Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

माही भाई ने मुझे कई बार टीम से बाहर होने से बचाया है: इशांत शर्मा 

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
556   //    Timeless

Enter caption

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा महेंद्र सिंह धोनी के बहुत शुक्रगुजार हैं। उन्होंने बताया कि कई बार माही भाई ने मुझे टीम से बाहर होने से बचाया है। सीनियर होने के नाते करियर में उन्होंने मेरी बहुत मदद की है। घरेलू मैचों में दिल्ली की ओर से खेलने वाले इशांत शर्मा इस बार इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन में दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेलेंगे।

इशांत ने कहा कि सही बताऊं तो मैं पहले सिर्फ अच्छी गेंदबाजी करने की कोशिश करता था। अब मैं अच्छा प्रदर्शन करके ढेरों विकेट चटकाना चाहता हूं। यह सच बात है कि आप चाहे कितनी भी अच्छी गेंदबाजी कर लें अगर आपको लोगों की धारणा बदलनी है तो विकेट लेना ही पड़ेगा। इस वजह से विकेट लेना मेरे लिए ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है। विराट के लिए इशांत ने कहा कि अब कप्तान के रूप में कोहली मेरे पास आते हैं और कहते हैं कि मुझे पता है कि आप थक चुके होंगे लेकिन एक सीनियर होने के नाते आपको गेंदबाजी करनी होगी। मैं उनका पूरा सम्मान करता हूं और अपना बेहतर देने की कोशिश करता हूं।

Enter caption

वनडे टीम से बाहर रहने के सवाल पर इशांत ने कहा कि जो गेंदबाज टेस्ट क्रिकेट में लाल गेंद से बेहतर कर सकता है, उसके पास सफेद गेंद से बेहतर करने की क्षमता भी होती है। हालांकि, अब लोगों की राय ही सब कुछ हो गई है, जिससे खिलाड़ियों को मुश्किल झेलनी पड़ती है। मुझ पर भी सबने टेस्ट गेंदबाज का ठप्पा लगा दिया है। खैर, मैं इन बातों पर ध्यान देने की बजाए अपने क्रिकेट पर फोकस कर रहा हूं। इशांत शर्मा ने 90 टेस्ट मैचों में 34.28 के ऐवरेज से 267 विकेट लिए हैं। वहीं, वनडे में उन्होंने 80 मैच खेले हैं, जिनमें 30.98 के ऐवरेज से 115 विकेट झटके हैं।


Hindi Cricket News सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...