Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2018: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ एकादश

Rahul Pandey
ANALYST
Modified 01 Mar 2018, 18:45 IST
Advertisement

  आईपीएल अपने दूसरे दशक में प्रवेश कर रहा है और अब तक की सबसे रोमांचक खबर चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की दो साल के निलंबित के बाद वापसी होने की है। यह दोनो ही दिग्गज आईपीएल टूर्नामेंट में एक बार से धमाकेदार वापसी करने की कोशिश करेंगे। दूसरी ओर आरसीबी आईपीएल 2018 में एक नई शुरुआत करने की उम्मीद कर रहा है और भारत के 2011 के विश्व कप के विजेता कोच गैरी कर्स्टन और पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा को क्रमशः अपने बल्लेबाजी और गेंदबाजी कोच के रूप में शामिल किया है। वर्तमान में विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को आईपीएल के किसी भी संस्करण में सफलता नहीं मिली है। वह सभी फ्रैंचाइजी में से सबसे दुर्भाग्यशाली टीम रही है। 2009, 2011 और 2016 में तीन मौकों पर बैंगलोर उपविजेता रहे हैं और ख़िताब के पास हो कर भी जीत न सके हैं। आरसीबी परंपरागत रूप से एक भरी भरकम बैटिंग क्रम वाली टीम रही है, लेकिन उनके सामान्य गेंदबाजी आक्रमण ने उन्हें हर बार निराश किया है। इस सूची में उन खिलाड़ियों को शामिल किया गया है जिन्होंने टीम पर अपने प्रदर्शन के माध्यम से सकारात्मक प्रभाव डाला है और फ्रैंचाइज़ी के लिए कम से कम 2 सीज़न खेले हैं। नोट: टीम में सात भारतीय क्रिकेटर और चार विदेशी शामिल हैं:

सलामी बल्लेबाज़

# 1 क्रिस गेल

  टी 20 के इतिहास में सबसे अधिक विस्फोटक सलामी बल्लेबाजों में से एक, क्रिस गेल, 2011 में रॉयल चैलेंजर्स में डर्क नानेस के चोटिल होने पर शामिल हुए थे। बीच सीजन में टीम में शामिल होने के बाद भी, उन्होंने 12 पारियों में 188 रन की स्ट्राइक रेट के साथ 608 रन बनाए, जिसमें 2 शतक शामिल थे। 2012 और 2013 के अगले दो संस्करणों में, उन्होंने क्रमशः 600 से अधिक रन बनाए और वह भी 150 की स्ट्राइक रेट के साथ। लेकिन पिछले सीज़न में, वह वैसा प्रदर्शन करने में असमर्थ रहे थे और इसके परिणामस्वरूप 2018 की नीलामी से पहले उन्हें फ्रैंचाइजी द्वारा बनाए नही रखा गया था। वह इस साल अप्रैल में किंग्स इलेवन पंजाब की जर्सी में खेलते नज़र आएंगे।  

# 2 विराट कोहली

Advertisement
  खेल के सभी तीन प्रारूपों के मौजूदा भारतीय कप्तान और आईपीएल के इतिहास में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी विराट कोहली ने बेंगलुरु स्थित इस फ्रैंचाइजी के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। दाएं हाथ के इस भारतीय टीम के कप्तान ने 2008 के आईसीसी अंडर -19 विश्व कप जीता और 2008 में नीलामी के बाद आरसीबी द्वारा युवा खिलाड़ी अनुबंध के एक हिस्से के रूप में टीम में शामिल किये गये। आरसीबी के लिये 5-वें नंबर पर बल्लेबाज़ी करने से लेकर बतौर पारी की शुरुआत करने तक कोहली की बतौर खिलाड़ी एक कमाल की कहानी रही है। यह बेहतरीन बल्लेबाज़ बैंगलोर की ओर से शुरू से ही खेलता रहा है, और उनके लिए 148 मैचों में खेल चुके है। उन्होंने 10 संस्करणों में 35.90  की एक प्रभावशाली औसत के साथ आरसीबी के लिये कुल 4,129 रन बनाए हैं।
1 / 6 NEXT
Published 01 Mar 2018, 18:45 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit