हम चाहते हैं कि भारत स्टेडियम बनाने में हमारी मदद करे और हमारे खिलाड़ियों को ट्रेनिंग दे...प्रमुख देश ने मदद की मांग की

Nitesh
ईरान ने भारत से मदद की लगाई गुहार (Photo - ANI)
ईरान ने भारत से मदद की लगाई गुहार (Photo - ANI)

ईरान के अंडर-19 कोच असगर अली रईसी ने अपने देश में स्टेडियम के निर्माण के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड से मदद की मांग की है। ईरान चाबहार में अपना पहला क्रिकेट स्टेडियम बनाना चाहता है और इसके लिए बीसीसीआई से उन्होंने मदद का अनुरोध किया है। इसके अलावा असगर अली ने ये भी कहा है कि वो चाहते हैं कि ईरान के खिलाड़ियों को भारत अपने यहां पर क्रिकेट की ट्रेनिंग दे ताकि वो अच्छी तरह से इस गेम के बारे में सीख सकें।

चाबहार फ्री ट्रेड इंडस्ट्रियल जोन की स्थापना 1992 में हुई थी और यहां पर 40 हेक्टेयर स्पोर्ट्स विलेज के लिए दिया गया है। इसमें 10 हेक्टेयर जमीन क्रिकेट स्टेडियम के लिए एलॉट की गई है, जिसमें 4 हजार लोग बैठ सकते हैं। हालांकि यूएस की तरफ से लगाए गए प्रतिबंधों की वजह से ईरान अपना स्टेडियम बनाने के लिए जरूरी संसाधन नहीं हासिल कर पा रही है। इसी वजह से रईसी ने भारत से मदद की पेशकश की है।

ईरानी खिलाड़ियों के पास क्रिकेट में टैलेंट की कमी नहीं है - असगर अली रईसी

एएनआई से बातचीत के दौरान असगर अली रईसी ने कहा "ईरानी खिलाड़ियों के पास इंटरनेशनल लेवल पर बेहतरीन क्रिकेट खेलने के लिए टैलेंट है। हालांकि इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी की वजह से हम उन्हें ट्रेनिंग नहीं दे पा रहे हैं। मैं चाहता हूं कि स्टेडियम बनाने में भारत हमारी मदद करे ताकि ईरानी खिलाड़ी भी वर्ल्ड क्रिकेट में खुद को साबित कर सकें।"

उन्होंने आगे कहा "हम चाहते हैं कि इंडियन क्रिकेट मैनेजमेंट बीसीसीआई हमारे खिलाड़ियों और अंपायरों को ट्रेन करे ताकि हमारे खिलाड़ी भी अच्छी क्रिकेट खेल सकें। ईरानी खिलाड़ी आईपीएल मैच में भी खेल सकते हैं।"

आपको बता दें कि आईसीसी ने सभी मेंबर्स को 2018 में टी20 का दर्जा दे दिया था। तबसे लेकर अभी तक ईरान ने कई टीमों यूएई, कुवैत और कतर के खिलाफ इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं।

Edited by Nitesh
App download animated image Get the free App now