Create

एम एस धोनी की वजह से मैं विजय हजारे ट्रॉफी में शतक लगा पाया: रविंद्र जडेजा

सावन गुप्ता

भारतीय टीम के स्पिनर रविंद्र जडेजा ने विजय हजारे ट्रॉफी में सौराष्ट्र की तरफ से खेलते हुए झारखंड के खिलाफ शानदार शतक लगाया और अपनी टीम को जीत दिलाई। इस शतक के बारे में बात करते हुए जडेजा ने बताया कि वो महेंद्र सिंह धोनी की सलाह की वजह से ही ये शतक लगा पाए। उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया कि चेन्नई सुपर किंग्स की फ्रेंचाइजी ने उन्हें आईपीएल में ज्यादा से ज्यादा बल्लेबाजी के मौके देने की बात कही है। एक अग्रेंजी अखबार से बातचीत में जडेजा ने बताया कि धोनी ने मुझसे कहा कि इस साल के आईपीएल सीजन में मुझे बल्लेबाजी के लिए ज्यादा से ज्यादा मौका मिलेगा। उन्होंने मुझसे कहा कि मेरे अंदर एक पूर्ण बल्लेबाज की योग्यता है और मुझे उसी तरह सोचना चाहिए। जडेजा ने कहा कि इससे मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा। इसलिए अब मैं बल्लेबाजी पर ज्यादा ध्यान दे रहा हूं और बल्लेबाजी में एकंर की भूमिका निभाने की कोशिश कर रहा हूं। उन्होंने आगे कहा कि मैं वो खिलाड़ी नहीं बनना चाहता हूं जो कि सिर्फ 10 या 20 रन ही बना सके। मैं पारी में एक एकंर की भूमिका निभाना चाहता हूं। हालांकि कुछ शॉट्स लगाते समय दर्द भी काफी हुआ लेकिन ये शतक मेरे आत्मविश्वास के लिए काफी अहम था। जडेजा ने कहा कि इससे मेरा भरोसा और बढ़ गया है। विपरीत हालात में लक्ष्य का पीछा करते हुए शतक लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाना काफी खास है।

गौरतलब है विजय हजारे ट्रॉफी में सौराष्ट्र और झारखंड के बीच हुए मुकाबले में रनों का पीछा करते हुए रविंद्र जडेजा ने 116 गेंदों पर नाबाद 113 रन बनाए। उनकी इस पारी की बदौलत सौराष्ट्र की टीम ने 330 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की। जडेजा का लिस्ट ए मैचो में ये दूसरा शतक है। जडेजा ने एक छोर पूरी तरह से संभाले रखा और अपनी टीम को जीत दिलाकर ही लौटे। उन्होंने मध्यक्रम में काफी अच्छे से स्ट्राइक को रोटेट किया और 4 विकेट से अपनी टीम को जीत दिलाई।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...