। इस मैच में मुर्तजा ने 4 ओवर में 14.50 की औसत से 58 रन लुटाए थे। इस मैच में डेक्कन चार्जर्स ने केकआर पर जीत हासिल की और मुर्तजा को उनकी खराब फॉर्म की वजह से बाहर कर दिया गया।

ब्रैड हैडिन

Brad Haddin

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रैड हैडिन ने 2011 के आईपीएल में केकेआर की ओर से ईडन गार्डन्स में अपना एकमात्र मैच खेला था। उन्होंने अपनी टीम के लिए 2 चौके और 1 छक्के के साथ 18 रनों की तूफानी पारी खेली थी। उस मैच में केकेआर के गौतम गंभीर की अच्छी पारी की बदौलत टीम ने 171 रनों का स्कोर खड़ा किया था लेकिन रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के क्रिस गेल के तूफान में केकेआर की टीम ढह गई। इस मैच में गेल ने 55 गेंदों पर 102 रनों की धुआंधार पारी खेली थी और यह मैच जीत लिया था।

डग ब्रेसवेल

Doug Bracewell

2012 के आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से डग ब्रेसवेल ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ शुरुआत की थी। उस मैच में आरसीबी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 157 पर 8 विकेट का स्कोर खड़ा किया था। न्यूजीलैंड के ब्रेसवेल ने मैच में 4 ओवर फेंके और 32 रन पर 3 विकेट भी हासिल किए और बाद में उन्होंने दिल्ली के लिए नाबाद 12 रनों की नाबाद पारी भी खेली थी लेकिन फिर भी वह अपनी टीम को जीत की लाइन के ऊपर नहीं ले जा सके और शायद इसी कारण वह आईपीएल में एकमात्र मैच खेलकर बाहर हो गए।

डैरेन ब्रावो

Darren Bravo

ड्वेन ब्रावो जहां आईपीएल इतिहास के सबसे ज्यादा सफल खिलाड़ियों में से एक साबित हुए हैं, वहीं उनके भाई डैरेन ब्रावो कुछ खास नहीं कर सके। डैरेन ने 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट के खिलाफ अपना एकमात्र मैच खेला। इस मैच में पुणे की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 182 रनों का स्कोर खड़ा किया। इस मैच में केकेआर के गंभीर और उथप्पा अपनी टीम को जीत के करीब लाए लेकिन अंत में डैरेन जीत के लिए 4 रन भी नहीं बना सके और केकेआर यह मैच हार गई। यही कारण रहा कि ब्रावो के लिए वह आखिरी मैच साबित हुआ।

अकिला धनंजय

Akila Dananjaya

श्रीलंका के ऑफ स्पिनर अकिला ने आईपीएल में अपना एकमात्र मैच 2018 में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 14 अप्रैल 2018 को खेला। इस मैच में मुंबई ने 20 ओवर में 194 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। धनंजय इस मैच में मुंबई की ओर से अपनी गेंदबाजी के जरिए कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके और बल्लेबाजी में भी फ्लॉप रहे। शायद यही कारण रहा कि वह आईपीएल में एक मैच खेलने के बाद गायब हो गए।

माइकल नेसर

Michel Neser

ऑस्ट्रेलिया के माइकल नेसर ने भी 2013 में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से अपने आईपीएल करियर का एकमात्र मैच खेला। उन्होंने आरसीबी के खिलाफ 4 ओवर में 62 रन लुटाए। हालांकि डेविड मिलर के शतक की बदौलत पंजाब की टीम ने आरसीबी पर जीत दर्ज की लेकिन नेसर के खराब प्रदर्शन की वजह से उन्हें फिर कभी आईपीएल खेलने का मौका नहीं मिला।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment