Create
Notifications

आईपीएल टैलेंट हंट का सट्टेबाजों से सम्बंध, 68 लाख रूपये की फिक्सिंग

Rahul
visit

इंडियन प्रीमियर लीग टैलेंट हंट स्कैम की जाँच मुंबई पुलिस द्वारा की जा रही है और हाल ही में उन्होंने इस स्कैम में एक सट्टेबाज को शामिल पाया है। मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच ने सट्टेबाज का नाम विजय बरहटे बताया है। विजय आईपीएल की टीम सनराइजर्स हैदराबाद के पूर्व टैलेंट हंट पार्टनर थे और उन्होंने वर्तमान समय में मुंबई के तक़रीबन 30 युवा खिलाड़ियों को आईपीएल और रणजी ट्रॉफी में खिलाने को लेकर अपने झांसे में फसाया है। मुंबई पुलिस ने विजय के साथ दो और लोगों को इस स्कैम में शामिल पाया है। इस स्कैम में जीवन मुकदम और दिनेश मोरे शामिल पाए गए हैं। इस स्कैम के दौरान यह भी सुचना मिली कि विजय लगातार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के कुख्यात सट्टेबाज प्रियांक सक्सेना के साथ संपर्क में रहे। विजय समेत तीनों ही सट्टेबाज नए युवा खिलाड़ियों को ट्रेनिंग कैम्प में खिलाने के बाद एक ट्रायल मैच करवाते है और उसके बाद उनसे आईपीएल टीम में जगह दिलाने के लिए 5 से 7 लाख रूपए की मांग करते थे। आईपीएल में टैलेंट हंट के नाम पर फिक्सिंग करने के अलावा इस टूर्नामेंट में कई बार फिक्सिंग के मामले देखे जा चुके है। साल 2013 में भारतीय टीम के पूर्व ख़िलाड़ी एस श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजित चंदीला को राजस्थान की टीम में खेलते समय फिक्सिंग का आरोपी माना गया था। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इन तीनों खिलाड़ियों को पर आजीवन क्रिकेट खेलने पर बैन लगाया गया था। आईपीएल टैलेंट हंट के नाम से फिक्सिंग करने में विजय और उसके दोनों साथियों ने तक़रीबन 68 लाख रुपये सभी युवा खिलाड़ियों से प्राप्त किये है। आईपीएल के प्लेटफार्म से भारतीय क्रिकेट को बहुत से उम्दा ख़िलाड़ी मिले हैं। इसलिए नए ख़िलाड़ी जो क्रिकेट में अपना भविष्य देखते है, वह आईपीएल में खेलने के लिए इस तरह के झांसे में आ जाते हैं। साल 2018 में इस टूर्नामेंट का 11वां संस्करण अप्रैल से मई के बीच खेला जायेगा, जबकि ऑक्शन 27 और 28 जनवरी को प्रदर्शित होगा।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now